Nationalwheels

एमजे अकबर पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली पत्रकार रमानी को जमानत

एमजे अकबर पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली पत्रकार रमानी को जमानत
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
दिल्ली की एक अदालत ने मी-टू अभियान के कारण मोदी मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने के लिए बाध्य हुए भाजपा नेता एमजे अकबर द्वारा दायर मानहानि के मामले में सोमवार को पत्रकार प्रिया रमानी को जमानत दे दी. ‘मी टू’ अभियान के दौरान रमानी ने तत्कालीन केंद्रीय मंत्री अकबर के खिलाफ यौन शोषण का आरोप लगाया था.
इस मामले को लेकर अकबर ने प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया, जिसमें रमानी को बतौर आरोपी समन किया गया था. अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल ने 10,000 रुपये के मुचलके पर रमानी के जमानत दे दी. रमानी पूर्व में एमजे अकबर के साथ काम कर चुकी हैं.
अदालत ने पाया कि अकबर के खिलाफ लगाए गए आरोप पहली नजर में मानहानि कारक हैं और उन्होंने सभी आरोपों को ‘‘फर्जी तथा मनगढ़ंत’’ बताया है. इसके बाद अदालत ने रमानी को अपने समक्ष पेश होने को कहा था.
रमानी का आरोप है कि 20 साल पहले जब अकबर संपादक थे तब उन्होंने रमानी का यौन शोषण किया था. हालांकि, पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने आरोपों से इनकार किया है.
https://twitter.com/ANI/status/1099897733043884032
रमानी के आरोपों के बाद अकबर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली कई महिलाएं सामने आई थीं. हालांकि, कुछ ने इस मामले को ज्यादा आगे नहीं बढ़ाया.
गौरतलब है कि देश में पिछले साल ‘मी टू’ अभियान ने जब जोर पकड़ा तब अकबर का नाम भी सोशल मीडिया में आया. उन दिनों वह नाइजीरिया में थे. रमानी के आरोपों के बाद अन्य महिलाओं की ओर से भी अकबर का नाम लिए जाने के बाद उन्हें मोदी मंत्रिमंडल से इस्तीफा देना पड़ा था. उन्होंने 17 अक्तूबर को केंद्रीय मंत्रिपरिषद से इस्तीफा दे दिया था.

 

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *