Nationalwheels

#Chinavirus नेपाल में जरूरी सामानों की न हो किल्लत, रखा जा रहा खास ध्यान

#Chinavirus नेपाल में जरूरी सामानों की न हो किल्लत, रखा जा रहा खास ध्यान

नौ कोरोना पाजिटिव मिलने से नेपाल स्वास्थ्य मंत्रालय चिंतित

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
नौ कोरोना पाजिटिव मिलने से नेपाल स्वास्थ्य मंत्रालय चिंतित
 यशोदा श्रीवास्तव
काठमांडू। भारत में 21 दिनों के लाकडाउन के खुलने में अभी सप्ताह भर बाकी है।14ता.इसके खुलने की संभावना है, वह भी कुछ शर्तों व भारी एहतियात के साथ।लेकिन यदि लाकडाउन की अवधि बढ़ी तो नेपाल में जरूरी खाद्य पदार्थों का संकट उतपन्न हो सकता है।नेपाल इसे लेकर चिंतित भी है और सतर्क भी।नेपाल उच्च प्रशासन लगातार भारतीय उच्च प्रशासन से संपर्क कर हालात पर नजर गड़ाए हुए है।
बता दें कि कोरोना वायरस के चलते दोनों देशों में लाकडाउन है। नेपाल में गैस,पेट्रोल, डीजल,फल,सब्जियां सहित अन्य तमाम रोजमर्रा के जरूरी सामग्री भारत से जाते हैं।लाकडाउन में इन सामानों की नेपान के लिए निर्वाध आपूर्ति में जरा भी रूकावट का मतलब नेपाल में हाहाकार।जरूरी सामानों की किल्लत और मंहगाई से नेपाल का जनजीवन प्रभावित हुए बिना नहीं रह सकता।इन सब सामानों को लेकर नेपाल में दिक्कतें शुरू भी हो गई है।
इस बीच नेपाल प्रशासन का दावा है कि बाजार में उपभोग्य सामग्रियों की कमी फिलहाल अभी नही है।जरूरी सामानों की कमी न होने पाए इसके लिए सीमा से मालवाहक वाहनों  के आवागमन में कोई बहुत बड़ी कमी नही होने पा रही है। भारत से नेपाल जाने वाले बड़े और व्यस्ततम मार्ग सोनौली-भैरहवा के रास्ते मालवाहक वाहनों का आवागमन लगातार जारी है।
भैरहवा कस्टम सीमा शुल्क कार्यालय के अधिकारी  पूर्ण प्रसाद लामशाल ने कहा कि एलपीजी गैस, पेट्रोलियम उत्पादों, फार्मास्यूटिकल्स, कच्चे माल, चिकित्सा आपूर्ति, हरी सब्जियों समेत दैनिक उपभोग के सामान देश के मुख्य सीमा शुल्क प्वांइट बेलहिया के माध्यम से आ रहे हैं।  लमशाल  के अनुसार, सोमवार को 30  एलपी गैस की बुलेट ही आई है। इसी तरह, नेपाल में चावल, अन्य खाद्य पदार्थों, मेडिकल सामान, ताजी सब्जियां, दवाइयां, औद्योगिक कच्चे माल  सहित 146  माल वाहक वाहनों का नेपाल में प्रवेश हुआ है।
रूपन्देही जिला पुलिस कार्यालय के प्रवक्ता और पुलिस डीएसपी  खडक बहादुर खत्री ने बताया कि मालवाहक वाहनों के चालक,खलासी और कंडक्टरों के स्वास्थ्य और तापक्रम की जांच सीमा में प्रवेश करते ही की जा रही है। अगर तापक्रम अधिक दिखा तो संक्रमण की आशंका के मद्देनजर वाहनों को वापस  भारत भेज दिया  जाएगा।
इधर, नेपाल सीमा से सटे यूपी के जिले महराजगंज में मिल रहे कोरोना पाजिटिव के केस से नेपाल के तराई में इसके फैलाव की आशंका बढ़ गई है। इसके मद्देनजर नेपाल स्वास्थ्य मंत्रालय ने सीमावर्ती नेपाली जिलों के प्रशासन को सतर्क कर दिया गया है।
इस बीच नेपाल में भी कोरोना पाजिटिव के केस पाए जाने से स्वास्थ्य मंत्रालय ने चिंता जताई है। नेपाल के विभिन्न इलाकों में अबतक नौ कोरोना पाजिटिव मरीजों की शिनाख्त हुई है इसमें आठ भारत समेत अन्य देशों से आए हुए पहले से ही संक्रमित मरीज है जबकि एक स्थानीय महिला कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने से संक्रमित हुई बताई जा रही है।
नेपाल सीमा से सटे महराजगंज जिले में दिल्ली के तबलीगी मरकज से महराजगंज में आये 21 में से 6 लोगों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। प्रशासन ने इन सभी को जिले के कोरोना आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया है। इन छह कोरोना पाजिटिव के 34 परिजनों को भी पुलिस ने महराजगंज जिला महिला अस्पताल में बने क्वारंटीन वार्ड में शिफ्ट कर दिया है।
महराजगंज के जिलाधिकारी डॉ उज्ज्वल कुमार ने बताया कि तबलीगी जमात से लौटे 21 लोगों का नमूना जांच के लिए मेडिकल कालेज गोरखपुर भेजा गया था। इनमें से 6 में कोरोना पाजिटिव की पुष्टि हुई है।यूपी के महराजगंज जिले के तबलीगी जमात से जुड़े लोगों के कौरोना पाजिटिव पाए जाने से नेपाल की चिंता यह है कि इन्हीं जिलों से जमात के लोगों का नेपाल आमदरफ्त रहता है।नेपाल के रूपनदेही जिले के उच्च प्रशासन अब इस बात की जांच करने में जुटा है कि पड़ोस के महराजगंज जिले के तबलीगी जमात के लोग दिल्ली से आने के बाद क्या नेपाल भी आए थे?
पिछले 24 घंटे में नेपाल में नौ लोगों के कोरोना संक्रमित पाए जाने से इस नन्हें राष्ट्र पर कोरोना का कहर बरपा होने का खतरा उत्पन्न हो गया है।नेपाल स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा दी गई अधिकृत जानकारी के अनुसार चीन के बुहान से आया एक छात्र कोरोना संक्रमित है।उसका इलाज चल रहा है, हालत स्थिर है।दूसरी कोरोना मरीज एक किशोरी है जो फ्रांस से कतर होते हुए काठमांडू आई थी। दो युवक दुबई से संक्रमित हाल में आए। 20 वर्षीय एक युवती बेल्जियम तथा एक युवक मुंबई से संक्रमित होकर आया।नेपाल के कंचनपुर निवासी एक पुरूष और महिला उत्तराखंड से संक्रमित हाल में आए। जबकि 34 वर्षीय महिला नेपाल में ही रह रही थी जो कि धनगढ़ी के रहने वाले 34 वर्षीय संक्रमित पुरूष की करीबी है।

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *