Nationalwheels

#Chinavirus गृह मंत्रालय ने तबलीगी जमात के 960 विदेशी सदस्यों को किया ब्लैक लिस्ट, वीजा भी निरस्त

#Chinavirus गृह मंत्रालय ने तबलीगी जमात के 960 विदेशी सदस्यों को किया ब्लैक लिस्ट, वीजा भी निरस्त

तबलीगी जमात की घोर लापरवाही से देश पर चीनी वायरस के प्रसार का संकट बढ़ने पर केंद्र सरकार ने सख्ती बरतने का फैसला किया है

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
तबलीगी जमात की घोर लापरवाही से देश पर चीनी वायरस के प्रसार का संकट बढ़ने पर केंद्र सरकार ने सख्ती बरतने का फैसला किया है। तबलीगी के विदेशी सदस्यों द्वारा वीजा नियमों के उलंघन को लेकर गृह मंत्रालय ने कड़े कदम उठाए हैं। सरकार ने तबलीगी जमात की गतिविधियों में शामिल होने के कारण गुरुवार को 960 विदेशियों के नाम काली सूची में डाल दिए। साथ ही उनके वीजा भी रद्द कर दिए गए हैं।
यही नहीं, गृह मंत्रालय के कार्यालय ने दिल्ली पुलिस और अन्य राज्यों के पुलिस प्रमुखों को विदेशी कानून और आपदा प्रबंधन कानून के तहत देश के अलग-अलग हिस्सों में छिपे जमात के विदेशी सदस्यों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने को कहा है।
गृह मंत्री कार्यालय ने देर शाम 2 ट्वीट किए। लिखा ‘‘गृह मंत्रालय द्वारा पर्यटक वीजा पर तबलीगी जमात गतिविधियों में लिप्त पाए जाने के कारण 960 विदेशियों को ब्लैक लिस्ट किया गया है और साथ ही उनका भारतीय वीजा भी रद्द कर दिया गया है। गृह मंत्रालय द्वारा तब्लीगी जमात, निजामुद्दीन के मामले में दिल्ली पुलिस और अन्य सम्बंधित राज्यों के पुलिस महानिदेशकों को विदेशी अधिनियम,1946 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम,2005 के प्रावधानों का उल्लंघन करने के लिए 960 विदेशियों के विरुद्ध आवश्यक कानूनी कार्यवाई करने के निर्देश दिए हैं।’’

इस बीच निजामुद्दीन मरकज से निकाले गए दो और लोगों की मौत बृहस्पतिवार को चीनी वायरस के कारण हो गई। यह जानकारी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दी. डिजिटल संवाददाता सम्मेलन में मुख्यमंत्री ने कहा कि मरकज से निकाले गए 2346 लोगों में से 108 में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई।
केजरीवाल ने आशंका जताई कि राष्ट्रीय राजधानी में आगामी दिनों में कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी हो सकती है। क्योंकि सरकार ने मरकज से निकाले गए सभी लोगों की जांच कराने का निर्णय किया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में कोरोना वायरस के कुल मामले 219 हैं जिनमें चार लोगों की मौत हो चुकी है।
उन्होंने कहा कि अस्पतालों में कोविड-19 के 208 मरीजों का इलाज चल रहा है, जिनमें कोविड-19 का संक्रमण पाया गया था। इनमें से 202 की हालत स्थिर है जबकि शेष को छुट्टी दी जा चुकी है। मुख्यमंत्री ने बताया कि इनमें से 51 लोगों ने विदेशों की यात्रा की थी और 29 लोग उनके परिवार के सदस्य हैं।
उन्होंने कहा कि वायरस राष्ट्रीय राजधानी में अभी लोगों के बीच फैलना शुरू नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि सरकार ने कुल 2,943 लोगों को पृथक किया है जिनमें 1,810 मरकज के हैं। साथ ही उन्होंने बताया कि 21 हजार 307 लोगों को घरों में, स्वत: पृथक रहने के लिए कहा गया है।
केजरीवाल ने कहा कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के प्रयास के तहत किए गए बंद के दौरान दिल्ली सरकार ऑटोरिक्शा, ग्रामीण सेवा और ई-रिक्शा चालकों को पांच पांच हजार रुपये देगी।

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *