Nationalwheels

देश में पवन ऊर्जा की 37 हजार मेगावॉट उत्पादन क्षमता, 15100 मेगावॉट परियोजनाओं के लिए बोलियां जारी

देश में पवन ऊर्जा की 37 हजार मेगावॉट उत्पादन क्षमता, 15100 मेगावॉट परियोजनाओं के लिए बोलियां जारी
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
अब तक प्रदान की गई 12,162.50 मेगावाट क्षमता की पवन ऊर्जा परियोजनाएं 
अब तक देशभर में 15,100 मेगावाट की पवन ऊर्जा परियोजनाओं के लिए बोलियाँ जारी की गई हैं. इनमें से 12,162.50 मेगावाट क्षमता की परियोजनाओं को आवंटन किया गया है.  देश में पवन ऊर्जा की संचयी संस्थापित क्षमता 31 अक्टूबर 2019 को 37,090.03 मेगावाट है. 
सरकार ने 22 अक्टूबर 2016 को ‘ऑनशोर पवन ऊर्जा परियोजनाओं के विकास के लिए दिशानिर्देश’ जारी किए हैं. इसका उद्देश्य परियोजना डेवलपर्स, राज्यों और राष्ट्रीय की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए कुशल, लागत प्रभावी और पर्यावरणीय सौम्य तरीके से पवन ऊर्जा परियोजनाओं के विकास की सुविधा प्रदान करना है. अनिवार्यताओं, दिशानिर्देशों में साइट की व्यवहार्यता, प्रकार और गुणवत्ता प्रमाणित पवन टर्बाइन, micrositing मानदंड, ग्रिड विनियमों का अनुपालन, वास्तविक समय की निगरानी, ​​ऑनलाइन रजिस्ट्री और प्रदर्शन रिपोर्टिंग, स्वास्थ्य और सुरक्षा प्रावधानों, decommissioning योजनाओं, आदि की आवश्यकता के प्रावधान हैं.
केंद्रीय राज्यमंत्री नई और नवकरणीय ऊर्जा आरके सिंह ने राज्यसभा में बताया है कि सरकार ने 8 दिसंबर, 2017 को ग्रिड कनेक्टेड विंड पावर प्रोजेक्ट्स से बिजली की खरीद के लिए टैरिफ आधारित प्रतिस्पर्धात्मक बोली प्रक्रिया के लिए दिशानिर्देश’ भी जारी किए हैं. इसमें बोली लगाने की एक पारदर्शी प्रक्रिया के माध्यम से पवन ऊर्जा की खरीद के लिए एक रूपरेखा प्रदान करना है. 
सरकार विभिन्न राजकोषीय और वित्तीय प्रोत्साहन जैसे त्वरित मूल्यह्रास लाभ प्रदान करके निजी क्षेत्र के निवेश के माध्यम से पवन ऊर्जा परियोजनाओं के क्षमता संवर्धन को बढ़ावा दे रही है. पवन विद्युत जनरेटर के कुछ घटकों पर रियायती कस्टम ड्यूटी में छूट भी प्रदान की गई है. इसके अलावा,31 मार्च 2017 से पहले कमीशन किए गए विंड प्रोजेक्ट्स के लिए जनरेशन बेस्ड इंसेंटिव (GBI) उपलब्ध है. राजकोषीय और अन्य प्रोत्साहनों के अलावा, राष्ट्रीय संसाधन संस्थान के माध्यम से पवन संसाधन मूल्यांकन और संभावित साइटों की पहचान सहित तकनीकी सहायता प्रदान की जा रही है.
राज्यवार पवन ऊर्जा की क्षमता
राज्य
अनुमानित पवन ऊर्जा क्षमता 31.10.2019
(MW)
आंध्र प्रदेश
4092.45
गुजरात
7203.77
कर्नाटक
4753.40
केरल
62.50
मध्य प्रदेश
2519.89
महाराष्ट्र
4794.13
राजस्थान
4299.72
तमिलनाडु
9231.77
तेलंगाना
128.10
अन्य राज्य
4.30
कुल
37090.03

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *