Nationalwheels

#अंकुरण फाउंडेशन के स्थापना दिवस पर भी #Chinavirus का असर, पांच वरिष्ठ सदस्यों ने किया रक्तदान

#अंकुरण फाउंडेशन के स्थापना दिवस पर भी #Chinavirus का असर, पांच वरिष्ठ सदस्यों ने किया रक्तदान

सुल्तानपुर। एक दिन में 600 यूनिट रक्तदान कर रिकॉर्ड बनाने वाली समाज सेवी संस्था अंकुरण फाउंडेशन ने रविवार को अपना तीसरा स्थापना दिवस मनाया

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
जीतेन्द्र श्रीवास्तव
सुल्तानपुर। एक दिन में 600 यूनिट रक्तदान कर रिकॉर्ड बनाने वाली समाज सेवी संस्था अंकुरण फाउंडेशन ने रविवार को अपना तीसरा स्थापना दिवस मनाया। इस अवसर पर संस्था के पांच वरिष्ठ सदस्यों ने सावधानी के साथ रक्तदान भी किया व कोरोना महामारी में ड्यूटी निभा रहे वर्दीधारियों को चाय समोसा बांटा।
चाइना वायरस कोरोना कोविड 19 के चलते अंकुरण फाउंडेशन ने पूर्व निर्धारित वृहद रक्तदान का शिविर स्थागित कर दिया था लेकिन 5 अप्रैल को प्रतीकात्मक कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। इसमें वरिष्ठ सदस्य डॉ सुधाकर सिंह डॉ आशुतोष श्रीवास्तव संतोष सिंह राइडर अभिषेक सिंह व संतोष श्रीवास्तव ने रक्तदान किया।

जरूरतमंदों को बांटे राशन किट

अंकुरण फाउंडेशन द्वारा आज अपने तृतीय स्थापना दिवस के मौके पर अपने आपदा राहत प्रबंधन कार्यक्रम के तहत लॉक डाउन के 12वें दिन शहर में विभिन्न इलाकों में आज 27 जरूरतमंद परिवारों को 10 दिन का राशन किट उपलब्ध कराया गयाइसी के साथ संस्था द्वारा अबतक कोरोना वायरस महामारी के दौरान कुल 122 जरूरतमंद परिवारों को राशन किट उपलब्ध कराया गया।

लावारिस शव का किया दाह संस्कार

5 अप्रैल को अंकुरण परिवार ने अपने तृतीय स्थापना दिवस के दिन परिवार धर्म को निभाते हुए,, एक लावारिस शव का अंतिम संस्कार किया। 15 मार्च को यह लावारिस और घायल अवस्था में मिले थे , और जिला चिकित्सालय में भर्ती थे,,उम्र करीब 45 वर्ष रही होगी। 1 अप्रैल को जिला चिकित्सालय में ही इनका देहांत हो गया। प्रशासन द्वारा आज सूचना मिलते ही आज अंकुरण परिवार द्वारा इनका अंतिम संस्कार किया गया,, शव को मुखाग्नि अंकुरण परिवार से डॉ आशुतोष श्रीवास्तव और मो आरिफ खान द्वारा दी गयी।

अंकुरण एक कार्य अनेक

स्थापना के तीन साल में ही अंकुरण ने समाज सेवा के क्षेत्र में लंबी उछाल लगाई है फाउंडेशन के तत्वाधान में 3 सालो में अब तक कुल 2000+ यूनिट्स का रक्तदान किया गया है, जिसमे एक दिन में 600 यूनिट रक्तदान कर प्रदेश में सर्वाधिक रक्तदान किया गया। 8000+परिवारों को सर्दियों में ठंड के कपड़े एवं समय समय पर संस्था द्वारा उपलब्ध कराए गये।
संस्था द्वारा अभी तक कुल 20 मानसिक विक्षिप्त लोगो की सेवा की गई और उनको सकुशल घर पहुँचाया गया जो अपने घर से भटक गए थे। संस्था द्वारा अभी तक 22 लावारिस लाशों का अंतिम संस्कार किया जा चुका है। संस्था द्वारा प्रत्येक वर्ष डॉ सुधाकर सिंह के नेतृत्व में प्रत्येक वर्ष बरसात से पहले पूरे महीने जिले के हर विद्यालय में पर्यावरण सेवा दल के माध्यम से पर्यावरण जागरूकता अभियान चलाया जाता, जिसमे करीब 20,000+ पौधरोपण किये गए,निशुल्क-लेना निशुल्क- देना सिद्धांत के तहत अंकुरण बुक बैंक द्वारा प्रत्येक वर्ष करीब 200+ बच्चो को बुक बैंक के माध्यम से किताबे उपलब्ध कराई जाती है।

प्रत्येक वर्ष 17 ग़रीब, जरूरतमंद बच्चों के शिक्षा का खर्च (साल भर की स्कूल फीस, ड्रेस, कॉपी-किताब आदि) का पूरा खर्च संस्था द्वारा किया जाता है । मोतीदेवी रूरल टैलेंट एकेडमी द्वारा कक्षा ग्यारहवी और बारहवी के 60 छात्रों को निःशुल्क कोचिंग दी जाती है।
गर्मियों में राहगीरों के लिए शहर में 4 स्थानों पर स्थायी प्याऊ लगाया जाता, और समय समय पर शर्बत वितरण आदि भी किया जाता है।प्रत्येक वर्ष दुर्गापूजा में 5 दिन संस्था द्वारा आजाद पार्क में निःशुल्क मेडिकल कैम्प लगाया जाता है,और खोया पाया शिविर के साथ साथ प्याऊ लगाया जाता है। इसी क्रम में मोहम्मद साहब के जन्मदिन पर काफी वितरण एवं मेडिकल कैम्प लगाया जाता है।आज़ाद पार्क का सौदर्यीकरण और उसकी देखभाल संस्था द्वारा समय समय पर शहर में श्रमदान करके स्वच्छता जागरूकता अभियान चलाया जाता।अँकुरण परिवार द्वारा से समाज को दिया जाता है ।हिन्दू भाईयों द्वारा रोजाअफ्तार का आयोजन और नवरात्र में मुस्लिम भाइयों द्वारा फलाहार का आयोजन किया जाता है। अध्यक्ष डॉ आशुतोष श्रीवास्तव ने बताया कि समाज सेवी लोगों के सहयोग से ही जरूत्तमन्दों की मदद कर पाते है।

वर्दीधारियों में किया चाय-समोसा वितरण

अंकुरण फाउंडेशन द्वारा आज शहर में विभिन्न स्थानों पर ड्यूटी पर तैनात #कोरोना_फाइटर्स जो कोरोना जैसी महामारी के बीच दिन-रात हमारी आपके सेवा में डटे हुए है, उनके लिए आज अंकुरण परिवार द्वारा संस्था में तृतीय स्थापना दिवस के मौके पर चाय के साथ समोसा भी वितरित किया गया।

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *