Kumbh2019 प्रयागराज के नवनिर्मित प्रयागघाट टर्मिनल पर पहुंची लखनऊ इंटरसिटी बनी पहली ट्रेन

        

प्रयागराज के लोगों के लिए कुंभ-2019 एक बड़ी सौगात लेकर हाजिर हो चुका है. शुक्रवार को कुंभ मेला के सबसे नजदीक पड़ने वाले उत्तर रेलवे का नवनिर्मित प्रयागघाट स्टेशन चालू हो गया. करीब 98 करोड़ रुपये की लागत से टर्मिनल के रूप में विकसित प्रयागघाट स्टेशन पर पहली ट्रेन के रूप में लखनऊ इंटरसिटी पहुंची. 

गाड़ी संख्या 14209/14210 प्रयाग-लखनऊ इंटरसिटी तय अवधि में दोपहर को प्रयाग स्टेशन पर सवारियों को उतारने के बाद प्रयागघाट स्टेशन पर लाई गई. प्रयागघाट तक इस ट्रेन को चलाकर ट्रैक का ट्रॉयल लिया गया. ट्रैक को पूरी तरह फिट बताया गया है.

प्रयागघाट के स्टेशन अधीक्षक एएस पाठक के अनुसार प्रयागघाट टर्मिनस पर कुल 11 लाइनों का निर्माण किया गया है. इसमें पांच लाइनें प्लेटफार्म के लिए हैं. शुक्रवार को दो प्लेटफार्म चालू कर दिए गए हैं. अन्य प्लेटफार्म भी अगले तीन-चार दिनों में परिचालन विभाग को मिल जाएंगे. प्रयागघाट में ट्रेनों की धुलाई-सफाई आदि के भी इंतजाम किए गए हैं.
एएस पाठक ने बताया कि कुंभ मेला के पहले ही प्रयाग स्टेशन से चलने वाली फैजाबाद की दो पैसेंजर, जौनपुर की एक पैसेंजर, कानपुर की एक पैसेंजर, बरेली की दो पैसेंजर ट्रेनों के साथ ही प्रयाग-चंडीगढ़ ऊंचाहार एक्सप्रेस, प्रयाग-कानपुर इंटरसिटी एक्सप्रेस, प्रयाग-लखनऊ इंटरसिटी एक्सप्रेस और प्रयाग-गाजीपुर डीएमयू का संचालन भी प्रयागघाट से शुरू कर दिया जाएगा.

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक इलाहाबाद जंक्शन से चलने वाली गंगा-गोमती एक्सप्रेस, नौचंदी एक्सप्रेस, सरयू एक्सप्रेस और इलाहाबाद-जौनपुर एक्सप्रेस को भी प्रयागघाट टर्मिनल स्टेशन से ही चलाने की योजना है. रेलवे अफसरों का कहना है कि निकट भविष्य में प्रयागघाट स्टेशन से लंबी दूरी की कुछ ट्रेनें भी चलाई जा सकती हैं.
प्रयागघाट से 14 मेला स्पेशल ट्रेनें
कुंभ मेला में स्नानार्थियों की सुविधा के लिए उत्तर रेलवे प्रशासन 14 मेला स्पेशल ट्रेनों का संचालन करेगा. यह ट्रेनें प्रयागघाट से ही जौनपुर, अयोध्या, लखनऊ और वाराणसी की ओर संचालित की जाएंगी.

बाकी हैं अभी काफी कार्य
ट्रेन का ट्रॉयल तो हो गया है लेकिन स्टेशन पर यात्री सुविधाओं और ट्रेन परिचालन के काफी कार्य शेष हैं. प्लेटफार्मों की सफाई, लाइटिंग, फिनिशिंग, टिकट बुकिंग, आरक्षित टिकटों की बिक्री, जलापूर्ति, सिगनलिंग, विद्युतीकरण और खानपान स्टॉल के निर्माण आदि कार्य होने शेष हैं.
फाफामऊ-प्रयाग-जंक्शन सेक्शन पर आराम
प्रयाग स्टेशन पर कई ट्रेनों के रुकने के कारण सुबह और शाम को फाफामऊ-प्रयाग-इलाहाबाद जंक्शन के बीच करीब 12 किमी का रेल सेक्शन यात्रियों के लिए काफी मुसीबतभरा साबित होता है. दूसरे शहरों से वक्त पर पहुंचने वाली ट्रेनें फाफामऊ और प्रयाग में लाइन क्लीयरेंस के चक्कर में घंटों खड़ी रह जाती हैं. संभावना है कि प्रयागघाट टर्मिनस चालू होने पर इस दिक्कत का कुछ समाधान निकल सके.

 

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

NationalWheels will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.