बांग्लादेश को लक्ष्मीपुर टू नेपाल हो रही जानवरों की तस्करी

– विभागों को दी जा रही भारी भरकम माहवारी रक़म. नेपाल के नवलपरासी होते हुए भेजा जा रहा तीसरा देश

अरुण वर्मा

महराजगंज। भारत-नेपाल की सीमा पर तस्करी इन दिनों ज़ोर पकड़ा हुआ है। खाद्यान से लगायत जानवरों की तस्करी पर सुरक्षा एजेंसियां माहवारी वसूल रही हैं। निचलौल तहसील के लक्ष्मीपुर खुर्द इन दिनों तस्करी के लिए सबसे उपयुक्त नाका के रूप में सामने आया है। यहां से प्रतिदिन लाखों के माल को उस पार से इस पार व इस पार से उस पार किया जा रहा है।
एक तरफ जहां शासन तस्करी पर लगाम के लिए तरह तरह प्रतिबद्ध दिख रही है, वहीं दूसरी तरफ उसके ही मातहत उसकी हवा निकालने में लगे हुए है। निचलौल तहसील के लक्ष्मीपुर खुर्द क्षेत्र इन दिनों तस्करी के लिए चर्चित क्षेत्र के रूप में होता दिख रहा है। जहां से प्रतिदिन लाखों के साज़ो सामान को बेधड़क भारत से नेपाल व नेपाल से भारत को किया जा रहा है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस क्षेत्र से कपड़ा, बर्तन, हार्डवेयर, कब्ज़ा, इलेक्ट्रिक व इलेक्ट्रॉनिक सहित अब व्यापक पैमाने पर जानवरों की तस्करी को अंजाम दिया जा रहा है।
तहसील के लक्ष्मीपुर खुर्द से जानवरों की तस्करी के लिए भी लाइन लिया जा रहा है जिसके माध्यम से तस्करी के पशुओं को नेपाल भेजा जा रहा है। जिसमें सम्बंधित विभागों को पैसे के बलबूते मैनेज कर इस गोरखधंधे को अंजाम तक पंहुचाया जा रहा है। बताते चले कि पशुओं की तस्करी का नेटवर्क नेपाल से अन्य देशों तक फैला है जंहा से तस्करो को पांच गुना तक का लाभ मिला करता है।

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

NationalWheels will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.