Nationalwheels

पश्चिम बंगालः पीएम मोदी आज उसी मैदान पर दहाड़ेंगे जहां एक मंच पर जुटे थे 15 दलों के नेता

पश्चिम बंगालः पीएम मोदी आज उसी मैदान पर दहाड़ेंगे जहां एक मंच पर जुटे थे 15 दलों के नेता
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
लोकसभा चुनाव 2019 के महासंग्राम में इस बार लड़ाई कहीं एनडीए बनाम यूपीए, नरेंद्र मोदी वर्सेस ऑल या भाजपा प्लस बनाम महागठबंधन है. महागठबंधन देशभर में अलग-थलग दिख रहा है. आम चुनाव में भाजपा के खिलाफ चुनावी जंग जीत लेने का दावा करने वाले विपक्षी दल पांच राज्यों बिहार, झारखंड, महाराष्ट्र, तमिलनाडु और कर्नाटक में एकजुट हैं. इसके विपरीत यूपी समेत 10 राज्यों में महागठबंधन की पार्टियां एक दूसरे के खिलाफ ही हैं. पश्चिम बंगाल भी इन्हीं 10 राज्यों में से एक है.
पश्चिम बंगाल में ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बुधवार को सभा भी है. प्रधानमंत्री उसी ब्रिगेड मैदान पर मुख्यमंत्री बनर्जी और महागठबंधन को ललकारेंगे जिस मैदान से महागठबंधन के नेता जुटे थे. बंगाल में भाजपा और तृणमूल आमने-सामने दिख रही हैं. कांग्रेस और वामपंथी पार्टियां राज्य में एक दूसरे के खिलाफ ताल ठोंक रहे हैं. कांग्रेस तृणमूल के खिलाफ भी चुनाव लड़ रही है.
उधर, भाजपा जहां ममता बनर्जी पर गुंडाराज का आरोप लगाती रही है, वहीं ममता भी अपने भाषणों में भाजपा और पीएम मोदी पर हमलावर रहीं हैं. आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में सोमवार को सीएम चंद्रबाबू नायडु के बुलावे पर गईं ममता बनर्जी ने फिर से पीएम मोदी पर हमला बोला था.
हालांकि, पश्चिम बंगाल में पिछले एक महीने में जो घटनाक्रम हुए हैं, उन्हें गौर से देखा जाए तो साफ दिखता है कि राज्य की राजनीति अब आरोप-प्रत्यारोप करने तक ही सीमित रही रह गई है. बल्कि उससे बहुत आगे निकल गई है. राजनेता और उनके समर्थक नफरत और खूनी राजनीति पर उतर आए हैं.
कोलकाता में ममता बनर्जी के नेतृत्व में महारैली से लेकर सीबीआई बनाम राज्य पुलिस विवाद तक और टीएमसी नेता की हत्या से लेकर भाजपा नेता के बेटी का झूठा अपहरण, नेताओं की राजनीति का अलग ट्रेंड शुरू हो चुका है. इन घटनाओं को जनता किस नजरिए से देख रही है और लोकसभा चुनाव पर इसका कैसा असर पड़ेगा, यह आने वाले दिनों में दिखेगा.
कुछ प्रमुख घटनाओं पर एक नजर
  • 19 जनवरी: कोलकाता में सीएम ममता बनर्जी के नेतृत्व में विपक्ष की महारैली
  • 22 जनवरी: अमित शाह की रैली, पहले हेलीकॉप्टर लैंडिंग की अनुमति नहीं थी
  • 02 फरवरी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली, भाजपा को मैदान बदलना पड़ा था
  • 03 फरवरी: यूपी के सीएम आदित्यनाथ की हेलीकॉप्टर लैंडिंग की अनुमति नहीं 
  • 03 फरवरी: कोलकाता पुलिस कमिश्नर के घर सीबीआई, फिर गिरफ्तारी, धरना
  • 05 फरवरी: एमपी के पूर्व सीएम शिवराज सिंह के हेलीकॉप्टर को अनुमति नहीं
  • 05 फरवरी: भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन को भी रैली की अनुमति नहीं दी गई 
  • 06 फरवरी: हेलीकॉप्टर झारखंड में उतार सड़क से पुरुलिया रैली में पहुंचे योगी
  • 09 फरवरी: टीएमसी विधायक की हत्या और भाजपा नेता मुकुल रॉय पर आरोप
  • 13 फरवरी: भाजपा नेता की बेटी का अपहरण, टीएमसी विधायक की कार पर हमला

 

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *