Nationalwheels

@YESBANK का दीवाला निकाल देने वाले संस्थापक @RanaKapoor_ गिरफ्तार, ईडी अदालत में करेगी पेश

@YESBANK का दीवाला निकाल देने वाले संस्थापक @RanaKapoor_ गिरफ्तार, ईडी अदालत में करेगी पेश

बंदी के कगार पर पहुंच गए @YESBANK के गोलमाल को लेकर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने करीब 20 घंटे की पूछताछ के बाद संस्थापक राणा कपूर को पीएमएलए के तहत गिरफ्तार कर लिया है

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
बंदी के कगार पर पहुंच गए @YESBANK के गोलमाल को लेकर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने करीब 20 घंटे की पूछताछ के बाद संस्थापक राणा कपूर को पीएमएलए के तहत गिरफ्तार कर लिया है. ईडी राणा कपूर को स्थानीय अदालत में प्रस्तुत कर पूछताछ जारी रखने के लिए रिमांड पर लेगी. शुक्रवार रात ईडी अफसरों ने राणा कपूर और उनकी बेटियों के घरों पर छापेमारी की थी.
राणा कपूर की गिरफ्तारी के बाद उनकी पत्नी बिंदू कपूर भी प्रवर्तन निदेशालय पहुंची. ईडी ने उन्हें पूछताछ के लिए कार्यालय तलब किया है. आरोप है कि पूरे परिवार ने मिलकर एस बैंक में हजारों करोड़ रुपये का गोलमाल किया है. इस मामले में राणा कपूर की बेटियों के आवास पर भी ईडी ने छापेमारी की.

गौरतलब है कि डीएचएफएल की जांच के दौरान एस बैंक का मामला सामने आया है. डीएचएफएल की जांच के दौरान एजेंसियों के सामने ये तथ्य आए कि एक लाख फर्जी कर्जदारों का इस्तेमाल करके 12500 करोड़ रुपये 80 मुखौटा कंपनियों में स्थानांतरित किए हए. इन मुखौटा कंपनियों में ये लेनदेन 2015 में किए गए थे. अफसरों का कहना है कि जांच के दौरान पता चला कि डीएचएफएल ने जो धनराशि स्थानांतरित की उसका स्रोत एस बैंक था. एस बैंक द्वारा डीएचएफएल को दिया गया भारी भरकम कर्ज एनपीए हो गया है. अब ईडी जांच कर लेनदेन की सभी कड़ियों को एक-एक कर जोड़ रहा है.
ईडी ने शुक्रवार रात राणा कपूर के वरली स्थित आवास पर पहुंचकर पड़ताल शुरू की. मामले में राणा की तीन बेटियों राखी कपूर टंडन, रोशनी कपूर और राधा कपूर के दिल्ली और मुंबई स्थित आवासों पर भी छापामारी हुई. पता चला है कि एस बैंक से लिए गए भारी-भरकम कर्ज के बदले दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड ने राणा कपूर की परिवार की एक कंपनी को 600 करोड़ रुपये का कर्ज दिया था. कुछ इसी तरह की कंपनियों के बीच हुए 5000 करोड़ रुपये के लेनदेन की जांच भी ईडी कर रहा है. ये कंपनियां राणा कपूर या उनके परिवार या डीएचएपएल से संबंधित बताई जाती हैं.
मूडीज ने एस बैंक को किया डाउनग्रेड
रेटिंग एजेंसी मूडीज ने निजी कर्जदाता एस बैंक की रेटिंग गिरा दी है. मूडीज ने बैंक का लॉग टर्म फॉरेन करेंसी इश्यूआर रेटिंग सीएए-3 कर दी है. आरबीआई द्वारा एस बैंक पर लगाए गए तमाम प्रतिबंधों के पहले यह रेटिंग सीएए-2 थी.
दूसरी तरह एसबीआई ने आरबीआई की पहल पर पर एस बैंक को संकट से उबारने की जिम्मेदारी लेने पर सहमति जता दी है. एसबीआई के चेयरमैन ने एस बैंक की 49 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने के लिए 10 हजार करोड़ रुपये निवेश पर सहमति जताई है. केंद्र सरकार, वित्त मंत्रालय, आरबीआई और एसबीआई इस मामले में सक्रियता बनाए हुए हैं. इसलिए यह सँबावना जताई जा रही है कि बैंक के ग्राहकों की रकम डूबने से बच जाएगी. हालांकि, बैंक की शाखाओं और एटीएम पर पिछले तीन दिनों से भारी भीड़ जुट रही है. अलग-अलग शहरों में ग्राहक बैंक की शाखाओं में पहुंच रहे हैं. आरबीआई ने अधिकतम 50 हजार रुपये की निकासी का प्रतिबंध लगा दिया है.

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *