Nationalwheels

@YESBANK के घोटालेबाज संस्थापक राणा कपूर ने 2 करोड़ में खरीदी थी प्रियंका गांधी की पेंटिंग, कांग्रेस गहरे दबाव में

@YESBANK के घोटालेबाज संस्थापक राणा कपूर ने 2 करोड़ में खरीदी थी प्रियंका गांधी की पेंटिंग, कांग्रेस गहरे दबाव में

एस बैंक घोटाला मामले में भारतीय जनता पार्टी पर हमलावर रही कांग्रेस अब गहरे दबाव में आ गई है

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
एस बैंक घोटाला मामले में भारतीय जनता पार्टी पर हमलावर रही कांग्रेस अब गहरे दबाव में आ गई है. भारतीय जनता पार्टी ने राणा कपूर द्वारा कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा की पेंटिंग खरीदने के लिए 2 करोड़ रुपये देने का मुद्दा उठाकर बाजी पलटने की कोशिश की है. इस मामले में अब कांग्रेस बचाव और सफाई देने की कोशिशों में जुटी हुई है.
यस बैंक मामले में प्रवर्तन निदेशालय लगातार शिकंजा कसते जा रहा है. पेंटिंग खरीद को लेकर प्रवर्तन निदेशालय अब यस बैंक के फाउंडर राणा कपूर के अलावा इस मामले में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी को भी पूछताछ के लिए नोटिस दे सकती है. वहीं, बीजेपी ने कांग्रेस को घेरते हुए कहा है कि भारत में हर वित्तीय अपराध गांधी परिवार से जुड़ा होता है.
टीओआई के मुताबिक, राणा कपूर की गिरफ्तारी के बाद यह जानकारी सामने आई है कि कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की पेंटिंग्स राणा कपूर ने 2 करोड़ रुपये में खरीदी थीं. शनिवार को ईडी के छापे के बाद राणा कपूर को रविवार सुबह गिरफ्तार कर लिया गया.
भाजपा नेता व सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता अश्वनी उपाध्याय ने कहा कि देश जानना चाहता है कि: राणा कपूर और अशोक कपूर के खिलाफ कालाधन, बेनामी संपत्ति और आय से अधिक संपत्ति का केस दर्ज हुआ या नहीं? पेंटिंग से मिले 2 करोड़ रुपये को प्रियंका ने अपना इनकम दिखाया या नहीं? यदि नहीं, तो उनके खिलाफ कौन कौन सी धारा में केस दर्ज हुआ?

बता दें कि शुक्रवार को बीजेपी ने राणा कपूर के साथ पी. चिदंबरम की तस्वीरें दिखाते हुए कांग्रेस पार्टी को घेरा था. यूपीए सरकार के दौरान प्रियंका गांधी की पेंटिंग्स को राणा कपूर ने 2 करोड़ रुपये में खरीदा था. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट भी इस मामले की जांच में जुटा है.
राणा कपूर 11 मार्च तक रहेंगे ईडी की कस्टडी में
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर को करीब 30 घंटे तक पूछताछ के बाद रविवार सुबह गिरफ्तार कर लिया है. 11 मार्च तक वह ईडी की गिरफ्त में ही रहेंगे. ईडी ने शनिवार को राणा कपूर के सुमंद्र महल वाले घर में अपनी जांच रखी. ईडी की जांच में राणा कपूर की पत्नी के साथ उनकी तीनों बेटियां भी शामिल हैं.  ईडी इस बात की जांच कर रहा है कि क्या यस बैंक प्रमोटर राणा कपूर और उनकी दो बेटियों की डमी कंपनी अर्बन वेंचर्स को घोटालेबाजों से 600 करोड़ रुपये मिले थे.
यस बैंक के ग्राहकों के लिए ये है थोड़ी राहत भरी खबर
इसके अलावा संकट से जूझ रही यस बैंक के ग्राहकों के लिए थोड़ी राहत भरी खबर है. दरअसल, सरकार और वित्त मंत्रालय की सक्रियता. एसबीआई के राहत पैकेज के साथ सामने आने के बाद आरबीआई ने एस बैंक के ग्राहकों को कुछ छूट प्रदान की. अब Yes Bank के डेविड कार्ड होल्डर किसी भी बैंक के एटीएम से पैसा निकाल सकेंगे. इसकी अनुमति दे दी गई है.
दरअसल, डीएएफएल ने एस बैंक से लिए 10 हजार करोड़ रुपये लोन लेकर डिफॉल्ट कर दिया. आरोप है कि इस कर्ज के एवज में डीएएफएल के प्रमोटर्स ने गलत रास्ते से राणा कपूर के परिजनों को फायदा पहुंचाया है. इन्हीं वजहों से यस बैंक पूंजी जुटाने में असफल रहा है.
इसके बाद गुरुवार को रिजर्व बैंक ने सरकार के साथ विचार विमर्श कर बैंक के निदेशक मंडल को बर्खास्त कर दिया और उसमें प्रशासक नियुक्त कर दिया. बैंक के लेनदेन पर रोक लगाते हुये तीन अप्रैल तक ग्राहकों के लिये खाते से निकासी को 50,000 रुपये पर सीमित कर दिया.
यस बैंक ने केंद्रीय वित्तमंत्री और आरबीआई को टैग करते हुए शनिवार देर रात ट्वीट किया और लिखा, ‘अब आप YES BANK और अन्य बैंकों के एटीएम से अपने यस बैंक के डेबिट कार्ड का इस्तेमाल कर पैसे निकाल सकते हैं. आपके धैर्य के लिए धन्यवाद.’

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *