Nationalwheels

मुखिया और उसके पति द्वारा घोटाले करने पर कार्रवाई नहीं किया गया, जिस कारण माले कार्यकर्ता ने 1 दिन किया भूख हड़ताल

मुखिया और उसके पति द्वारा घोटाले करने पर कार्रवाई नहीं किया गया, जिस कारण माले कार्यकर्ता ने 1 दिन किया भूख हड़ताल

माले कार्यकर्ताओं का कहना था कि जांच के दौरान अनियमितता की पुष्टि के बावजूद प्रशासनिक मिली भगत थी।

बिहार : समस्तीपुर के पूसा प्रखंड के मोरसंड पंचायत से बङी खबर सामने आ रही है की मुखिया और उसके पति दोनों ने मिलकर गांव के विकास योजनाओं में बड़े पैमाने पर घोटाला किया । लेकिन मुखिया और उसके पति द्वारा घोटाला करने पर भी कोई भी पदाधिकारियों के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं किया गया। इससे गांव के लोग आक्रोशित हो गए और माले कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर मोरसंड पंचायत भवन पर एक दिवसीय भूख हड़ताल कीया।
माले कार्यकर्ताओं का कहना था कि जांच के दौरान अनियमितता की पुष्टि के बावजूद प्रशासनिक मिली भगत थी। जिसके कारण मुखिया और उसके पति पर कोई कार्रवाई नहीं किया गया और उन्हें घोटाले करने में छूट दिया गया है । अगर मुखिया और उसके पति पर कोई कार्यवाही नहीं किया जाएगा तब तक हम लोग इसी तरह भूख हड़ताल पर रहेंगे।
बताया जा रहा है कि मोरसंड पंचायत के वार्ड संख्या -03 की सदस्या द्वारा सात निश्चय योजना के तहत लगभग एक साल पहले 6 लाख रुपये बैंक से निकासी करने के बाद भी अब तक कार्य शुरू नहीं करवाया गया । काम नहीं होने पर गांव के लोग और माले कार्यकर्ताओं ने इस राशि का गबन करने के मामले में पंचायती राज पदाधिकारी की जांच रिपोर्ट किया था ,परंतु इस पर अब तक कार्रवाई नहीं कीया गया।
बताया जा रहा है कि वार्ड संख्या -10 में नल जल योजना का पाइप काटने और मनमानी के साथ योजना को विफल करने के अलावा पंचायती राज पदाधिकारी के साथ अभद्र व्यवहार करने मामले में जांच रिपोर्ट के आधार पर कानूनी कार्रवाई करने की मांग भी की गई थी। इसके अलवा भी पंचायत से जुड़ी हुई कई समस्याएं थी। लेकिन इस पर भी पदाधिकारी ने कोई कदम नहीं उठाया।
पदाधिकारियों ने जब कोई कदम नहीं उठाया तो परेशान होकर माले कार्यकर्ता एक दिवसीय भूख हड़ताल पर रहे। 10 सूत्री मांगों को लेकर आयोजित भूख हड़ताल स्थल पर एक सभा किया गया किया गया। इस सभा की अध्यक्षता रामविलास पासवान ने कीया ।
जबकि संचालन भाकपा-माले के प्रखंड सचिव अमित कुमार ने किया। मौके पर कृष्ण कुमार, सकिंद्र दास आदि मौजूद थे। भूख हड़ताल की सूचना पर पहुंचे सीओ संतोष कुमार श्रीवास्तव ने माले कार्यकर्ताओं भूख हड़ताल की बात सुनी तो वह खुद वहां पर पहुंचे और को 5 दिनों के अंदर जांच कर कार्रवाई करने का आदेश जारी किया।

 


Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

(आप हमें फेसबुकट्विटर, इंस्टाग्राम और लिंकडिन पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *