Nationalwheels

विहिप ने जताई आशंका- कश्मीर के बाद घुसपैठियों के दबाव में जम्मू में हिन्दुओं के पलायन का बढ़ा खतरा

विहिप ने जताई आशंका- कश्मीर के बाद घुसपैठियों के दबाव में जम्मू में हिन्दुओं के पलायन का बढ़ा खतरा
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
लखनऊः विश्व हिंदू परिषद केंद्रीय प्रबंध समिति सदस्य संघ के वरिष्ठ प्रचारक पुरुषोत्तम नारायण सिंह ने बुधवार को यहां कहा कि जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी हिंदू विरोधी नीतियों के कारण विस्फोटक स्थिति बनी हुई है। कश्मीर घाटी में हिंदुओं का नरसंहार कर उसको हिंदू शून्य बनाने के उपरांत अब जेहादी ताकतें जम्मू क्षेत्र को मुस्लिम बाहुल्य बनाने के साथ आधिपत्य जमाने का प्रयास किया कर रही हैं।
श्री सिंह ने कहा कि भारत की आजादी के बाद से ही पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर को भारत से अलग करके हिन्दुओं से शून्य बनाना चाहता है।आज भी वह अपने षड्यंत्र मे लगातार प्रयासरत है। दुर्भाग्यवश भारत के कुछ राजनीतिज्ञ वा कथित बुद्धिजीवी पाकिस्तान के इस ऐजेंडे को जाने-अंजाने लागू करने मे सहायक सिद्ध हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि वैसे तो सम्पूर्ण देश में पूर्ववर्ती सरकारों की लचर नीतियों के कारण अवैध घुसपैठ की समस्यायें बनी रही हैं।
कहा कि देश के अनेक प्रान्तों मे इस अवैध घुसपैठ से जनसंख्या असंतुलन का खतरा बढ़ा। वर्तमान में जम्मू जैसे हिन्दू बाहुल्य क्षेत्र को भी अवैध मुस्लिम घुसपैठियों के द्वारा विस्फोटक स्थिति बनाई जा रही है। बांग्लादेशी और रोंहिंग्या मुस्लिमों के लिए जम्मू सुरक्षित शरणस्थली बन गई है। अपनी कट्टरपंथी सोच और बर्बरता के लिए कुख्यात दस हजार रोहिंग्या जम्मू की कानून व्यवस्था के लिए सिरदर्द बन गए हैं।
उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती जम्मू-कश्मीर की सरकारों ने अवैध घुसपैठ को नजरंदाज ही नहीं किया बल्कि उन्हें जमीन तक उपलब्ध करवाई। आज पहाड़ी क्षेत्र के जंगलों मे आग लगा कर सरकारी भूमि पर कब्जा कर अवैध बस्ती और कालोनियां तक स्थापित की गई हैं। उन्होंने कहा एक तरफ कश्मीर से हिन्दुओं पर अत्याचार कर पलायन के लिए मजबूर किया गया और दूसरी तरफ जम्मू जैसे हिन्दुओं की देवभूमि पर भी अवैध मुस्लिमों की जनसंख्या को बढ़ावा दिया गया। यह सभी के लिए विचारणीय है।
उन्होंने केन्द्र सरकार तथा जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल से मांग की कि जम्मू में शिक्षा और रोजगार के अवसर निर्माण करें जिससे हिन्दुओं का पलायन जम्मू से रूक सके। जम्मू के जंगलों की सरकारी भूमि का परिसीमन और जांच कराकर अवैध बस्तियों को खाली कराकर घुसपैठियों को खदेड़ा जाय। उन्होंने स्थानीय जनता का भी आह्वान किया कि जम्मू में उत्पन्न की जा रही परिस्थितियों पर सजग निगाह रखें वा अपने जंगल और जमीन के साथ अपने अधिकारों पर षडयंत्र पूर्वक योजनाबद्ध डाका डालने वालों के विरूद्ध संगठित होकर खड़े हों।

 

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *