Dhanbad, भौरा में 10 दिन पहले छह साल की बच्ची से हुए दुष्कर्म मामले में कोई कार्रवाई नहीं होने के खिलाफ बसपा ने फूंका सरकार और प्रशासन का पुतला

भौरा में 10 दिन पहले छह साल की बच्ची से हुए दुष्कर्म मामले में कोई कार्रवाई नहीं होने के खिलाफ बसपा ने फूंका सरकार और प्रशासन का पुतला

Dhanbad, भौरा में 10 दिन पहले छह साल की बच्ची से हुए दुष्कर्म मामले में कोई कार्रवाई नहीं होने के खिलाफ बसपा ने फूंका सरकार और प्रशासन का पुतला
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
धनबाद: 10 दिन पूर्व भौरा में छह साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म मामले में कोई कार्रवाई नहीं होने खिलाफ बहुजन समाज पार्टी की धनबाद जिला इकाई द्वारा रणधीर वर्मा चौक पर धरना-प्रदर्शन किया गया।
प्रदर्शन में शामिल कार्यकर्ताओं ने रघुवर सरकार और जिला प्रशासन का पुतला फूंका। विरोध कार्यक्रम के दौरान बहुजन समाज पार्टी द्वारा डीआरएम चौक से रणधीर वर्मा चौक तक विरोध मार्च निकाला गया।
इसके बाद रघुवर सरकार और जिला प्रशासन का पुतला दहन किया गया और एक दिवसीय धरना दिया गया।
अब तक किसी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है पुलिस
बता दें कि धनबाद के भौरा में 10 दिन पूर्व एक छह साल की बच्ची को घर से उठा कर अज्ञात अपराधी ले गये और उसके साथ दुष्कर्म किया।
मामले में पुलिस ने तो मामला दर्ज कर लिया लेकिन 10 दिन बीत जाने के बाद भी अपराधी तक पुलिस नहीं पंहुच सकी है।
इस मामले में विभिन्न राजनीतिक दलों और सामाजिक संगठनों की ओर से विरोध मार्च निकाला गया और पुलिस से अपराधियों को पकड़ने की मांग की गयी लेकिन अभी तक इस मामले में पुलिस किसी की गिरफ्तारी नहीं कर सकी है।
भौरा की घटना से शर्मशार है धनबाद
सोमवार को बहुजन समाज पार्टी द्वारा विरोध प्रदर्शन और पुतला दहन कार्यक्रम के दौरान मुख्य रूप से उपस्थित झारखंड प्रदेश अध्यक्ष सुबल दास ने कहा कि पूरे देश मे दलितों पर साजिश के तहत अत्याचार किया जा रहा है।
भौरा की घटना से धनबाद शर्मसार है. पुलिस की लापरवाही से अपराधियों का मनोबल बढ़ा हुआ है। इस मामले में पुलिस मुजरिम तक नहीं पंहुच पायी है।
इसकी जांच सीआइडी से करायी जाये तथा दोषी को गिरफ्तार कर अविलंब फांसी दी जाये। साथ ही पीड़ित परिवार को 20 लाख मुआवजा और सुरक्षित स्थान पर आवास मुहैया कराया जाये। अन्यथा पीड़ित के न्याय के लिए बसपा चरणबद्ध ढंग से आंदोलन करेगी।

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *