Nationalwheels

जेडीयू और एलजेपी के पास गई गिरिराज और शाहनवाज की सीटें, जानें बिहार में किसे मिलीं कितनी सीटें

जेडीयू और एलजेपी के पास गई गिरिराज और शाहनवाज की सीटें, जानें बिहार में किसे मिलीं कितनी सीटें
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
लोकसभा चुनावों का ऐलान होने के ठीक पहले एनडीए के लिए मुसीबतें खड़ी करता दिखा बिहार भारतीय जनता पार्टी के लिए कुछ खट्टा-मीटा लेकर अच्छे दिनों की ओर लौट आया है. एनडीए (NDA) के बीच सीटों का बंटवारा होने के साथ ही अब यह भी फाइनल हो गया है कि कौन सी पार्टी, किस सीट पर चुनाव लड़ेगी. रविवार को पटना में हुई साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसका ऐलान हो गया. दिलचस्प बात ये है कि भारतीय जनता पार्टी के खाते वाली भागलपुर व नवादा सीट अब उसके सहयोगियों के पास चली गई हैं. इसमें नवादा सीट से केंद्रीय राज्य मंत्री गिरिराज सिंह सांसद चुने गए थे तो भागलपुर से शाहनवाज पिछला लोकसभा चुनाव हार गए थे.
प्रेस कॉन्फ्रेंस में बिहार जेडीयू के अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने भारतीय जनता पार्टी, जनता दल यूनाइटेड और लोक जनशक्ति पार्टी के खाते की सभी सीटों का ऐलान किया. गठबंधन फॉर्मूले के तहत बीजेपी और जेडीयू के खाते में 17-17 व एलजेपी के पास 6 सीटे हैं.
इन 17 सीटों पर लड़ेगी बीजेपी
भारतीय जनता पार्टी के खाते में पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, शिवहर, मधुबनी, अररिया, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, महाराजगंज, सारण, उजियारपुर, बेगुसराय, पटना साहिब, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, सासाराम और औरंगाबाद सीट आई हैं.
इन 17 सीटों पर लड़ेगी जेडीयू
नीतीश कुमार की जनता दल यूनाइटेड जिन 17 सीटों पर चुनाव लड़ेगी, उनमें वाल्मीकिनगर, सीतामढ़ी, झंझारपुर, सुपौल, किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, मधेपुरा, गोपालगंज,  सिवान, भागलपुर,बांका, मुंगेर, नालंदा, काराकाट,जहानाबाद और गया शामिल हैं.
एलजेपी को मिलीं ये 6 सीटें
रामविलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी के खाते में गठबंधन के तहत जो 6 सीटें आई हैं, उनमें वैशाली, हाजीपुर, समस्तीपुर, खगड़िया, जमुई और नवादा हैं.
गिरिराज सिंह व शाहनवाज हुसैन की सीट जेडीयू के पास
गठबंधन फॉर्मूले के तहत जो 17 सीटें जनता दल यूनाइटेड को मिली हैं, उनमें भागलपुर व नवादा भी शामिल हैं. नवादा सीट से बीजेपी के सिटिंग सांसद गिरिराज सिंह हैं, लेकिन अब यह सीट एलजेपी के पास चली गई है. अब चर्चा है कि गिरिराज को बेगुसराय से टिकट मिल सकता है.
दूसरी तरफ पार्टी के मुस्लिम चेहरे और राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन की भागलपुर सीट भी बीजेपी के पास नहीं रही. अब यह सीट जेडीयू को मिल गई है. ऐसे में शाहनवाज हुसैन को किस सीट से उतारा जाएगा, इसे लेकर भी गहमागहमी है. यहां तक कि शाहनवाज समर्थकों का गुस्सा भी सामने आने लगा है.
शाहनवाज हुसैन 2004 में हुए उपचुनाव में यहां से जीते थे, इसके बाद 2009 में भी वह यहां से सांसद बने. हालांकि, 2014 में वो महज 8 हजार वोट से हार गए. लेकिन शाहनवाज हुसैन हार के बाद भी भागलपुर का दौरा करते रहे. अब जबकि उनका टिकट यहां से न होने की खबर सामने आई तो बीजेपी कार्यकर्ताओं में मायूसी भी देखने को मिली.

 

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *