Nationalwheels

#Chinavirus के पॉजिटिव केस बढ़ते ही लखनऊ और वाराणसी के कई इलाकों में कर्फ्यू, शेष जिलों में भी बढ़ी सख्ती

#Chinavirus के पॉजिटिव केस बढ़ते ही लखनऊ और वाराणसी के कई इलाकों में कर्फ्यू, शेष जिलों में भी बढ़ी सख्ती

दिल्ली के निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात के मरकज से लौटे लोगों में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद जहां देशभर में खतरा बढ़ गया है

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
दिल्ली के निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात के मरकज से लौटे लोगों में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद जहां देशभर में खतरा बढ़ गया है, वहीं उत्तर प्रदेश में किसी बड़ी अनहोनी की आशंका को लेकर सतर्कता बढ़ा दी गई है।
लखनऊ में छावनी के सदर बाजार इलाके की अली जान मस्जिद में 12 लोगों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद सेना ने 48 घंटे तक सैन्य इलाके की सभी सीमा को सील कर कर्फ्यू लगा दिया है। यानी सोमवार मध्य रात तक यह इलाका सील रहेगा। इसके साथ ही पुलिस ने पुराने लखनऊ के कैसरबाग, वजीरगंज, तालकटोरा, सआदतगंज और अमीनाबाद स्थित कुछ मस्जिद के आसपास क्षेत्र को सील कर दिया है। वहीं वाराणसी में कोरोना से व्यवसायी की मौत के बाद चार इलाके मदनपुरा, लोहता, बजरडीहा और गंगापुर में कर्फ्यू लगा दिया गया है। इन इलाके के लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव आई है।

लखनऊ के कैंट इलाके में लगा कर्फ्यू

लखनऊ कैंट इलाके में मध्य यूपी सब एरिया मुख्यालय ने शनिवार रात 12 बजे से सोमवार रात 12 बजे तक कर्फ्यू के साथ संपूर्ण लॉकडाउन का आदेश दिया है। दरअसल, तब्लीगी जमात के 12 लोगों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद सेना अलर्ट हो गई है। अब तक सेना ने अपने सुलतानपुर और रायबरेली रोड को जुड़ने वाले गेटों को बंद करने का निर्णय लिया था, जबकि इसमें एनसीसी मेस की ओर से आने वाले रास्ते को खोला गया था। एहतियात के तौर पर 48 घंटे का पूरा कर्फ्यू लगाने के आदेश उच्च स्तर से दिए गए हैं। सोमवार रात 12 बजे तक सैन्य इलाकों में केवल सेना की मेडिकल टीम, क्यूआरटी, इमरजेंसी एमईएस सेवा और जरूरी सेवाएं ही दी जाएंगी।

पुराने लखनऊ के पांच इलाके सील

लखनऊ में सात अन्य जमातियों के कोरोना वायरस के संक्रमण से संक्रमित होने के बाद राजधानी पुलिस ने पुराने लखनऊ के कैसरबाग, वजीरगंज, तालकटोरा, सआदतगंज और अमीनाबाद स्थित कुछ मस्जिद के आसपास क्षेत्र को सील कर दिया है। मेडिकल टीम, पुलिस और नगर निगम के कर्मचारियों के अलावा इन इलाकों में अब किसी को प्रवेश नहीं मिलेगा। जमातियों के अलग-अलग मस्जिदों में ठहरने के कारण पुलिस प्रशासन ने यह निर्णय लिया है। एडीसीपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि कैसरबाग के रहमानिया मस्जिद में जमात के लोग रुके थे। रविवार को सात जमातियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद सुरक्षा के लिहाज से मस्जिद के आसपास के इलाके को सील किया गया है।

वाराणसी में व्यवसायी की मौत के बाद चार इलाके में कर्फ्यू

वाराणसी शहर से करीब 10 किलोमीटर दूर गंगापुर निवासी 55 वर्षीय व्यवसायी की कोरोना वायरस के संक्रमण से मौत हो गई। वायरस के चलते यह बनारस में पहली मौत है। व्यवसायी की मौत बीते तीन अप्रैल को हुई थी। उसकी कोरोना से संबंधित जांच रिपोर्ट रविवार सुबह मिली। व्यवसायी की मौत के बाद वाराणसी के चार इलाके मदनपुरा, लोहता, बजरडीहा और गंगापुर में कर्फ्यू लगा दिया है। इन इलाके के लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव आई है।
उधर, कोरोना वायरस से संक्रमित व्यवसायी का शव लेकर जब लोग हरिश्चंद्र घाट स्थित श्मशान पहुंचे तो दाह संस्कार को लेकर किचकिच हो गई। एक घंटे बाद किसी तरह शव का दाह संस्कार हुआ। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि गंगापुर निवासी 55 वर्षीय व्यवसायी 15 मार्च को कोलकाता से लौटे थे। 27 मार्च को इन्हें जुकाम और खांसी आने लगी। दो प्राइवेट अस्पताल में उपचार कराया। डाक्टरों की सलाह पर बीएचयू भेजा गया। तीन अप्रैल को बीएचयू में उपचार के दौरान मौत हो गई। व्यवसायी के परिवार में 10 लोग हैं। सभी की जांच के साथ उन्हें होम क्वारंटाइन कर दिया गया।

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *