NationalWheels

भाजपा घोषणा पत्रः हर जिले में मेडिकल कॉलेज और 50 शहरों में मेट्रो नेटवर्क, निकाह हलाला पर रोक का वादा

न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव-2019 के लिए अपना संकल्प पत्र जारी कर दिया है. बीजेपी के इस संकल्प पत्र में राम मंदिर निर्माण के साथ ही राष्ट्रीय सुरक्षा, किसान, नौजवान, महिलाओं समेत हर किसी के लिए बड़े-बड़े वादे हैं. पार्टी ने इस बार समावेशी विकास का टारगेट रखा है, जिसके अंतर्गत सभी के लिए न्याय, सभी का विकास, गरीब कल्याण जैसे मुद्दे शामिल किए गए हैं.
घोषणा पत्र में भाजपा ने जम्मू और कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले संविधान के आर्टिकल 35ए को खत्म करने की भी घोषणा कर दी है. बीजेपी ने अपने संकल्‍प पत्र में लिखा है, ‘हम धारा 35A को खत्‍म करने के लिए प्रतिबद्ध हैं. हमारा मानना है कि धारा 35A जम्‍मू और कश्‍मीर के गैर-स्‍थायी निवासियों और महिलाओं के खिलाफ भेदभावपूर्ण है. यह धारा जम्‍मू और कश्‍मीर के विकास में भी बाधा है. राज्‍य के सभी निवासियों के लिए एक सुरक्षित और शांतिपूर्ण वातावरण सुनिश्चित करने के लए हम सभी कदम उठाएंगे. हम कश्‍मीरी पंडितों की सुरक्षित वापसी के लिए सभी प्रयास करेंगे.’
भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में सभी वर्गों को साधने की कोशिश की है, इसके अलावा आरक्षण का भी जिक्र किया है.
1.    सबके लिए न्याय
– अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और पिछड़ा वर्ग के लोगों के लिए संवैधानिक प्रावधान के तहत लाभ, सभी को समान अवसर.
– सामान्य श्रेणी के लोगों को 10 फीसदी आरक्षण को लागू करना.
2.    सबका विकास
– सभी के लिए सुलभ शिक्षा, 20000 की आबादी वाली अनुसूचित जनजाति क्षेत्रों में नवोदय विद्यालय. इनमें पढ़ाई के साथ-साथ खेल की सुविधा भी होगी.
– देशभर में 50000 विकास वन-धन विकास केंद्रों की स्थापना करने का वादा.
– सफाई कर्मचारियों के लिए स्वास्थ्य और सुरक्षा देने का वादा.
3.    गरीब कल्याण
– गरीबी रेखा से नीचे मौजूद परिवारों के प्रतिशत कम करने का ऐलान
– 2022 तक हर किसी को मकान, जिनका मकान कच्चा है उन्हें भी पक्का मकान मिलेगा.
– खाद्य सुरक्षा के तहत 80 करोड़ लोगों को गेंहू, चावल, मोटा अनाज दे रहे हैं. इसके साथ अब चीनी को भी जोड़ा जाएगा, जिसके तहत 80 करोड़ लोगों को 13 रुपये किलो प्रति माह दी जाएगी.
– हर 5 किमी. में बैंकिंग की सुविधा.
4.    छोटे दुकानदारों को प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में शामिल किया जाएगा. यानी अब उन्हें भी 3000 रुपये मासिक की पेंशन मिलेगी.
5.    अब हर किसान को किसान समृद्धि योजना में शामिल किया जाएगा, यानी देश के हर किसान को अब 6000 रुपये सालाना मिलेंगे.

नए भारत की बुनियाद :

सभी बसावटों को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) का दर्जा।

50 शहरों में एक मजबूत मेट्रो नेटवर्क।

सड़क नेटवर्क विकसित करने के लिए भारतमाला 2.0 द्वारा राज्यों को सहायता।

स्वस्थ भारत :

1.5 लाख स्वास्थ्य और कल्याण केन्द्रों में टेलीमेडिसिन और डायग्नोस्टिक लैब सुवाधाएं।

हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज या परास्नातक मेडिकल कॉलेज।

वर्ष 2022 तक सभी बच्चों और गर्भवती महिलाओं के लिए पूर्ण टीकाकरण।

सांस्कृतिक धरोहर:

संवैधानिक ढांचे के तहत सभी पहलुओं पर विचार करते हुए अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए आवश्यक प्रयास।
 गंगोत्री से गंगा सागर तक गंगा नदी का स्वच्छ, निर्बाध प्रवाह सुनिश्चित करना।
 समान नागरिक संहिता लाने की दृढ़ प्रतिबद्धता।

महिला सशक्तिकरण:

 तीन तलाक, निकाह हलाला जैसी प्रथाओं को प्रतिबंधित व समाप्त करने को विधेयक।
 सभी आंगनबाड़ी और आशा कार्यकर्ता को आयुष्मान भारत के तहत लाना।
कम से कम 50% महिला कर्मचारी रखने वाले MSME उद्योगों द्वारा सरकार के लिए 10% उत्पाद खरीद।

सबके लिए शिक्षाः

 200 नए केंद्रीय विद्यालयों और नवोदय विद्यालयों का निर्माण।
वर्ष 2024 तक एमबीबीएस और स्पेशलिस्ट डॉक्टरों की संख्या दोगुनी करना।
भारतीय शैक्षणिक संस्थानों का विश्व के शीर्ष 500 शैक्षणिक संस्थानों में स्थान।

लोकतंत्र

लोकसभा, विधानसभा व स्थानीय निकायों के लिए एक साथ चुनाव के मुद्दे पर सर्वसम्मति बनाना।
 प्रभावी शासन और पारदर्शी निर्णयन के माध्यम से भारत को भ्रष्टाचार से मुक्त बनाना।
 सार्वजनिक सेवाओं की समयबद्ध आपूर्ति के लिए सेवा आपूर्ति के अधिकार सुनिश्चित करना।

किसानों की आय दोगुनी:

कृषि क्षेत्र में उत्पादकता बढ़ाने के लिए 25 लाख करोड़ रुपये का निवेश।
 देश के सभी किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ।
 छोटे तथा खेतिहर किसानों की सामाजिक सुरक्षा के लिए 60 वर्ष की उम्र के बाद पेंशन की योजना।
आज देश के कई प्रदेशों में पानी की समस्या के समाधान को गंभीरता से सोचने की जरूरत है। इसलिए हम एक अलग ‘जल शक्ति मंत्रालय’ बनाएंगे: पीएम मोदी
2014 तक हमारे केवल 59 गांव ऑप्टिकल फाइबर से कनेक्टिड थे। लेकिन आज 1 लाख 16 हजार गावों को ऑप्टिकल फाइबर के माध्यम से जोड़ा जा चुका है: श्रीमती सुषमा स्वराज

 

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

NationalWheels will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.