Nationalwheels

दक्षिण तट रेलवे के नाम से विशाखापट्टनम में 18वें नये जोन का ऐलान

दक्षिण तट रेलवे के नाम से विशाखापट्टनम में 18वें नये जोन का ऐलान
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
रेल मंत्री पीयुष गोयल ने बुधवार को विशाखापट्टनम् में भारतीय रेलवे के 18वें जोनल रेलवे का ऐलान कर दिया है. नया जोन दक्षिण तट रेलवे के नाम से पहचाना जाएगा. इसमें तीन गुंटकल, गुंटूर और विजयवाड़ा डिवीजन को शामिल किया जाएगा. भारतीय रेलवे में यह 18वें जोन के रूप में शामिल होगा. 2004 में पूर्व रेल मंत्री नितीश कुमार के समय रेलवे के जोनों का पुनर्रविभाजन हुआ था. तब 16 जोनल रेलवे बनाए गए थे. बाद में रेल मंत्री के रूप में ममता बनर्जी ने कोलकाता मेट्रो को भी 17वें जोन के रूप में मान्यता दे दी थी. आंध्र प्रदेश में खुलने वाले इस जोनल रेलवे को लेकर भाजपा के नेताओं ने खुशी जताई है.
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को विशाखापत्तनम में अपने मुख्यालय के साथ दक्षिण तट रेलवे नाम के आंध्र प्रदेश के लिए एक नए रेलवे डिवीजन की घोषणा की. गोयल ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, “आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम, 2014 की अनुसूची 13 (इन्फ्रास्ट्रक्चर) के आइटम 8 के अनुसार, भारतीय रेलवे को आंध्र प्रदेश के उत्तराधिकारी राज्य में एक नए रेलवे क्षेत्र की स्थापना की जांच करने की आवश्यकता थी. इस मामले की हिस्सेदारी धारकों के परामर्श से विस्तार से जांच की गई और विशाखापत्तनम के साथ नए क्षेत्र के निर्माण के लिए आगे बढ़ने का निर्णय लिया गया है.”
गोयल ने कहा कि नए जोन को साउथ कोस्ट रेलवे (एससीओआर) नाम दिया गया है. इसमें मौजूदा गुंटकल, गुंटूर और विजयवाड़ा डिवीजन शामिल होंगे. मंत्री ने कहा कि वाल्टेयर डिवीजन को दो भागों में विभाजित किया जाएगा. इसके एक हिस्से को पड़ोसी जोन विजयवाड़ा डिवीजन के साथ विलय करके नए क्षेत्र में शामिल किया जाएगा. शेष दूसरे भाग को ECOR के तहत रायगढ़ में मुख्यालय के साथ एक नए डिवीजन में परिवर्तित किया जाएगा. मंत्री ने कहा कि दक्षिण मध्य रेलवे में हैदराबाद, सिकंदराबाद और नांदेड़ डिवीजन शामिल होंगे.
Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *