Nationalwheels

बढ़नी बार्डरः सुरक्षा तंत्र के नाक के नीचे हो रही तस्करी

बढ़नी बार्डरः सुरक्षा तंत्र के नाक के नीचे हो रही तस्करी

कृष्णा नगर (नेपाल)। भारत नेपाल का सबसे खुला बॉर्डर होने की वजह से बढ़नी बॉर्डर तस्करी के लिए भी प्रसिद्ध है

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
  • मटर ,तिल व बकरियों की तस्करी को लेकर बढ़नी बार्डर चर्चा में.

एसएन तिवारी

कृष्णा नगर(नेपाल)। भारत नेपाल का सबसे खुला बॉर्डर होने की वजह से बढ़नी बॉर्डर तस्करी के लिए भी प्रसिद्ध है। इन दिनों इस बार्डर से भारी पैमाने पर बकरियों की तस्करी हो रही है, वह पुलिस और एस एसबी पोस्ट के बिल्कुल बगल से।इतना ही नहीं बकरियों की तस्करी में किसी ऐसे रसूखदार तस्कर गिरोह की संलिप्तता है जिस पर हाथ डालने पर मुकामी सुरक्षा तंत्र कतरा ही रहा है, नेपाल के सीमायी क्षेत्र की पुलिस भी हाथ बटोरे हुए है।
बढ़नी इंटर कॉलेज के बगल में पुलिस चौकी की स्थापना उस समय के अधिकारियों ने शायद यही सोच के किया होगा कि नगर से सटे खुली सीमा का दुरुपयोग कम होगा और अवांछितों पर लगाम लगाना भी आसान होगा ,लेकिन सुरक्षा तंत्र इसमे कामयाब नहीं हो पा रहा लिहाजा तस्करी की गतिविधियां समेत सबकुछ पूर्व की भांति बददस्तूर जारी है।
सबसे चिंताजनक बात ये है कि बकरी के तस्करी में उन छोटे बच्चों का इस्तेमाल किया जा रहा है जिनका आभी खेलने व पढ़ने लिखने की उम्र है ।पुलिस चौकी के बगल से बकरी नेपाल जाती है जिसको बच्चे चराने के बहाने बॉर्डर उस पार कर देते हैं और पुलिस मूकदर्शक बनी रहती है ।
नेपाल से मटर की दाल व तिल की भी तस्करी हो रही है। तस्करी कर मटर ला रही एक महिला कैरियर से पूछा तो बोली कि वह किसी तेजयी नाम के आदमी का माल ढोती है । चौकी के बगल में गांधी इंटर कॉलेज के चौकीदार ने कई बार तस्करों को चेतावनी दिया की इस तरह के कार्य इधर से न करे। इससे बच्चों की मानसिकता पर बुरा असर पड़ेगा लेकिन वे नहीं माने। बकरी तस्करी के मामले में ज्ञात हुआ है कि बहराइच का एक बड़ा बकरा व्यापारी इसमें लिप्त है जिसका नेपाल के बड़े राजनेताओं तक अच्छी पंहुच है।कहना न होगा कि बकरियां जब तस्करी कर सीमा पार लायी जाती हैं तो यहां नेपाल पुलिस के जवान उसे अपने संंरक्षण में गंतव्य तक पहुंचाते हैं।
स्थानीय पुलिस बकरी तस्करी की बात तो स्वीकार करती है लेकिन यह भी कहती है कि इधर कैब के विरोध को लेकर लगे धारा 144 के अनुपालन में ब्यस्तता के चलते उस ओर ध्यान कम जा पा रहा है।तस्कर हमारी ब्यस्तता का नाजायज फायदा उठा रहे हैं। इस पर शीघ्र ही नियंत्रण पा लिया जाएगा।

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *