Nationalwheels

सीएम योगी भी मध्यस्थता के प्रयासों से असहमत, कहा- जहां रामलला जी विराजमान हैं, वहीं प्रभु श्रीराम जी का मंदिर-

सीएम योगी भी मध्यस्थता के प्रयासों से असहमत, कहा- जहां रामलला जी विराजमान हैं, वहीं प्रभु श्रीराम जी का मंदिर-
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
अयोध्या राम मंदिर विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट की ओर से मध्यस्थता पैनल घोषित कर समझौते की पहल करने से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी सहमत नहीं हैं. आरएसएस और विश्व हिन्दू परिषद के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी मध्यस्थता के प्रयासों पर सवाल खड़े किए हैं.
योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दुनिया कहती है कि भगवान श्रीराम जी का जन्म अयोध्या में हुआ है. उसका सम्मान मिलना चाहिए. लगातार 1986 से 1989 से बीच मध्यस्थता का प्रयास हुआ. अगर मध्यस्थता से उसका समाधान हो जाता तो सबसे पहले मैं उसका स्वागत करता. जहां रामलला जी विराजमान हैं, वहीं प्रभु श्रीराम जी का मंदिर है. योगी ने इस टिप्पणी को ट्वीटर पर भी पोस्ट किया है.

उत्तर प्रदेश स्टेट फिल्म फेस्टिवल एवं सेमिनार में सीएम योगी ने कहा कि सपा बसपा का मतलब लूट-खसोट और भ्रष्टाचार है. लूट-खसोट और भ्रष्टाचार के इन नमूनों को सचमुच किसी म्यूजियम में रखना चाहिए. उन्होंने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में भाजपा 75 से ज्यादा सीटें जीतेगी, जिनमें अमेठी औऱ आजमगढ़ भी शामिल हैं. गौरतलब है कि 2014 में आजमगढ़ से तत्कालीन सपा अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव और अमेठी से कांग्रेस अध्यक्ष (वर्तमान) राहुल गांधी चुने गए थे.
सीएम ने कहा कि फिल्म ‘टॉयलेट एक प्रेम कथा’ ने प्रधानमंत्री जी के स्वच्छता मिशन को काफी गति प्रदान की. गांवों में हर घर में शौचालय बनना शुरू हुए. इसके चलते पूर्वी उत्तर प्रदेश में जापानी इंसेफेलाइटिस नाम की खतरनाक बीमारी सहित कई अन्य बीमारियों पर अंकुश भी लगा.
फिल्म निर्माता और निर्देशक आज की युवा पीढ़ी और वर्तमान समाज को नई दिशा देने वाली फिल्में बनाएं. मैं फिल्म निर्माताओं व निर्देशकों से कुम्भ पर फिल्म बनाने का भी आह्वान करता हूं.
उत्तर प्रदेश देश-विदेश के फिल्म निर्माताओं को फिल्म बनाने के लिए आमंत्रित करता है और आश्वस्त करता है कि फिल्म बनाने के लिए निर्माता-निर्देशक को जैसी भी जरूरत पड़ेगी, प्रदेश सरकार उनकी हर तरह से मदद करेगी.
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश में देश का हर पांचवा व्यक्ति निवास करता है और इससे बड़ा बाजार अन्यंत्र नहीं मिलेगा. उत्तर प्रदेश में फिल्में बनाने वालों को डरने की जरूरत नहीं यहां हर व्यक्ति को सुरक्षा की गारंटी है. अब यहां के जो पेशेवर अपराधी हैं वो ठेला लगाकर भरण पोषण कर लेंगे, लेकिन किसी को छेड़ेंगे नहीं, मारेंगे नहीं.
Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *