Nationalwheels

#Chinavirus लॉकडाउन में हुई कालाबाजारी और मुनाफाखोरी तो जेल के साथ व्यापारिक सामग्री की जब्ती भी

#Chinavirus लॉकडाउन में हुई कालाबाजारी और मुनाफाखोरी तो जेल के साथ व्यापारिक सामग्री की जब्ती भी

लॉकडाउन के दौरान कालाबाजारी और मुनाफाखोरी करने वालों पर यूपी की योगी सरकार ने निगाह टेढ़ी कर ली है

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
लॉकडाउन के दौरान कालाबाजारी और मुनाफाखोरी करने वालों पर यूपी की योगी सरकार ने निगाह टेढ़ी कर ली है। सरकार ने चेतावनी दी है कि पकड़े जाने पर ऐसे लोगों की कारोबारी सामाग्री भी जब्त कर ली जाएगी। प्राथमिकी और जेल जैसी कार्रवाई तो पक्की है।
ACS, गृह व सूचना, @AwasthiAwanishK ने कहा कि जो भी लोग कालाबाजारी, होर्डिंग, मुनाफाखोरी कर रहे हैं, उनके विरुद्ध जिला प्रशासन कोई रियायत नहीं करेगा। यह भी सुनिश्चित करेंगे कि न केवल उन्हें जेल भेजा जाए बल्कि उनकी व्यापारिक सामग्री की भी जब्ती हो। वे आगे किसी भी रूप में कोई भी व्यापार न कर सकेंगे, इसमें कोई संशय नहीं होना चाहिए।
ACS, गृह व सूचना ने कहा कि एक अखबार से सूचना प्राप्त हुई कि लखनऊ में चीनी कई स्थानों पर ₹37 की जगह ₹42 की मिल रही है। इसी एक्ट के अंतर्गत बहुत सख्ती से कार्रवाई की गई है। इसी एक्ट के अंतर्गत अब तक पूरे प्रदेश में 163 FIR दर्ज करते हुए 228 लोगों को बुक किया गया है। उन्होंने बार-बार ये चेतावनी दी कि जो भी व्यक्ति कालाबाजारी करेगा उसके विरुद्ध बहुत सख्ती से कार्रवाई की जाएगी।
कहा कि सभी जनपदों के 377 धर्मगुरुओं से मुख्यमंत्री ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बात कर रहे हैं। पहली बार प्रदेश के किसी भी मुख्यमंत्री द्वारा हर जनपद के धर्मगुरुओं के साथ सीधे संवाद किया जा रहा है। यही नहीं, पहली बार मुख्यमंत्री स्तर पर वीडियो काॅन्फ्रेंस के माध्यम से प्रदेश के सभी सांसदों और केंद्रीय मंत्रियों, विधायकों से संवाद स्थापित किया गया है।
यूपी में 1499 तबलीगी चिह्नित, 249 विदेशियों के पासपोर्ट जब्त
निजामुद्दीन तबलीगी जमात मामले में योगी सरकार उत्तर प्रदेश में अब तक 1499 लोगों को चिह्नित कर चुकी है। साथ ही तबलीगी जमात के साथ मिलकर धर्म प्रचार के कार्य में जुटे 315 विदेशी यात्रियों की पहचान भी सरकार ने कर ली है। इनमें से 249 विदेशी लोगों के पासपोर्ट सरकार ने जब्त कर लिए हैं। अब उनके खिलाफ सरकार एपेडमिक एक्ट, वीजा नियमों के उलंघन समेत तीन मामलों में प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। संभावना यह भी जताई जा रही है कि चीनी वायरस (कोरोना) का मामला ठंडा होने पर विदेशी धर्मांधों को सरकार जेल की हवा खिलाएगी।
रविवार को लखनऊ में  ACS, गृह व सूचना @AwasthiAwanishK ने कहा कि तबलीगी जमात के विरुद्ध की जा रही कार्रवाई के अंतर्गत अब तक 1,499 लोगों को चिन्हित कर लिया गया है। तबलीगी जमात के मेरठ जोन में 301, वाराणसी में 232, बरेली जोन में 281, आगरा में 147 लोग चिन्हित हुए हैं। लखनऊ में 108, गोरखपुर जोन में 213, प्रयागराज जोन 56, कानपुर में 67, लखनऊ कमिश्नरी में 24, गौतमबुद्ध नगर कमिश्नरी में 70 लोग चिह्नित किए गए हैं। अब तक प्रदेश में कुल 1,499 लोग उत्तर प्रदेश में चिन्हित हुए हैं। तबलीगी लोगों की पहचान का काम लगातार चल रहा है।
ACS, गृह व सूचना ने कहा कि अब तक इनमें से 1,205 लोगों को ‘क्वारंटाइन’ कर दिया गया है। उत्तर प्कदेश में अब तक तबलीगी जमात से जुड़े 138 लोग कोविड पाॅजिटिव पाए जा चुके हैं। जबकि पूरे प्रदेश में कुल पॉजिटिव लोगों की संख्या 227 है।
श्री अवस्थी ने कहा कि लगभग 315 विदेशी लोगों की सूचना हमें प्राप्त हुई है, जिनमें से 249 लोगों के पासपोर्ट जब्त कर लिए गए हैं। अब तक लगभग 20 जनपदों में कुल मिलाकर 295 फाॅरेनर्स के विरुद्ध 42 एफआईआर दर्ज कर ली गई हैं।
कुछ जिलों होगा टोटल लॉकडाउन
ACS, गृह व सूचना ने कहा कि कुछ जनपदों में टोटल लाॅकडाउन भी किया जा रहा है। जिला प्रशासन अपनी ओर से सप्लाई की पूरी व्यवस्था करने का प्रयास करेगा। तबलीगी जमात से जुड़े यह लोग जिस भी धर्मस्थल में रहे हैं, किसी के घर में गए हैं, तो वहां पर व्यापक रूप से काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग करके व्यापक स्तर पर कार्रवाई की जा रही है।

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *