Nationalwheels

बलिया के गोपालपुर घाट से 27 जनवरी को शुरू होगी गंगा यात्रा

बलिया के गोपालपुर घाट से 27 जनवरी को शुरू होगी गंगा यात्रा

बलिया : गंगा की अविरलता के लिए गंगा यात्रा का शुभारंभ अब जिले के गोपालपुर घाट से ही होगा

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
  • पीएन इंटर कालेज दूबेछपरा के परिसर में होगी सभा
  • जल मार्ग से सात किमी की दूरी तय कर बढ़ेगी नेशनल हाईवे से
  • लखनऊ से आएगा विशेष रथ, उसके पीछे चलेगा गंगा भक्तों का कारवां
शशिकांत तिवारी
बलिया : गंगा की अविरलता के लिए गंगा यात्रा का शुभारंभ अब जिले के गोपालपुर घाट से ही होगा। गंगा यात्रा से पूर्व पीएन इंटर कालेज दूबेछपरा के परिसर में जनसभा होगी। उसके बाद गंगा यात्रा की शुरुआत वहीं बगल के गोपालपुर घाट से होगी। जलमार्ग से यह यात्रा गंगापुर घाट तक जाएगी। जलमार्ग से करीब सात किलोमीटर की दूरी तय करने के पश्चात यह यात्रा पचरुखिया पहुंचेगी। यहां से यात्रा नेशनल हाईवे से होकर आगे बढ़ेगी। हल्दी, परसिया, दुबहड़, जनाड़ी, मोहनछपरा, सहरसपाली, जमुआ, पिपरा होकर बलिया पहुंचेगी। शहर में भव्य स्वागत सभा का आयोजन होगा। वहां से फिर यह यात्रा बहेरी, माल्देपुर, सागरपाली, फेफना, नरहीं, बैरिया, लक्ष्मणपुर, सुरहीं, सोहांव, गोविंदपुर खास होते हुए उजियार तक जाएगी। वहां भी एक स्वागत सभा होगी। इस प्रकार सड़क मार्ग से 60 किमी की दूरी तय की जाएगी।
जिलाधिकारी श्री​हरि प्रताप शाही ने की अध्यक्षता में शनिवार को कलेक्टेट सभागार में हुई बैठक में ये निर्णय लिए गए। यात्रा की भव्यता बढ़ाने के लिए विभिन्न क्षेत्रों से आए लोगों के सुझाव भी इस दौरान लिए गए। साथ ही डीएम ने सभी विभागों द्वारा किए जाने वाले कार्य को सबसे साझा किया।
जिलाधिकारी ने कहा कि गंगा संरक्षण के उद्देश्य से शुरू हो रही इस यात्रा के माध्यम से जितने लोग या संस्थाएं जुड़ रही हैं, उन्हें आगे भी जुड़े रहना होगा। गंगा हमारी धरोहर है और हम सबके प्रयास से ही इस धरोहर को अक्षुण्ण बनाए रखा जा सकता है। यह टीम आगे भी गंगा संरक्षण मुहिम में अपना योगदान देती रहेगी। जिलाधिकारी ने धार्मिक, सामाजिक, सांस्कृतिक क्षेत्र के लोगों के अलावा व्यापारी व अन्य हर क्षेत्र के लोगों का आह्वान किया कि इस यात्रा से जुड़ें। गंगा यात्रा की तैयारी को लेकर डीएम ने बताया कि इस कार्यक्रम के अंतर्गत विभिन्न विभागों के कैम्प लगेंगे जो अपनी योजनाओं की जानकारी आम जन को देंगे। उसके पहले हर गांव में साफ सफाई कराई जाएगी। उन्होंने एनसीसी, एनएसएस व स्कॉउट गाइड से भी अपेक्षित सहयोग करने का आह्वान किया। डीएम ने वालंटियर को ले जाने के लिए वाहनों की व्यवस्था करने का निर्देश परिवहन विभाग को दिया। बताया कि सड़क मार्ग से चलने के लिए लखनऊ से ही रथ आएगा, जिसके साथ लोग चलेंगे। माना जा रहा है कि दुबेछपरा में दस हजार के आसपास लोग जुटेंगे। वहीं स्वागत सभा में दो से तीन हजार भीड़ होने के मद्देनजर तैयारी करने का निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिया गया।
बनेगी मानव श्रृंखला, मोबाइल झांकी भी रहेगी साथ
बैठक में यह भी तय हुआ कि यात्रा के रूट पर पड़ने वाले स्कूलों के बच्चे मानव श्रृंखला बनाकर यात्रियों का स्वागत करेंगे। मोबाइल झांकी भी यात्रा के साथ में लेकर चलने पर विचार—विमर्श हुआ। यह दोनों जिम्मेदारी डीआईओएस को दी गयी।
गायत्री शक्तिपीठ के लोग करते चलेंगे गंगा जनजागरण
गायत्री शक्तिपीठ द्वारा बताया गया कि उनकी तरफ से एक रथ यात्रा के साथ ही चलेगा, जिसके माध्यम से गंगा की महिमा व व्यथा से सम्बंधित जागरुकता फैलाई जाएगी।
बैठक में इनकी रही सशक्त मौजूदगी
बैठक में इस यात्रा की तैयारी से जुड़े अधिकारियों के अलावा सीए बलजीत सिंह, टीडी कालेज की प्रो निशा राघव, एनसीसी के अधिकारी, स्कॉउट गाइड, व्यापार मंडल के संजीव कुमार डम्पू, दिव्य ज्योति संस्थान, पतंजलि, आर्ट ऑफ लिविंग व गायत्री शक्तिपीठ के प्रभारी के साथ सभी स्कूल-कालेज के प्रधानाचार्य-प्राचार्य मौजूद थे।

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *