Nationalwheels

Blog

लाल चीन में जनवाद पर खतरा

 के. विक्रम राव उत्तरी बीजिंग के प्रतिष्ठित शिंगहुआ विश्वविद्यालय में कल (6 जुलाई 2020) भोर में पौ फटने के पहले…

पत्रकारिता का एक ऐसा भी आयाम है !

 के. विक्रम राव एक दौर था जब “संपादक के नाम पत्र” का महत्व समाचार पत्रों में अग्रलेखों के ठीक बाद…

मोदी की “कलाबाजी”

 के. विक्रम राव सपरिवार राहुल गाँधी ने नरेंद्र मोदी की लेह यात्रा (4 जुलाई 2020) को प्रचार स्टंट बताया। वे…

इनायत थी अल्लाह की, भागे दहशतगर्द

 के. विक्रम राव उत्तरी कश्मीर में बारामुला जिले के सोपोर कस्बेवाली मस्जिद के भीतर घुसे लश्करे तैय्यबा के दहशतगर्दों (उस्मान…

भारत भी कुछ कम नहीं

 के. विक्रम राव नरेन्द्र मोदी के कुछ देशी आलोचक हर्षित हैं, बड़े प्रमुदित हैं कि नेपाल, म्यांमार, श्रीलंका, बांग्लादेश आदि…

40 वर्षों में आखिर कैसे चीन से पिछड़ गया भारत, क्या सरकारें नहीं है जिम्मेदार?

पहले डोकलाम फिर पूर्वी लद्दाख और इस बीच में सैकड़ों अन्य घुसपैठ के बीच केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार देश…

तब सेंसरशिप से कुछ ही भिड़े थे, बाकी तो रेंग रहे थे

 के. विक्रम राव कल पैंतालिसवीं सालगिरह (26 जून 1976) थी, इंदिरावाली इमर्जेंसी की। यहाँ उल्लेख भी उसी दौर की एक…

सेमेरे घर की सदस्य हैं गैरैया

 बृजलाल लखनऊ। गांव के खपरैल पर सुबह शाम गौरैयों का चहचहाना मन को लुभाता था।हर घर में खपरैल के मुडेर…

चालाक भुजेटा की कहानी पिता की जुबानी

बृजलाल लखनऊ। एक सुबह करीब सात बजे अपने गार्डेन में निकला ,तो मुझे भुज़ेटा चिड़िया का नन्हा सा बच्चा दिखाई…

सत्ता का फर्ज

 के. विक्रम राव सत्तासीन राजनेताओं द्वारा अपने विरोधियों को लम्बी अवधि तक कारागार में निरुद्ध नहीं करना चाहिए। सियासी सहिष्णुता…