Nationalwheels

सीएम कमलनाथ के करीबियों के यहां आयकर छापे में उभरा कांग्रेस का नाम, हवाला रैकेट से पहुंचे 20 करोड़

सीएम कमलनाथ के करीबियों के यहां आयकर छापे में उभरा कांग्रेस का नाम, हवाला रैकेट से पहुंचे 20 करोड़
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के ओएसडी प्रवीण कक्कड़, भतीते रतुल पुरी समेत 52 ठिकानों पर पड़े आयकर रेड के बाद उठा सियासी तूफान तीसरे दिन काफी हद तक कम हो चुका है लेकिन इस छापे की धमक का असर अब दिल्ली तक सुनाई देने लगा है. सीबीडीटी (केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड) ने सोमवार देर शाम दावा किया कि एक संगठित रैकेट ने कारोबार‍ियों, नौकरशाहों और नेताओं के जरिये 281 करोड़ रुपये की रकम जुटा ली थी.यही नहीं, रकम का एक हिस्सा दिल्ली में एक बड़े राजनीतिक दल के मुख्यालय में भेजा गया. कुछ मीडिया हाउस ने इस राजनीतिक दल की पहचान कांग्रेस के रूप में होने का दावा किया है.  दिल्ली के तुगलक रोड स्थित एक वरिष्ठ पार्टी पदाधिकारी के घर से 20 करोड़ रुपये पार्टी मुख्यालय भेजे गए. कहा जा रहा है कि यह रकम हवाला नेटवर्क के जरिए कांग्रेस तक पहुंची है. आयकर छापे में कांग्रेस का नाम उछलने के बाद राजनीतिक हलके में नया संग्राम छिड़ना तय है.मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीब‍ियों पर छापेमारी के बाद आयकर व‍िभाग ने प्रदेश में बड़े वसूली नेटवर्क का खुलासा क‍िया. दूसरी ओर आयकर जांच की जद में फंसे कमलनाथ के ओएसडी प्रवीण कक्कड़ ने आरोप लगाया है क‍ि आयकर व‍िभाग ने मेरे घर का दरवाजा तोड़कर प्रवेश क‍िया था.
दिल्ली में भी मारे गए छापों में 230 करोड़ रुपये के अघोषित लेन-देन, फर्जी बिलिंग के जरिए 242 करोड़ रुपये से अधिक इधर-उधर करने और टैक्स हैवन में 80 से अधिक कंपनियों के सबूत मिले हैं. दिल्ली में पॉश इलाकों में बेहिसाब और बेनामी संपत्तियों का भी खुलासा हुआ है.
आयकर विभाग ने एसएम मोइन नाम के एक शख्स के घर पर छापेमारी के बाद उसे पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है. इसके बाद वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अहमद पटेल के साथ उसकी तस्वीर भी सामने आई. हालांकि, इस तस्वीर की सत्यता की कोई  पुष्टि नहीं हुई है. बताया जा रहा है क‍ि मोइन कांग्रेस दफ्तर में मुख्य अकाउंटेंट है. जब वह सोमवार को दफ्तर नहीं आया तो अहमद पटेल उससे मिलने उसके घर पर गए थे.
गौरतलब है कि आयकर विभाग ने रविवार को भोर में 3 बजे मध्य प्रदेश, गोवा, पश्चिम बंगाल और दिल्ली के 52 ठिकानों पर छापे की कार्रवाई शुरू की थी. कार्रवाई का मुख्य केंद्र राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र स्थित एक समूह, भोपाल, इंदौर और गोवा थे. आयकर विभाग को छापे के दौरान हाथ से लिखी कई डायरियां, कंप्यूटर फाइल और एक्सेल फाइल मिलीं. इनमें बड़े पैमाने पर कैश के लेन-देन के प्रमाण मिले हैं. विभाग को 14.6 करोड़ रुपये की बेहिसाब नकदी और 252 विदेशी शराब की बोतलें, कई हथियार व बाघ की खालें तक मिलीं. बताया जा रहा है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद अफसरों के ट्रांसफर, पोस्टिंग आदि के लिए प्रवीण कक्कड़ ने भारी वसूली की.
एमपी के सीएम कमलनाथ के भांजे रातुल पुरी की कंपनी ह‍िंदुस्तान पॉवर से एक करोड़ नब्बे लाख रुपये आयकर व‍िभाग ने जब्त क‍िए हैं. छापे में कुल 14 करोड़ 60 लाख रुपये जब्त क‍िए हैं.ओएसडी प्रवीण कक्कड़ से जुड़े अश्विन शर्मा के आवास पर काले हिरण, टाइगर, हिरन, बाघ की खालें भी मिली हैं. इन सभी वस्तुओं को सीज कर दिया गया है. प्रतिबंधित जानवरों से जुड़े अवशेष मिलने की सूचना पर वन विभाग की टीम भी पहुंची. वन विभाग के अफसरों का कहना है कि मामले में वाइल्डलाइफ प्रोटेक्शन एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी.

 

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *