Nationalwheels

यूपी बजटः पहली बार 5 लाख करोड़ का सीमा पार, रोजकोषीय घाटा 2.97 फीसद पर रोका

यूपी बजटः पहली बार 5 लाख करोड़ का सीमा पार, रोजकोषीय घाटा 2.97 फीसद पर रोका

उत्तर प्रदेश के इतिहास में पहली बार योगी सरकार ने सबड़े बड़ा बजट प्रस्तुत किया है

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
उत्तर प्रदेश के इतिहास में पहली बार योगी सरकार ने सबड़े बड़ा बजट प्रस्तुत किया है. इस सबसे बड़े बजट में उत्तर प्रदेश सरकार के मूल बजट ने ₹5 लाख करोड़ की सीमा को पार किया है. मंहलवार को सदन में ₹5 लाख 12 हजार करोड़ से अधिक का बजट प्रस्तुत किया गया है. मुख्यमंत्री @myogiadityanath ने कहा कि सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यह बजट वित्तीय अनुशासन का पालन करते हुए बनाया गया है. हम, अपना राजकोषीय घाटा रिजर्व बैंक द्वारा तय की गई सीमा अर्थात 3 प्रतिशत से नीचे 2.97 प्रतिशत पर रखने में सफल रहे हैं.
योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा के साथ लॉ विश्वविद्यालय और तीन राज्य विश्वविद्यालय खोलने का फैसला किया है. अपना तीसरा बजट विधानसभा में प्रस्तुत करने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रेसवार्ता करते हुए कहा कि मात्र तीन वर्षों के अंदर हम 28 नए मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कार्य करा रहे हैं. रायबरेली और गोरखपुर AIIMS में प्रवेश प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है. साथ ही 7 मेडिकल काॅलेज में प्रवेश प्रारंभ हो चुका है.
CM योगी ने कहा कि 8 मेडिकल काॅलेज निर्माणाधीन हैं, जबकि 13 अन्य मेडिकल काॅलेजों के निर्माण के लिए हमने इस बजट में धनराशि की व्यवस्था कर दी है. यूपी को शिक्षा का केंद्र बिंदु बनाने के लिए उच्च शिक्षा पर फोकस किया गया है.
राज्य सरकार ने सहारनपुर, आजमगढ़ और अलीगढ़ में नए विश्वविद्यालय स्थापित करने के साथ ही लखनऊ में अटल मेडिकल विश्वविद्यालय को इस बजट का हिस्सा बनाया है. CM  @myogiadityanath ने कहा कि एक नेशनल लाॅ यूनिवर्सिटी और आयुष विश्वविद्यालय भी इस बजट का हिस्सा है. साथ ही पुलिस फाॅरेंसिक विश्वविद्यालय भी लखनऊ में बनाया जाना है.
CM ने कहा कि अपने पैरों पर खड़ा होने के इच्छुक हर शिक्षित बेरोजगार नौजवान के लिए हमने अप्रेंटिसशिप की योजना प्रारंभ की है. हर युवा किसी उद्यम से जुड़ेगा और अप्रेंटिसशिप पूरी होने की अवधि तक सरकार द्वारा उसे ₹2500 प्रतिमाह का सहयोग दिया जाएगा.
योगी ने कहा कि हमने अपना प्रथम बजट किसानों को ध्यान में रखते हुए तैयार किया था. दूसरा बजट प्रदेश के औद्योगिक विकास और प्रदेश में ढांचागत बुनियादी सुविधाओं की दृष्टि से प्रस्तुत किया था. तीसरा बजट महिला सशक्तिकरण के कार्यक्रम की दृष्टि से तथा चौथा बजट प्रदेश की ऊर्जा के पर्याय युवाओं के लिए और उनकी असीम संभावनाओं को देश-दुनिया के सामने प्रस्तुत करने के लिए हमने प्रस्तुत किया है.

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *