Nationalwheels

भारतीय रेलवे द्वारा पूरे देश में श्रमदान महाभियान, रेलवे बोर्ड चेयरमैन ने भी किया प्रतिभाग

भारतीय रेलवे द्वारा पूरे देश में श्रमदान महाभियान, रेलवे बोर्ड चेयरमैन ने भी किया प्रतिभाग
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स

रेलवे में मंगलवार से बड़े पैमाने पर श्रमदान को महाभियान के रूप में शुरू किया गया. रेलवे बोर्ड के अध्‍यक्ष विनोद कुमार यादव ने अधिकारियों के साथ नई दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन पर आयोजित श्रमदान में भाग लिया.
रेलवे बोर्ड के अध्‍यक्ष विनोद कुमार यादव के साथ रोलिंग स्‍टॉक सदस्‍य राजेश अग्रवाल, सदस्‍य यातायात पीएस मिश्रा, उत्‍तर रेलवे के महाप्रबंधक टीपी सिंह तथा रेलवे बोर्ड के और उत्‍तरी रेलवे के अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारियों के साथ नई दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन पर आयोजित श्रमदान में हिस्‍सा लिया.
स्‍वच्‍छता पखवाड़े के उपलक्ष्‍य में रेलवे ने पूरे भारतीय रेलवे परिसरों में बड़े पैमाने पर श्रमदान आयोजित किया. इस श्रमदान का दायरा स्टेशन से लेकर रेलवे कालोनियों और रेलवे परिसर की सड़कों तक रहेगा.
दिल्ली में चैरीटेबल संगठनों तथा अन्‍य संगठनों ने भी इस श्रम दान में भाग लिया. सभी उपस्थितजनों ने स्‍वच्‍छता शपथ और सिंगल यूज प्‍लास्टिक पर अंकुश लगाने का भी संकल्‍प लिया.
इस दौरान प्‍लास्टिक की थैलियों के स्‍थान पर कपड़े के थैले भी यात्रियों और स्‍टॉल मालिकों को वितरित किए गए.
श्रमदान कार्यक्रम को सफल बनाने में संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन, ग्रीन पीस और ग्रीन हैंड्स जैसे गैर-सरकारी संगठनों के कार्यकर्ताओं और स्वंय सेवकों के साथ ही साथ रेल कर्मचारियों ने भी श्रमदान किया. इस प्रकार के श्रमदान कार्यक्रम प्रत्येक स्टेशन और उसके आस-पास के इलाकों, स्टेशनों के नज़दीक और देश भर में रेल पटरियों के नजदीक आयोजित किए गए. श्रमदान कार्यक्रम कारखानों, डिपो, शैडों और कार्यस्थलों पर भी आयोजित किया गया.
इस अवसर पर रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वीके यादव ने वहां मौजूद सभी लोगों को “स्वच्छता की शपथ” दिलाई. प्लास्टिक के उपयोग से होने वाले नुकसान के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए एक नुक्कड़ नाटक का भी आयोजन किया गया.
रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष, रेलवे बोर्ड के सदस्यगणों और उत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक ने ट्रैक क्लिनिंग के लिए इस्तेमाल होने वाली जैट मशीन और फर्श साफ करने के लिए इस्तेमाल होने वाली स्वीपर मशीन को चलाने का अनुभव लिया.
रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वीके यादव ने कहा कि स्टेशनों के आस-पास के क्षेत्र में स्वच्छता के साथ-साथ सभी रेल परिसरों में प्लास्टिक को एकत्रित करने जैसी बातों पर विशेष ध्यान दिया जायेगा. विक्रेताओं को भी प्लास्टिक का उपयोग न किये जाने के बारे में जागरूक किया जाएगा.
02 अक्टूबर 2019 से सिंगल यूज प्लास्टिक के प्रतिबंध के लिए लोगों को तैयार किया जाना है. उन्होंने आगे कहा कि विभिन्न रूपों में प्लास्टिक के उपयोग को कम करना, उसका पुनउर्पयोग और उसके रि-साइकिल को रोकना हमारा उद्देश्य है.

 

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *