Nationalwheels

हॉगकॉग में लोकतंत्र समर्थक हुए हिंसक, देखिए वीडियो कैसे चीनी पत्रकार को बांधकर पीटा

हॉगकॉग में लोकतंत्र समर्थक हुए हिंसक, देखिए वीडियो कैसे चीनी पत्रकार को बांधकर पीटा
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
हॉंगकॉंग में चीन के खिलाफ लोकतंत्र समर्थकों का गुस्सा लगातार बढ़ता जा रहा है. चाइना ग्लोबल टेलीविजन नेटवर्क ने एक वीडियो जारी कर लोकतंत्र समर्थकों के हिंसक होने की बात कही है. एक दिन पहले ही आंदोलनकारियों ने भारी संख्या में पहुंचकर हॉंगकॉंग एयरपोर्ट का घेराव किया था. इसके कारण बड़ी संख्या में उड़ानों को निरस्त भी करना पड़ा था. आंदोलनकारियों के लगातार चल रहे बड़े और लंबे आंदोलनों के कारण चीन की मुसीबतें भी बढ़ी हैं. ऐसी रिपोर्ट भी आ रही हैं कि हॉंगकॉंग में चल रहे प्रदर्शनों को लेकर चीन विदेशी एजेंसियों को दोषी मान रहा है.

बताया गया है कि घायल होने के बाद गुओहाओ को राजकुमारी मार्गरेट अस्पताल में भर्ती कराया गया था. छुट्टी मिलने के बाद पत्रकार ने कहा कि “मैं अभी भी हांगकांग से प्यार करता हूं.” 

चीन के पत्रकार फू गुओहाओ के हाथ-पैर एक दिन पहले ही आंदोलनकारियों ने बांध दिए थे. पत्रकार पर लोगों ने हमले भी किए. इसमें गुओहाओ के हाथ, पैर और चेहरे पर चोटों के निशान साफ दिख रहे हैं. घटना के दौरान सुरक्षा कर्मी भी मौके पर पहुंच गए लेकिन भीड़ के गुस्से को देखते हुए वह बचाने के लिए तेजी से आगे नहीं बढ़ सके. बाद में सुरक्षा कर्मियों ने किसी तरह पत्रकार को भीड़ के बीच से बाहर निकाला.
उधर, चीन ने इस आंदोलन को लेकर सख्त रवैया अपनाने का संकेत दिया है. चीन के अखबार प्यूपिल्स डेली ने लोकतंत्र समर्थकों को कट्टरपंथी प्रदर्शनकारी कहा है. अखबार ने कहा कि #HongKong कट्टरपंथी प्रदर्शनकारियों द्वारा किए गए दंगे आतंकवादी कार्यों से अलग नहीं थे.साथ ही #HKSAR में सेंट्रल पीपुल्स गवर्नमेंट के लाइजन ऑफिस ने बुधवार को दंगों को गैरकानूनी, असभ्य और बर्बर कहा है. इससे संकेत साफ हैं कि चीन की सरकार हॉंगकॉंग में लोकतंत्र बहाली के लिए चल रहे आंदोलन को कट्टरपंथ और उग्रवाद कहकर कुचलने का रास्ता अख्तियार कर सकता है.

 

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *