Nationalwheels

राहुल गांधी का दावा- रघुराम राजन से भी सलाह लेकर बनाई न्याय योजना, गरीबी पर होगी सर्जिकल स्ट्राइक

राहुल गांधी का दावा- रघुराम राजन से भी सलाह लेकर बनाई न्याय योजना, गरीबी पर होगी सर्जिकल स्ट्राइक
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने न्यूनतम आय गारंटी योजना के अपने चुनावी वादे का बचाव किया है. उनका दावा है कि न्याय योजना के जरिए वह भारत की कल्पनाओं पर कब्जा करने में कामयाब रहे हैं. चौतरफा इस योजना की चर्चा हो रही है. राहुल गांधी का दावा है कि यह योजना “गरीबी पर सर्जिकल स्ट्राइक” साबित होगी.
कांग्रेस जिसे NYAY योजना कह रही है, उसमें पांच करोड़ गरीब परिवारों को न्यूनतम आय के रूप में 72,000 रुपये प्रदान करेगी, जिससे लगभग 25 करोड़ लोगों के लाभान्वित होने का दावा किया जा रहा है. राहुल गांधी ने कहा कि जनता योजना की खूबियों और अवगुणों पर बहस कर रही है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लोकसभा चुनाव के दौरान इस स्कीम को वोट जुटाने के लिए मास्टर स्ट्रोक की तरह देख रहे हैं.
राहुल गांधी ने कहा कि योजना के ऐलान के पहले उनकी पार्टी ने आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन सहित “बड़े अर्थशास्त्रियों” से विचार-विमर्श किया है. जयपुर में कांग्रेस की एक बैठक को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि कांग्रेस ने “सभी बड़े अर्थशास्त्रियों से सलाह ली, बिना किसी को बताए, बिना कोई भाषण दिए.” “हम छह महीने से इस काम में लगे थे. दुनिया के सभी बड़े अर्थशास्त्रियों की सूची लेकर हमने उनसे सलाह ली … रघुराम राजन … एक-एक करके.”
राहुल गांधी के अनुसार न्यूनतम आय गारंटी योजना एक निश्चित पटाखा है. सूरतगढ़ में दिन की अपनी पहली रैली में राहुल गांधी ने कहा कि न्यूनतम आय योजना का वाद एक “बड़ा धमाका” था, “धमाका है … बम फटेगा (यह एक बड़ा धमाका है … एक बम होगा). उनका कहना है कि यह गरीबी पर कांग्रेस की सर्जिकल स्ट्राइक है. उन्होंने (भाजपा) गरीबों को खत्म करने के लिए काम किया. हम गरीबी को खत्म करेंगे.”
उन्होंने कहा कि गरीबों की मदद करने के लिए “हमने सोचा कि इसे कैसे किया जाना चाहिए. चर्चा और विचार-मंथन के बाद, हमने सोचा कि न्यूनतम आय 12,000 रुपये प्रति माह होनी चाहिए. 2019 में कांग्रेस की सरकार बनने के तुरंत बाद भारत में न्यूनतम आय लाइन 12,000 रुपये प्रति माह होगी.”
गौरतलब है कि सोमवार को राहुल गाधी के ऐलान के बाद केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली, केंद्रीय मंत्री मुक्तार अब्बास नकवी और नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने अलग-अलग बयानों में कहा कि यदि कांग्रेस की यह योजना लागू की जाती है तो इससे देश का विकास ठप पड़ जाएगा. साथ ही महंगाई दर पांच फीसदी से ऊपर निकल जाएगी. लोगों में काम न करने की भावना विकसित होगी.

 

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *