Nationalwheels

अमेरिका में इमरान खान का कबूलनामा- पाकिस्तान में हैं 40 हजार आतंकी

अमेरिका में इमरान खान का कबूलनामा- पाकिस्तान में हैं 40 हजार आतंकी
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
अब भारत जिस बात को चीख-चीखकर दुनिया के सामने कहता रहा है और पाकिस्तान उसे नकारता रहा है. भारत सरकार के कूटनीतिक जंग के बीच पाकिस्तान ने खुद ही दुनिया के सामने स्वीकार लिया है कि उसके देश में 30-40 हजार आतंकी रह रहे हैं. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने तीन दिवसीय अमेरिका यात्रा के अंतिम दिन स्वीकार किया कि उनके देश में 40 आतंकी संगठन हैं. इनसे जुड़े हुए आतंकी पाकिस्तान में प्रशिक्षण प्राप्त करते हैं और कश्मीर व अफगानिस्तान में हमले करते हैं. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के इस कबूलनामे ने भारत की बात को स्थापित करने का काम किया है. हालांकि, प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस कबूलनामे का प्रयोग खुद के पीड़ित होने के रूप में किया है. उधर, इमरान खान का यह कबूलनामा भारत की बड़ी कूटनीतिक जीत भी कही जा सकती है.
इमरान खान ने यह दावा भी किया कि उनके देश की पूर्ववर्ती सरकारों ने दुनिया से इस सच को छिपाए रखा. गौरतलब है कि भारत के साथ अफगानिस्तान और ईरान भी लगातार यह आरोप लगाते रहे हैं कि उनके देशों में होने वाली आतंकी गतिविधियों के लिए पाकिस्तान की धरती पर पल और बढ़ रहे आतंकी संगठन तालिबान, हक्कानी नेटवर्क, जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर-ए-तैयबा समेत अन्य संगठन जिम्मेदार हैं. बता दें कि इसके एक दिन पहले ही इमरान खान ने यह भी स्वीकारा था कि पाकिस्तान में ही छिपे ओसामा बिन लादेन को उसकी खुफिया एजेंसी आईएसआई की मदद से अमेरिका ने तलाश किया था. अप्रत्यक्ष रूप से उन्होंने यह मान लिया था कि लादेन पाकिस्तानी बलों की जानकारी में उनके देश में छिपा था.
अमेरिकी थिंक टैंक यूएस इंस्टीट्यूट ऑफ पीस के सामने इमरान ने कहा कि उनसे पहले की 15 सालों में रही सरकारों ने दुनिया के सामने सच को नहीं आने दिया. पूर्व की सरकारों में आतंकवाद से लड़ने की इच्छाशक्ति नहीं थी. उनकी सरकार के सत्ता में आने के बाद कार्रवाई शुरू हुई. उनकी सरकार ने आतंकी गुटों के मदरसों और संगठनों को सरकार के संरक्षण में ले लिया है. सरकार ने इन पर प्रशासकों की नियुक्ति कर दी है.
दौरे के वक्त इमरान खान लगातार पाकिस्तान को पाक-साफ बताने की कोशिश कर अमेरिका को रिझाने के प्रयास में लगे हैं. गौरतलब है कि भारत के दबावों के कारण अमरिका ने भी पाकिस्तान की आर्थिक मदद बंद कर दी है. कई वैश्विक संस्थाओं ने भी आर्थिक मदद से हाथ खींचे हैं. इसके कारण पाकिस्तान की दशा दयनीय हो चुकी है. हालांकि, इन बातों से इतर पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने अंतरराष्ट्रीय आतंकी हाफिज सईद की मुंबई हमलों में संलिप्तता और उसकी गिरफ्तारी को लेकर पूछे गए सवालों पर साफगोई नहीं दिखाई.
Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *