Nationalwheels

मौसम के संधिकाल में संचारी रोगों को नियंत्रित करेगा स्वास्थ्य विभाग, 1 मार्च से विशेष अभियान

मौसम के संधिकाल में संचारी रोगों को नियंत्रित करेगा स्वास्थ्य विभाग, 1 मार्च से विशेष अभियान

प्रयागराज: मौसम में बदलाव शुरू होने के साथ स्वास्थ्य विभाग पूरे जनपद में एक साथ 1 मार्च से 31 मार्च तक विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाया जायेगा

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
प्रीति सैनी
प्रयागराज: मौसम में बदलाव शुरू होने के साथ स्वास्थ्य विभाग पूरे जनपद में एक साथ 1 मार्च से 31 मार्च तक विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाया जायेगा. अभियान के दौरान स्वास्थ्य विभाग की टीम घर घर जा कर लोगों को संचारी रोगों एवं उनसे बचाव की जानकारी देंगी. साथ ही यह जानकारी देंगी कि घर और घर के आस पास सफाई रखने से संचारी रोगों से बचाव संभव हैं.
आशा एवं आंगनबाडी कार्यकर्ता लोगों को हाईजीन के बारे में जागरूक करेंगी और स्वास्थ्य की साफ़ सफाई की महत्वता बतायेंगी. अमित मोहन प्रसाद (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग) ने इस सम्बन्ध में सभी मुख्य चिकित्साधिकारी को आदेश जारी कर दियें हैं.
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान का नोडल विभाग हैं और संचारी रोगों एवं दिमागी बुखार के मामलो की निगरानी करेगा. आशा, एएनएम एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के सहयोग से स्वास्थ्य विभाग समय से उपचार एवं रेफर करने हेतु सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) स्तर पर मरीजो की ट्रेकिंग करेगा.
आशा मलेरिया बुखार की जाँच करेगी और रोगियों के बुखार की व्यवस्था करेगी. एवं रेफर किये गए रोगियों के लिए निशुल्क परिवहन की व्यवस्था भी उपलब्ध कराएगी.  स्वास्थ्य विभाग घनी आबादी वाले क्षेत्रो में लार्वारोधी गतिविधियाँ भी चलाएगा. लोगों को व्यवहार परिवर्तन के लिए जागरूक भी किया जायेगा. अभियान के दौरान आशा आंगनबाड़ी घर घर जाकर संचारी रोगों ( छोटी माता, चेचक, हैजा, डेंगू बुखार, हेपेटाइटिस-ए, हेपेटाइटिस-बी और सी) के प्रति भी जागरूक करेंगी. अभियान के दौरान स्कूलों में प्रार्थना के दौरान संचारी रोगों के बारे में जानकारी दी जाएगी. हाईजीन के बारे में जागरूक करेगा.
मुख्य चिकित्साधिकारी मेजर डॉ. गिरजा शंकर बाजपेई ने बताया अभियान की तैयारियां चल रही हैं. जनपद स्तरीय टास्क फ़ोर्स बैठक की जा चुकी हैं. ब्लाक स्तरीय अन्तर्विभागीय बैठके आयोजित की जाएंगी, जिससे सभी विभाग एक साथ होकर कार्य करे और कार्यक्रम को सफल बनाते हुए एकजुट हो.  नोडल अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. ओपी भारस्कर अभियान को कोआर्डिनेट कर रहे हैं.
जिला मलेरिया अधिकारी के. पी द्विवेदी ने बताया कि अभियान के दौरान साफ़-सफाई, कचरा निस्तारण, जल भराव रोकने एवं शुद्ध जल उपलब्धता पर विशेष जोर दिया जायेगा. अभियान को सुचारू रूप से सञ्चालन के लिए अन्य विभागों केसाथ भी समन्वय स्थापित कर अभियान को क्रियावान किया जायेगा. इसी क्रम में विभागीय अधिकारीयों को प्रशिक्षित किया जा रहा हैं, ताकि आगे ये अपने क्षेत्र में अन्य स्वास्थ्य कर्मचारियों को प्रशिक्षित कर सके. उन्होंने बताया कि अभियान में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अलावा नगर विकास विभाग, पंचायती राज विभाग, पशुपालन विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, शिक्षा विभाग, चिकित्सा शिक्षा विभाग, समाज कल्याण विभाग, कृषि एवं सिचाई विभाग और सूचना विभाग को जिम्मेदारी सौपी गयी हैं.
कार्यक्रम संदर्भ में ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों का TOT (प्रशिक्षको का प्रशिक्षण) माघ मेला स्थित कैम्प कार्यालय में किया गया | उक्त प्रशिक्षण में ब्लॉक (अधीक्षक),स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी,BPM,BCPM ने प्रतिभाग प्रतिभाग किया है.

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *