Nationalwheels

महाराष्ट्र सीएम बनने की अटकलों को नितिन गडकरी ने किया खारिज, कहा- आरएसएस और भागवत का भी इससे कोई लेना-देना नहीं

महाराष्ट्र सीएम बनने की अटकलों को नितिन गडकरी ने किया खारिज, कहा- आरएसएस और भागवत का भी इससे कोई लेना-देना नहीं
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की दौड़ में खुद के होने की अटकलों को फिर खारिज कर दिया है. गुरुवार की दोपहर गडकरी ने कहा कि वह वापस महाराष्ट्र नहीं आना चाहते हैं. महाराष्ट्र लौटने कहा सवाल ही नहीं है. उन्हें दिल्ली में ही काम करना है.
गडकरी ने कहा कि महाराष्ट्र में जल्द ही स्थायी सरकार बनेगी. जल्द ही इसका निर्णय हो जाएगा. देवेंद्र फणनवीस इसके मुख्यमंत्री होंगे. राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और इसके प्रमुख मोहन भागवत का इस मामले से कोई लेना-देना नहीं है.

दरअसल, पिछले दो दिनों से महाराष्ट्र में यह अटकलें जोरों पर हैं कि नितिन गडकरी शिव सेना को मनाएंगे. यह कहा जा रहा है कि नितिन गडकरी आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत से मिलकर इस मामले का पटाक्षेफ कर सकते हैं. गडकरी का नाम उछलने के पीछे शिव सेना को माना जा रहा है. पिछले दिनों शिव सेना के एक नेता आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को पत्र लिखकर कहा था कि शिव सेना को मनाने का काम नितिन गडकरी को सौंप दीजिए. वह दो घंटे के अंदर समस्या का समाधान कर देंगे.
यही नहीं, देवेंद्र फणनवीस की पिछली सरकार के दौरान भी शिव सेना और भाजपा सरकार के बीच खिंचाव बना रहा. शिव सेना ने पूरे पांच साल तक महाराष्ट्र में देवेंद्र फणनवीस सरकार के खिलाफ मोर्चा खुला रखा. शिव सेना नेता उद्धव ठाकरे आए दिन पार्टी के मुख पत्र सामना में फणनवीस सरकार और भाजपा के खिलाफ संपादकीय लिखते रहे हैं.
कई मामलों में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फैसलों की भी आलोचना की. बाद में नितिन गडकरी के प्रयास से दोनों पार्टियों के बीच सुलह हो सकी. इसके बाद ही दोनों पार्टियों ने महाराष्ट्र में गठबंधन करके चुनाव लड़ा. विधानसभा चुनाव परिणाम सामने आने के बाद शिव सेना ने मुख्यमंत्री पद की मांग रखकर भाजपा को मुश्किलों में डाल दिया है.

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *