Nationalwheels

लश्कर-ए-तैयबा प्रमुख हाफिज सईद के पैसे से गुड़गांव में खरीदा गया फ्लैट, जब्त

लश्कर-ए-तैयबा प्रमुख हाफिज सईद के पैसे से गुड़गांव में खरीदा गया फ्लैट, जब्त
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
टेरर फंडिंग को लेकर एनआईए और प्रवर्तन निदेशालय की जांच में लश्कर-ऐ-तैयबा को लेकर को लेकर बड़ा खुलासा किया है. ईडी ने कश्मीरी व्यवसायी जहूर अहमद शाह वटाली की गुरुग्राम में तकरीबन एक करोड़ रुपये की संपत्ति को जब्त किया है. जांच के दौरान खुलासा हुआ है कि यह फ्लैट पाकिस्तान में घूम रहा आतंकी सरगना हाफिज सईद के पैसे से खरीदा गया है.
ईडी के वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि यह कार्रवाई धनशोधन निरोधक अधिनियम (पीएमएलए एक्ट) के तहत की गई है. हाफिज सईद 2008 के मुंबई आतंकी हमले का मास्टरमाइंड है. ईडी सूत्रों का दावा है कि गुुरुग्राम का यह विला आतंकी हाफिज सईद के फाइनेंसर कश्मीरी व्यापारी जहुर अहमद शाह वटाली ने खरीदा था. पिछले साल ही वटाली को एनआइए ने आतंकी संगठनों को फंडिंग करने के मामले में दबोचा था.
जहूर अहमद शाह वटाली पर आरोप है कि वह लश्कर-ए-तैयबा के प्रमुख हाफिज सईद का बैंकर और फाइनेंसर है. कश्मीरी व्यवसायी जहूर अहमद वटाली की गुरुग्राम में स्थित इस संपत्ति की बाजार मूल्य के हिसाब से कीमत एक करोड़ रुपये से अधिक है.
बताते हैं कि लश्कर-ए-तैयबा प्रमुख हाफिज के खिलाफ राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने एक आरोप पत्र दाखिल किया था. एनआईए ने 2017 में आतंकियों को मदद देने के आरोप में वटाली समेत 18 व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. मामले में एनआइए जांच अब भी जारी है. पिछले सप्ताह कश्मीर में तीन दिनों तक चले ऑपरेशन में दर्जनों लोगों के घरों पर एनआईए ने छापेमारी की है. इसमें पाक समर्थित कई कट्टरपंथी नेता भी शामिल हैं.
चर्चा यह भी है कि यह विला फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन के पैसों से खरीदा गया था, जिसे सईद पाकिस्तान में चलाता है. यह भी बताया जा रहा है कि विला खरीदने के लिए यह पैसा संयुक्त अरब अमीरात से हवाला के जरिए भारत पहुंचा था. इस पैसों का मकसद आतंकी गतिविधियों को अंजाम देना भी था.
कौन है हाफिज सईद
  • मुंबई आतंकी हमले का मास्‍टरमाइंड है हाफिज मोहम्मद सईद
  • हमेशा कश्‍मीर में जेहाद और भारत के खिलाफ आग उगलता रहता है
  • इसके ऊपर अमेरिका ने एक करोड़ डॉलर का इनाम घोषित कर रखा है, लेकिन वह पाकिस्‍तान में बेखौफ घूम रहा है।
  • आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का संस्थापक और वर्तमान में जमात-उद-दावा का सरगना हाफिज सईद का जन्‍म पाकिस्‍तान के पंजाब प्रांत के सरगोधा में 10 मार्च 1950 को हुआ था।
  • वह भारत की सर्वाधिक वांछित अपराधियों की सूची में शामिल है।
  • मुंबई की 26/11 हमले में उसका हाथ होने की बात सामने आई थी जिसमें छह अमेरिकी नागरिक समेत 166 लोग मारे गए थे। भारत तब से पाकिस्तान से लगातार उसे सौंपने को कहता रहा है।
  • अमेरिका ने दुनिया में ‘आंतकवाद के लिए जिम्मेदार’ लोगों की सूची जारी की है उसमें हाफिज सईद का भी नाम है। उस पर अमेरिका ने एक करोड़ डॉलर का इनाम घोषित कर रखा है।
  • मजे की बात यह है कि वह आजादी से पाकिस्तान में घूम रहा है और सार्वजानिक तौर पर सभाओं को संबोधित कर रहा है।
  • सईद अरबी और इंजीनियरिंग का पूर्व प्राध्यापक रहा है। वह जमात-उद-दावा का संस्थापक है। यह एक चरमपंथी इस्लामी संगठन है जिसका मकसद भारत के कुछ हिस्सों और पाकिस्तान में इस्लामी शासन स्थापित करना है। हाफिज ने यह संगठन तब बनाया था ज‍ब पाकिस्‍तान में लश्कर-ए-तैयबा पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।
  • मुंबई आतंकी हमलों में उसकी भूमिका को लेकर भारत ने सईद के खिलाफ इंटरपोल रेड कार्नर नोटिस जारी कर रखा है, वहीं अमेरिका ने उसे विशेष निगरानी सूची में रखा है।
Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *