पहले टेस्ट मैच में 154 पर भारत की आधी टीम आउट, आस्ट्रेलिया से सीरीज जीतने का है लक्ष्य

भारत और आस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की श्रृंखला का 1st Test मैच एडिलेड ओवल में खेला जा रहा है. टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए टीम इंडिया ने 6 विकेट खोकर 154 रन बनाए हैं. चेतेश्वर पुजारा (55) और आर. अश्विन (7)  क्रीज पर हैं.
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज के पहले मुकाबले में भारत की शुरुआत बेहद खराब रही. पृथ्वी शॉ के चोटिल होने के बाद इस मैच में मुरली विजय और केएल राहुल को ओपनिंग का जिम्मा मिला. लेकिन, ये दोनों ही फ्लॉप साबित हुए. मैच के दूसरे ही ओवर में 3 रन के कुल स्कोर पर जोश हेजलवुड ने केएल राहुल को एरॉन फिंच के हाथों कैच आउट कराकर भारत को पहला झटका दे दिया. राहुल 2 रन बनाकर आउट हुए. 
प्रैक्टिस मैच में शतक जड़ने वाले मुरली विजय का बल्ला भी खामोश रहा और राहुल के बाद वह भी पवेलियन लौट गए. मुरली विजय (11) को भारत के 15 के स्कोर पर मिशेल स्टार्क ने अपना शिकार बनाया. कप्तान टिम पेन ने विकेट के पीछे विजय का कैच पकड़ा.
पुजारा का साथ देने आए कप्तान कोहली (3)भी अधिक समय तक मैदान पर नहीं टिक सके. पैट कमिंस ने भारत को तीसरा झटका दिया, जब 19 के स्कोर पर विराट कोहली को उस्मान ख्वाजा ने लपका.
पुजारा ने अजिंक्य रहाणे (13) के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिए 22 रन ही जोड़े थे कि हेजलवुड ने इस साझेदारी को मजबूत होने से पहले ही तोड़ दिया. उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (13) को जोश हेजलवुड ने पीटर हैंडस्कॉम्ब के हाथों कैच कराया. 41 के स्कोर पर भारत को चौथा झटका लगा.
86 रन के कुल स्कोर पर नाथन लियोन ने रोहित शर्मा को मार्कस हैरिस के हाथों कैच आउट कराकर भारत को पांचवां झटका दे दिया. तेज खेल रहे ऋषभ पंत (25) का विकेट भी लियोन के खाते में गया, पेन ने कैच लपका.127 के स्कोर पर भारत को छठा झटका लगा. अब तक ऑस्ट्रेलिया के लिए इस पारी में जोश हेजलवुड और नाथन लियोन को दो-दो, वहीं मिशेल स्टार्क, पैट कमिंस को एक-एक सफलता मिली.
इससे पहले भारत ने टॉस जीता  और पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. कल घोषित 12 खिलाड़ियों में राोहित शर्मा अंतिम-11 में जगह बनाने में कामयाब रहे. हनुमा विहारी को बाहर बैठना पड़ा. ऑस्ट्रेलिया की ओर से मार्कस हैरिस ने टेस्ट पदार्पण किया है.
भारतीय क्रिकेट टीम का लक्ष्य 71 वर्षों में पहली बार कंगारुओं की धरती पर सीरीज जीतना है. पिछले विदेशी दौरों में दक्षिण अफ्रीका में भारत को टेस्ट सीरीज में 1-2 और इंग्लैंड में 0-4 से पराजय झेलनी पड़ी थी. दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के रूप में खुद को स्थापित कर चुके कोहली के लिए करिश्माई कप्तान कहलाने का भी यह सीरीज सुनहरा मौका है. ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर भारत ने अब तक 44 टेस्ट खेलकर सिर्फ पांच जीते हैं.
पिछले 71 साल में 11 दौरों पर भारत ने दो बार सीरीज ड्रॉ कराई. पहले सुनील गावस्कर की कप्तानी में 1980-81 और फिर सौरव गांगुली के कप्तान रहते 2003-04 में.
प्लेइंग इलेवन
भारत: विराट कोहली (कप्तान), केएल राहुल, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा,  ऋषभ पंत, आर. अश्विन, ईशांत शर्मा, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी.
ऑस्ट्रेलिया- टिम पेन (कप्तान), मार्कस हैरिस, एरॉन फिंच, उस्मान ख्वाजा, ट्रेविस हेड, शॉन मार्श, पीटर हैंडस्कॉम्ब, नाथन लियोन, मिशेल स्टार्क, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड.

 

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

NationalWheels will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.