Nationalwheels

#AllahabadUniversity को नैक से बी++ की रैंकिंग

#AllahabadUniversity को नैक से बी++ की रैंकिंग
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स
इलाहाबाद विश्वविद्यालय को नैक ने बी++ की रैंकिंग प्रदान की है। इलाहाबाद विश्वविद्यालय के इतिहास में नैक की ओर से अब तक हुए परीक्षण में यह सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग है. नैक की ओर से इलाहाबाद विश्वविद्यालय को चार में से 2.86 अंक प्रदान किए गए हैं. 3 अंक मिलने पर ए ग्रेड मिलना था. इस बार विश्वविद्यालय मात्र 0.14 अंक से A ग्रेड से चूक गया। B++ की रैंकिंग विश्वविद्यालय के लिए एक बड़ी उपलब्धि है.
26 से 28 मार्च तक नैक द्वारा इलाहाबाद विश्वविद्यालय का दौरा किया गया था. अपने तीन दिवसीय दौरे में नैक की टीम ने समूचे विश्वविद्यालय का दौरा किया था. 5+ विश्वविद्यालय के शैक्षिक वातावरण, आधारभूत संरचना और शोध जैसे कई पहलुओं को परखने के बाद नैक की टीम ने विश्वविद्यालय को बी++ की रैंकिंग दी.
जुलाई 2017 के बाद नैक ने अपनी पुरानी ग्रेडिंग सिस्टम को पूरी तरह से बदल दिया है. नए ग्रेडिंग सिस्टम में अधिकांश विश्वविद्यालयों को B और B+ जैसे ग्रेड मिल रहे हैं. पिछले 6 महीने में उत्तर प्रदेश के चार विश्वविद्यालयों ने नई व्यवस्था के तहत नैक से अपना मूल्यांकन करवाया है. इसमें गौतमबुद्ध यूनिवर्सिटी नोएडा को बी+, काशी विद्यापीठ बनारस को C, और एमेटी यूनिवर्सिटी, नोएडा को बी++ का ग्रेड मिला है.
ऐसा भी कहा जा रहा है कि कई विश्वविद्यालय नई मूल्यांकन प्रणाली के तहत अपना मूल्यांकन तक करवाने से बच रहे हैं. नैक की ग्रेडिंग में शिक्षक छात्र अनुपात एक महत्वपूर्ण पक्ष रहता है. इलाहाबाद विश्वविद्यालय ने कई विभागों में शिक्षक भर्ती की प्रक्रिया शुरू की थी, परंतु सुप्रीम कोर्ट के आदेश के कारण शिक्षक भर्ती प्रक्रिया को बीच में रोकना पड़ा.
इलाहाबाद विश्वविद्यालय के पीआरओ डॉ चित्तरंजन कुमार ने कहा कि “केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा मिलने के 14 सालों बाद पहली बार नैक द्वारा विश्वविद्यालय का मूल्यांकन किया गया. पिछले 11 सालों से विश्वविद्यालय के पास नैक की कोई ग्रेड तक नहीं थी. इस कारण हर महीने शिक्षकों की तनख्वाह तक मुश्किल से मिलती थी. पूर्व के कुलपतियों द्वारा यह काम अब तक दो बार हो जाना चाहिए था. कुलपति प्रो रतनलाल हांगलूं के प्रयास से यह काम अब संभव हो पाया. इलाहाबाद विश्वविद्यालय का 15 सालों बाद न सिर्फ मूल्यांकन हुआ, बल्कि उसे B++ भी मिला. इसके लिए विश्वविद्यालय के सारे शिक्षक, छात्र और कर्मचारी बधाई के पात्र हैं.”
Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

1 Comment

  • Dr Govind Das , April 5, 2019 @ 12:17 am

    A great achievement for the university under able leadership of Professor Rattan Lal Hangloo, Honourable VC of University of Allahabad. His firm resolve and a actions to enrich academics and infrastructure in university and constituent colleges and perseverance to restore pristine glory of the university has resulted into this grading , which this university deserves. The university could have achieved A grading , if he had got some respite from fake enquiries and baseless allegations, labelled against him by hand ful of people. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *