Nationalwheels

#Chinavirus तबलीगियों की घिनौनी हरकत से देश शर्मशार, अस्पताल के वार्ड में नंगे घूम कर नर्सों को कर रहे भद्दे इशारे

#Chinavirus तबलीगियों की घिनौनी हरकत से देश शर्मशार, अस्पताल के वार्ड में नंगे घूम कर नर्सों को कर रहे भद्दे इशारे

पत्र के अनुसार, अस्पताल की नर्सों और चिकित्सा कर्मचारियों ने इन रोगियों के खिलाफ शिकायत की है

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
ऐसे वक्त में जब देश गहरे स्वास्थ्य संकट से जूझ रहा है, आम नागरिकों के स्वास्थ्य को खतरे में डालने वाले निजामुद्दीन तबलीगी मरकज से जबरन निकाल कर अस्पतालों में भर्ती कराए गए जमात के लोगों की घिनौनी हरकत से देश शर्मशार हो रहा है। ऐसी रिपोर्ट आई हैं कि गाजियाबाद के अस्पताल में क्वारेंटाइन कराए गए तबलीगी निर्वस्त्र टहल रहे हैं। नर्सिंग स्टॉप को देखकर अश्लील हरकतें कर रहे हैं। चिकित्सा कर्मियों की शिकायत के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने तबलीगियों को उनकी गंदी और घटिया हरकतों के लिए समझाने की नाकाम कोशिशें भी कीं। इसके अलावा चीनी वायरस से संक्रमित लोग जगह-जगह थूक कर लोगों की जान लेने पर अमादा दिखाई दे रहे हैं। उनकी हरकतें पुलिस के लिए भी मुश्किलें खड़ी कर रही हैं।
खबरों के मुताबिक, गाजियाबाद के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) ने स्थानीय पुलिस को पत्र लिखकर कहा है कि तब्लीगी जमात मरकज के कार्यक्रम में उपस्थित लोगों, जिन्हें गाजियाबाद के अस्पताल में रखा गया है, अस्पताल के कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार कर रहे हैं।
पत्र के अनुसार, अस्पताल की नर्सों और चिकित्सा कर्मचारियों ने इन रोगियों के खिलाफ शिकायत की है। सीएमओ द्वारा लिखे गए पत्र में लिखा गया है, “तब्लीगी जमात के सदस्य, जो अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रहते थे, अपने वार्ड में अपने कपड़े उतारकर नग्न होकर घूम रहे हैं।” कथित तौर पर, ये मरीज अस्पताल के कर्मचारियों से सिगरेट मांगते हुए अश्लील गाने भी गा रहे हैं।
पत्र में, सीएमओ गाजियाबाद ने स्थानीय पुलिस से मामले में हस्तक्षेप करने और मरीजों द्वारा इस तरह के व्यवहार को नियंत्रित करने के लिए उचित कार्रवाई करने का आग्रह किया है।
सीएमओ गाजियाबाद की ओर से पुलिस को पत्र लिखने के बाद डीएम ने  मामले में जांच का आदेश दिया है। तब्लीगी जमात के लोग जो एमएमजी अस्पताल में क्वारेंटाइन वार्ड में हैं,  अपने पैजामे के बिना वार्ड के चारों ओर घूम रहे हैं और नर्सों की ओर देखकर अश्लील इशारे कर रहे हैं।
बताते हैं कि तबलीदियों के इस गंदे व्यवहार को देख अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधाओं की देखभाल कर रही नर्सों ने सुरक्षा के लिए बाहर का रुख कर लिया।
यह पहली बार नहीं है कि तब्लीगी जमात के उपस्थित लोगों ने चिकित्सा पेशेवर के साथ दुर्व्यवहार किया है। बुधवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें इंदौर के टाट पट्टी बाखल इलाके में गए स्वास्थ्य कर्मियों के एक दल, जिसमें डॉक्टरों के साथ महिला कर्मी भी थीं, को अनियंत्रित भीड़ हमला का शिकार होना पड़ा। इसमें पर्दानशीं महिलाएं भी स्वास्थ्य कर्मियों पर पत्थर फेंकते दिख रही हैं। चिकित्सा कर्मी कोरोनवायरस से संक्रमित व्यक्तियों का पता लगाने के लिए गए थे।
गाजियाबाद की तरह की एक अन्य घटना में, तबलिगी जमात के कुछ लोगों ने दक्षिण-पूर्वी दिल्ली में एक रेलवे अस्पताल में भी चिकित्सा कर्मियों के साथ ‘दुर्व्यवहार’ किया। यहां तक ​​कि डॉक्टरों और स्वास्थ्य सेवा में भाग लेने वाले लोगों पर थूकने की भी कोशिशें करते रहे।
गौरतलब है कि तबलीगी जमात के लोगों द्वारा देशभर में संक्रमण फैलाने की सूचनाओं के बाद बिहार के मुंगेर, कर्नाटक के बंगलौर, आंध्र प्रदेश के हैदराबाद में भी चिकित्सा कर्मियों के दलों पर हमले के वीडियो वायरल हो रहे हैं। बंगलौर में महिला आशा कार्यकत्रियों को बुरी तरह घेर कर पीटा गया। मुंगेर में पथराव कर पुलिस की गाड़ी के शीशे तोड़ डाले गए। मंगलवार को भी बिहार के मधुबनी में एक मस्जिद में जांच के लिए गई पुलिस पर पथराव किया गया था।
गौरतलब है कि पश्चिमी दिल्ली के निज़ामुद्दीन क्षेत्र में तब्लीगी जमात मरकज़ इस महीने के शुरू में एक मण्डली में हजारों लोगों के भाग लेने के बाद देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोनावायरस के प्रसार के लिए एक केंद्र के रूप में उभरा है।

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *