Nationalwheels

महिला यात्रियों को रेलवे का तोहफा, राजधानी, दूरंतो और दूसरी एसी ट्रेनों के एसी-3 कोचों में महिलाओं के लिए छह बर्थ का कोटा तय

महिला यात्रियों को रेलवे का तोहफा, राजधानी, दूरंतो और दूसरी एसी ट्रेनों के एसी-3 कोचों में महिलाओं के लिए छह बर्थ का कोटा तय
रेलवे ने ट्रेनों में अकेले चलने वाली महिलाओं को राहत प्रदान की है. रेलवे बोर्ड ने सभी राजधानी, दूरंतो और AC एक्सप्रेस ट्रेनों के एसी-3 कोचों में छह-छह बर्थ का कोटा तय कर दिया है. बर्थ के इस कोटे का इस्तेमाल महिला के अकेली या समूह में होने पर किया जा सकता है. महिला के लिए किसी खास उम्र का होना जरूरी नहीं है.
ट्रेनों में अकेली चलने वाली महिलाओं के लिए कई मौकों पर बर्थ न मिलने से काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है. इस समस्या को देखते हुए रेल मंत्रालय ने अपनी यात्रा सकुशल संपन्न करने के उद्देश्य से महिला यात्रियों के लिए ट्रेनों में आरक्षित बर्थ निर्धारित करने का निर्णय लिया है.
तय हुआ कि सभी राजधानी/ दूरंतो/पूरी तरह से वातानुकूलित ट्रेनों के3-एसी कक्षा में छह बर्थों का आरक्षण कोटा महिला यात्रियों के लिए निर्धारित किया जाना चाहिए. इस यात्रा के लिए महिलाओं के अकेले या समूह में होने और उम्र जैसी शर्तों के प्रतिबंध से छूट दी गई है.
वर्तमान में यह सुविधाएं पहले से ही उपलब्ध
मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों के स्लीपर क्लास में 6 स्लीपर क्लास बर्थ का आरक्षण कोटा महिला के यात्रियों के लिए तय है. इसमें भी महिला किसी भी उम्र की हो, अकेले यात्रा या महिला यात्रियों के समूह में यात्रा कर रही हों, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. गरीब रथ एक्सप्रेस ट्रेनों के 3-एसी कक्षा में भी 6 बर्थों का आरक्षण कोटा महिला यात्रियों के लिए निर्धारित किया गया है.
सभी ट्रेनों के स्लीपर क्लास में प्रति कोच के छह निचले बर्थों का एक संयुक्त कोटा और एसी-3 स्तरीय और एसी -2 स्तरीय वर्गों में प्रति कोच के 3 निचली बर्थ वरिष्ठ नागरिक और 45 वर्ष की महिला यात्रियों के लिए निर्धारित किया गया है. इसमें महिला यात्रियों के साथ उम्र और गर्भवती महिला होने की शर्त है.
गौरतलब है कि राजधानी, दुरंतो और पूरी तरह से वातानुकूलित/एक्सप्रेस ट्रेनों के 3-एसी कोच में इस कोटा के तहत निर्धारित लोअर बर्थों की संख्या चार रखी गई है. सामान्य कोच/एक्सप्रेस ट्रेनों में प्रति कोच के 3 निचले बर्थ ही मिल रहे हैं.

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *