Nationalwheels

कांग्रेस के मंच से नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने भाजपा के लिए मांगा वोट

कांग्रेस के मंच से नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने भाजपा के लिए मांगा वोट
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स

सौरभ सिंह सोमवंशी

प्रतापगढ़ लोकसभा क्षेत्र में सोमवार को कांग्रेस प्रत्याशी राजकुमारी रत्ना सिंह के समर्थन में हुई जनसभा में अजीबो-गरीब स्थिति उत्पन्न हो गई। जनसभा के मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे बसपा से कांग्रेस में शामिल नसीमुद्दीन सिद्दीकी की जुबान में सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के लिए कटुता साफ तौर पर दिख गई।
नसीमुद्दीन ने मंच पर माइक संभाला तो अन्य तमाम बातों और मुद्दों के साथ यह भी कह बैठे कि यदि आप कांग्रेस को वोट ना दें तो भारतीय जनता पार्टी को दे दीजिएगा। क्योंकि महागठबंधन को वोट देना भारतीय जनता पार्टी को वोट देने के बराबर है अर्थात अपना वोट बेकार करना है।
बताते हैं कि नसीमुद्दीन सिद्दीकी यह कहना चाह रहे थे कि कांग्रेस को वोट देना ही मुसलमानों के लिए फायदेमंद है, क्योंकि इसके अलावा महागठबंधन को वोट देना अपने वोट की बर्बादी करना है।
नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने प्रतापगढ़ के अंबेडकर चौराहा स्थित जनसभा को संबोधित करते हुए प्रतापगढ़ के कांग्रेस के कद्दावर नेता प्रमोद तिवारी को अपना राजनीतिक गुरु बताया। उन्होंने कहा कि जब हमने पहली बार विधानसभा का चुनाव जीता तो विधानसभा में राजनीति की एबीसीडी हमने प्रमोद तिवारी जी से ही सीखी।
उधर, नसीमुद्दीन सिद्दीकी की बात सुन सभा में बैठे लोगों में खुसर-पुसर शुरू हो गई। उनके पक्ष-विपक्ष में फौरन टिप्पणियां भी मिलने लगीं। मंच पर ही बगल बैठे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने बात को संभालने की कोशिश की।
प्रमोद तिवारी ने नसीमुद्दीन सिद्दीकी की बातों को विस्तार से रखते हुए कहा कि सिद्दीकी का तात्पर्य था कि प्रतापगढ़ में लड़ाई भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के मध्य है, इसलिए अपना वोट कांग्रेस को ही देने में भलाई है। यदि महागठबंधन को वोट दिया जाता है तो एक तरह से वह भारतीय जनता पार्टी को ही फायदा पहुंचाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *