Nationalwheels

टेलीविजन इंडस्ट्री अदाकारा निशा नेहा नायक ने नेशनल व्हील से बात करते हुए, टेलीविजन इंडस्ट्री के कई पहलू पर रखी अपनी बात

टेलीविजन इंडस्ट्री अदाकारा निशा नेहा नायक ने नेशनल व्हील से बात करते हुए, टेलीविजन इंडस्ट्री के कई पहलू पर रखी अपनी बात

चैनल V का सीरियल "साड्डा हक" फेम अदाकारा निशा नेहा नायक ने टेलीविजन इंडस्ट्री से जुड़े अपने अनुभव को नेशनल व्हील के साथ कि सांझा

चैनल V का सीरियल साड्डा हक और जी टीवी के सीरियल “कलीरे” से टेलीविजन इंडस्ट्री में अपना मुकाम बनाने वाली अदाकारा निशा नेहा नायक ने नेशनल व्हील से बात करते हुए टेलीविजन इंडस्ट्री के कई पहलू पर अपनी राय रखी और कई सारे मुद्दा ऊपर रोशनी डाली।
प्रश्न – सीरियल साड्डा हक के अलावा अब तक आपने कितना शो किया है ?
उत्तर – साड्डा हक के अलावा अब तक मैंने ज़ी टीवी का एक और शो किया है जिसका नाम था “कलीरे” ।
प्रश्न – अपने अपकमिंग प्रोजेक्ट के बारे में कुछ बताइए ।
उत्तर – मैं जल्द ही एक वेब सीरीज करने वाली थी, लेकिन जैसा कि हम जानते हैं कोरोना वायरस और लॉक डाउन के कारण पूरी इंडस्ट्री अफेक्टेड हो गई है और अभी इतनी जल्दी शुरू करने का कोई प्लान नहीं है ।
प्रश्न – क्या आप अपने आने वाली वेब सीरीज के बारे में दर्शकों को कुछ और जानकारियां देना चाहेंगी
उत्तर – अभी मैं आपको इसके बारे में विस्तृत ज्यादा कुछ नही बता सकती , इसकी मुझे इजाजत नहीं है लेकिन आशा है कि जुलाई के अंत तक सब शुरू हो जाएगा ।
प्रश्न – जैसा कि हम जानते हैं उड़ीसा की रहने वाली है तो मुंबई तक आने का सफर कैसे हुआ?
उत्तर – दरअसल मुंबई आने का कुछ खास प्लान नहीं था लेकिन उस वक्त मेरे पिताजी का ट्रांसफर मुंबई में हुआ था, वह पेशे से मैकेनिकल इंजीनियर हैं । तो उनके साथ मेरा पूरा परिवार मुंबई शिफ्ट हो गया और मैंने अपनी ग्रेजुएशन मुंबई से पूरी की है । मेरे कॉलेज के दौरान उस वक्त कॉलेज में “MTV Panasonic face of beauty” चल रहा था, जिसमें वह लोग नहीं चेहरे को खोज रहे थे और फिर उन्होंने मेरा ऑडिशन लिया इसके बाद मेरा सिलेक्शन हो गया, फिर मैंने सोचा चलो देखते हैं कैसा रहता है , जिस के बाद मैंने उस में भाग लिया और दूसरा स्थान पाई। उसके बाद पैनासोनिक के साथ 1 साल तक का कॉन्ट्रैक्ट था । जिस दिन बाद में मॉडलिंग में आई और मैंने लगभग 10 ऑडिशन दी थी इसके बाद मेरा साड्डा हक़ सीरियल में हो गया ।
प्रश्न – क्या आपका पहले से कोई जैसा कि आपने अपने कॉलेज के दौरान फेस ऑफ ने हिस्सा लिया, या यह सब अचानक होता चला गया ?
उत्तर – यह सब अचानक हुआ, दरअसल मैं बचपन से हूं एक्टिंग में बहुत ज्यादा इंटरेस्टेड हु , जब भी मैं फिल्म फिल्म देखती थी मैं उनके जैसा बनना चाहती थी , लेकिन मैंने कभी सोचा नहीं था कि यह सब कैसे शुरू होगा किसके के बाद मुझे क्या करना है, यह सब होता चला गया पहले मैं फीस ऑफ़ मैं हिस्सा ली, उसके बाद पैनासोनिक के साथ काम फिर “मॉडलिंग” और शेर “साड्डा हक” शो, इस शो का गुणगान लोग आज तक कर रहे हैं ।
प्रश्न – अच्छे दिनों आपकी टिक टॉक वीडियो खूब वायरल हुई है, क्या इसका एक्टिंग से कोई कनेक्शन है? क्योंकि आजकल बहुत सारे इनफ्लुएंसर कोशिश कर रहे हैं कि टिक टॉक के जरिए एक्टिंग फील्ड में अपना करियर बना सकें ।
उत्तर – जैसा कि हम जानते हैं यह वक्त डिजिटल प्लेटफॉर्म का है, अभी का वक्त ही देख लीजिए लोग अब टीवी सीरियल और फिल्मों से ज्यादा वेब सीरीज और वेब शो, यूट्यूब का कंटेंट देखना ज्यादा पसंद कर रहे हैं, तो ऐसा नहीं है कि जो सच टिक टॉक से जुड़ा है लेकिन टिप टॉप इंस्टाग्राम यूट्यूब सब आपस में जुड़े हुए हैं । अगर आप एक एक प्लेटफार्म पर मशहूर हो रहे है और आपने अपने तमाम सोशल मीडिया को से जोड़ रखा है लोग आपको हर तरफ से पहचानने लगेंगे , अभी हाल में ही मैंने अपनी यूट्यूब चैनल शुरू की है, तो देखते हैं उसका रिस्पांस कैसा रहता है मुझे लगता है यह चलेगा क्योंकि अभी के जनरेशन के लोग जो हमसे बड़े हैं या हमसे छोटे हैं या फिर हमारे हम कौन हैं उन्हें यह कंटेंट ज्यादा पसंद आ रहा है, वह सब वेब सीरीज वेब शो ज्यादा पसंद करते हैं ।
प्रश्न – जैसा कि हम जानते हैं इन दिनों सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद बॉलीवुड में नेपोटिज्म के खिलाफ आवाज उठाया जा रहा है, तो क्या कभी आपको अपने करियर में नेपोटिज्म का सामना करना पड़ा है ?
उत्तर – नेपोटिज्म मुझे फेस करना नहीं पड़ा लेकिन देखिए सिर्फ नेपोटिज्म ही किसी के डिप्रेशन का कारण नहीं होता है , इसका अनेक कारण है लेकिन यह बात किस तरह भारी पड़ती है यह उस व्यक्ति पर निर्भर करता है । मैं सुशांत सिंह के बारे में कुछ नहीं बोलना चाहूंगी क्योंकि मैं उनसे कभी मिली नहीं थी ना ही मैं उनके बारे में ज्यादा जानती हूं । कुछ दिन पहले मैंने एक वीडियो अपने सोशल मीडिया पर सांझा की थी , जिसमें मैंने बताया था कि मुझे सबसे बड़ी परेशानी अपने करियर में अपने रंग के कारण झेलनी पड़ी है। मुझे आज भी यह सुनने को मिलता है कि, एक्टिंग में थोड़ा कम ज्यादा हो तो चलेगा लेकिन खूबसूरत दिखना ज्यादा महत्वपूर्ण है । मैं यहां आ सकती हूं कि मेरे साथ कंपलेक्सेशन जैसे इन सब चीजों को लेकर काफी कुछ हो चुका है।
प्रश्न – टेलीविजन की दुनिया में जो पुराने दिग्गज कलाकार हैं वह न्यू कमर के साथ कैसा व्यवहार करते हैं ?
उत्तर –( एक्सेप्टेंस) लोग आपको तभी स्वीकार करते हैं जब आप अपना नाम बना लेते हैं , जो 0से 1 का सफर होता है वह सबसे ज्यादा कठिनाई से भरा होता है, जब आप एक प्रोजेक्ट में काम करते हैं फिर उसके बाद आप किसी और प्रोजेक्ट में काम करते हैं आपको थोड़ी लोकप्रियता मिलने लगती है तब सब कुछ धीरे-धीरे आसान होने लगता है लेकिन शुरुआत से 0 से 1 का सफर सबसे मुश्किल होता है‌।
प्रश्न — इंडस्ट्री में न्यू कमर को किस तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है उसके बारे में कुछ बताएं ।
उत्तर — न्यू कमर को सबसे बड़ा चुनौती है मुंबई में आने की बात फाइनेंसियल तौर पर होती है, जैसा कि हम जानते हैं यह शहर काफी महंगा है तो जो न्यू कमर यहां आते हैं, उन्हें कोई ना कोई फाइनेंसियल बैकअप जरूर रखना चाहिए । अगर परिवार वाले मदद करते हैं तो यह सबसे बढ़िया है नहीं तो कोई पास टाइम जॉब या फिर कम शब्दों में यह कहे तो, पैसा आने का कोई स्रोत होना बहुत जरूरी है । दूसरा बात यह कि , ऐसा मेरे साथ हो चुका है जब मुझे कई प्रोजेक्ट में साइन करने के बाद रिप्लेस कर दिया गया है । जब हम कोई प्रोजेक्ट साइन करते हैं तो सोचते है कि इसमें मेरा रोल अच्छा है, और मुझे इससे स्कोप मिलेगा आगे और भी अच्छा काम का मौका मिलेगा लेकिन जब रिप्लेस कर दिया जाता है तो यह बेहद दुखदाई होता है । तो फिर ऐसा लगने लगता है कि शायद मैं इस जगह के लिए नहीं बनी हूं मुझे कुछ और कर लेना चाहिए, लेकिन ऐसा नहीं है आप को आत्मनिर्भर और आत्मविश्वास रखना बेहद जरूरी है। ऐसा नहीं है कि रिजेक्शन नहीं होता है , लेकिन जैसा कि मैंने आपको कहा 0 से 1 का सफर बेहद मुश्किल है लेकिन जब आप उस मुकाम पर पहुंच जाते हैं तो लोग धीरे धीरे आपकी टैलेंट को और आपको अपनाना शुरू कर देते हैं फिर काम करने में बेहद मजा आता है ।
प्रश्न — इंडस्ट्री में कई लोग ऐसे हैं जिनका कोई फिल्मी बैकग्राउंड नहीं है, यकीनन उन्हें बेहद संघर्ष करना पड़ रहा है इस बारे में आप क्या कहना चाहेंगी?
उत्तर — स्ट्रगल यहां है और यह सच है, लेकिन अगर आप फिल्मी बैकग्राउंड से हैं तो चीजे से आपके लिए आसान है, और अगर आपका फिल्मी बैकग्राउंड नहीं है तो आपको उनसे 50 गुना ज्यादा मेहनत करना पड़ेगा, और यह चीजें है तो सकारात्मक रहने के लिए मै यह कहना चाहूंगी कि, अगर यह है कि एक्टिंग ज आपके लिए सब कुछ है तो आपको उसके लिए अड़े रहना चाहिए । जैसेे कि, मुझे एक्टिंग बेेेहद पसंद है मैं बचपन से ही एक्टिंग करनााा चाहती थी, और मैं एक्टिंग के बिनाा जी नहीं सकती , जैसाा कि मैंने कहा है कि इंस्टाग्राम और यूट्यूब इन दिनोंं काफी महत्वपूर्णण है, और इन प्लेटफार्म पर फॉलोइंग बढ़ाना बेहद जरूरी है क्योंकि इससे इंडस्ट्री के न्यू कमर को बहुत सहायता मिलता है । आप सोशल मीडिया पर अपना डांंस वीडियो एक्टिंंग वीडियो एक्शन वीडियो डाल सकते हैं और इससे ना सिर्फ लोकप्रियता मिलती है बल्कि कई बार हमने देेखा है कि इसके जरिए काम भी मिलता है मिलता है जैसे कि जैसे कि एडवर्टाइजमेंट सूट म्यूजिक वीडियोस में काम करने का आपको मौका मिलता है। आप देख सकते हैं कि मल्टीप सोर्सेस आ गए हैं जो कि 5 साल पहले इतने पॉपुलर नहीं हुआ करते थे, जितने कि आज है। जैसे कि एक रास्ता बंद होता है तो कई कई दरवाजे खुल जाए करते हैं, तो आप को पॉजिटिव रहना चाहिए और कोशिश करते रहना चाहिए जितना भी आप कर सको और जरूरी नहीं कि आप एक ही चीज के लिए कोशिश करते रहो आपको हर संभव चीजों को एक्सप्लोर करना चाहिए एक्टर बनने के लिए, जो कि मैं आपसे कहना चाहती हूं।
प्रश्न : हमने फिल्म इंडस्ट्री में महिलाओं व लड़कियों से संबंधित विषयों पर फिल्म बनते तो देखी है पर इंडस्ट्री में लड़कियों की स्थिति अभी कैसी है ?
उत्तर : पिछले तीन-चार सालों की तुलना में देखा जाए तो लड़कियों की सिचुएशन पहले जो हुआ करते थे उससे अभी काफी बेहतर हुई है। जैसा कि आप कुछ एक्ट्रेस को देखें जैसे कंगना राणावत तापसी पन्नू भूमि पेडणेकर राधिका आप्टे यह सारी एक्ट्रेस बहुत अच्छा काम कर रही है और इनका कोई फिल्मी बैकग्राउंड भी नहीं है। उन्होंने अभी तक जो भी आ चुकी है उनकी कड़ी मेहनत और टैलेंट का फल है। तो मैं कहना चाहूंगी महिलाओं के लिए इंडस्ट्री में यह बहुत अच्छा टाइम है। ऐसा नहीं है क्या आपको कुछ मिलेगा नहीं आपको सब कुछ मिलेगा मगर यह सब कुछ आपकी कड़ी मेहनत करो और टैलेंट पर निर्भर करता है।अगर आप सोच लो कि आपको यही करना है तो आप उसके लिए कुछ भी करो फिर यह मैटर नहीं करता कि कौन क्या कहता है। मैंने भी जब स्टार्ट किया था तो बहुत सारे लोगों ने बोला था पता नहीं काम मिलेगा या नहीं बहुत ज्यादा कंपटीशन है मत जाओ, पर ऐसा कुछ नहीं होता सब कुछ आपके टैलेंट और कड़ी मेहनत पर निर्भर करता है।
प्रश्न : मध्यम वर्गीय परिवार की लड़कियों को फिल्म इंडस्ट्री मैं आने से पहले किन-किन बातों पर ध्यान देना चाहिए?
उत्तर : सबसे पहले जो आपको फाइनेंसियल वेल प्रिपेयर्ड रहना चाहिए। दूसरी बात आपको मानसिक रूप से भी तैयार रहना चाहिए क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि आपको रिजेक्शन का सामना करना पड़ता है हो सकता है कि आपको 5-6 ऑडिशंस में रिजेक्शंस मिले, और अगले ऑडिशन में कोई काम मिल जाए तो आपको पॉजिटिव और नेगेटिव दोनों ही बातों का ध्यान रखना चाहिए। तीसरी बात ऐसा नहीं होना चाहिए कि आप ऑडिशन दे रहे हो और काम आने का इंतजार कर रहे हो, बल्कि आप तो दूसरे मीडियम पर भी ध्यान देना चाहिए जैसा कि मैंने बोला इंस्टाग्राम यूट्यूब सोशल मीडिया प्लेटफार्म क्योंकि जब आप इनका उपयोग करते हो तो आपको वहां से भी काम करने का अवसर मिल सकता है, तो ये कुछ चीजें हैं जिनका ध्यान रखना चाहिए और अभी कई लोग ऐसे हैं जो छोटी-छोटी शहरो से है और १२-१५ साल की उम्र से अपने वीडियो बनाना शुरु चुके हैं और उनके मिलियन फोलोवर्स भी है जोकि बहुत अच्छी बात है अगर आप शुरुआत से ही अपना बेस बना लेते हो तो आगे आपको रिस्पांस अच्छा मिलता है।
प्रश्न : आप साड्डा हक की किन-किन सहकर्मीयो के साथ जुड़ी हुई है और क्या चांसेस है इसके सीक्वल आने का?
उत्तर : फिलहाल तो मैं साडा हक के प्रिंस के साथ कांटेक्ट मैं हूं और अभी तो सीजन 3 के लिए कोई रिक्वायरमेंट कॉल मुझे नहीं आई है पर हां, अगर कुछ भी ऐसा होता है तो मैं जरूर जुड़ना चाहुंगी।
प्रश्न : कोविड के टाइम पर आप अपने आप को पॉजिटिव रखने के लिए अपने दिनचर्या को कैसे मैनेज करती हैं ?
उत्तर : अभी जब से कोरोना शुरू हुआ है सबका काम बंद हो चुका है तो मैंने योगा करना शुरू किया है, और मेरा पूरा ध्यान फिटनेस पर है। कुकिंग करना और थोड़ा बहुत घर का काम करना भी मुझे पसंद है। ये सब करना मुझे पसंद है जो मुझे फिट रखता है ।

 

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *