NationalWheels

आस्ट्रेलिया से 146 रनों से भारत हारा दूसरा टेस्ट मैच, 26 से मेलबर्न में तीसरा टेस्ट

        
पर्थ की उछालभरी पिच से जैसे परिणाम की आशंका थी, दूसरे टेस्ट मैच के पांचवें दिन के पहले सत्र में परिणाम कुछ वैसा ही निकलकर सामने आया. गेंदबाजों के अच्छे प्रदर्शन के बाद भारतीय बल्लेबाज दूसरे मैच की दोनों पारियों में कमजोर मानी जा रही आस्ट्रेलियाई टीम के सामने घुटने टेक दिए. ऑस्ट्रेलिया की टीम ने भारत के खिलाफ चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 से पिछड़ने के बाद सीरीज 1-1 से बराबरी कर ली है. उसने भारत को दूसरे टेस्ट (Perth Test) में 146  रन से हरा दिया है.
ऑस्ट्रेलिया ने भारत को जीत के लिए 287 रन का लक्ष्य दिया था, लेकिन भारत की टीम महज 140 रन बनाकर आउट हो गई. अब दोनों टीमों के बीच 26 दिसंबर से तीसरा टेस्ट (Boxing test) मेलबर्न में खेला जाएगा. 

भारतीय टीम के गेंदबाजों ने ठीक-ठाक प्रदर्शन किया. भारतीय गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में 326 और दूसरी पारी में 243 रन पर रोक दिया. इसके जवाब में भारत की टीम पहली पारी में 283 और दूसरी पारी में 140 रन ही बना सकी. दूसरी पारी में भारत के चार बल्लेबाज खाता भी नहीं खोल सके. ओपनर केएल राहुल, इशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह बिना खाता खोले आउट हुए. मोहम्मद शमी (0) नाबाद रहे. 
नाथन लॉयन मैन ऑफ द मैच 
मैच से पहले कहा गया था कि इस पिच पर तेज गेंदबाजों को मदद मिलेगी. ऐसा हुआ भी, दोनों टीमों के तेज गेंदबाजों ने बल्लेबाजों को खूब परेशान किया. लेकिन इसके बावजूद मैच में सबसे अधिक विकेट नाथन  लॉयन ने लिए. उन्होंने पहली पारी में पांच और दूसरी पारी में तीन विकेट लिए और मैन ऑफ द मैच चुने गए. नाथन लॉयन ने पहले टेस्ट में भी आठ विकेट लिए थे. 
चौथे दिन ही मैच में पकड़ बना ली थी ऑस्ट्रेलिया ने 
ऑस्ट्रेलिया ने इस मैच पर चौथे दिन ही पकड़ बना ली थी. उसने पहली पारी में 326 रन बनाए. फिर भारतीय टीम को 283 रन पर समेट दिया. इस तरह ऑस्ट्रेलिया को 43 रन की महत्वपूर्ण बढ़त मिली. इसके बाद ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी 243 रन पर सिमटी. भारत को 287 रन का लक्ष्य मिला. 
ऐसे में माना जा रहा था कि पांचवें दिन के अंतिम सत्र तक खेल जा सकता है लेकिन ऐसा संभव नहीं हो सका. भारत की शुरुआत ही खराब रही. दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक पांच विकेट 112 रन पर निपट गए थे. चौथे दिन ही यह तय हो गया था कि भारतीय टीम की दूसरी पारी लंच ब्रेक से पहले सिमट सकती है. भारत का एक भी बल्लेबाज अर्द्धशतक तक नहीं पहुंच सका. 
 

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

NationalWheels will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.