National Wheels

71 हजार युवाओं को मिला नियुक्ति पत्र, PM ने कहा- सरकारी नौकरी देने के लिए मिशन मोड में कर रहे काम   

71 हजार युवाओं को मिला नियुक्ति पत्र, PM ने कहा- सरकारी नौकरी देने के लिए मिशन मोड में कर रहे काम   

पीएम मोदी ने मंगलवार को मेले के दौरान विभिन्न पदों पर चयनित होने वाले 71 हजार युवाओं को उनका नियुक्ति पत्र सौपें। बता दें पीएम मोदी द्वारा सौंपे गए इन नियुक्ति पत्रों के मूल पंजीकरण हिमाचल प्रदेश और गुजरात के करीब 45 स्थानों पर मिल जाएंगे। उसी समय पीएम मोदी ने कर्मयोगी अभिनय मोड भी शुरू किया। यह विभिन्न सरकारी योजनाओं में नवनियुक्त कर्मियों के लिए ऑनलाइन अनुकूलन पाठ्यक्रम है। इसमें सरकारी सेवकों के लिए आचार संहिता, पात्रता नियम, सत्यनिष्ठा और मानव संसाधन सहयोगी पत्रकार शामिल हैं। नए कर्मचारियों को अपना ज्ञान, कौशल और क्षमता बढ़ाने के लिए karmayogi.gov.in प्लेटफॉर्म पर अन्य कोर्स करने के अवसर भी मिलेंगे। इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि सरकार नौकरी के लिए नौकरी के लिए विकल्प के तौर पर मिशन मोड में काम कर रही है। उन्होंने कहा कि विभिन्‍न रूप में कई रोजगार मेले आयोजित किए जा रहे हैं और यह अभियान भविष्य में भी जारी रहेगा।

रोजगार मेला देश के विकास और समृद्धि में निभाएगा अग्रणी भूमिका

पीएम मोदी ने इस मौके पर सभी नए लोगों को नियुक्त किया, इस अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उन्हें बधाई देते हुए संदेश भी दिया। रोजगार मेला कार्यक्रम में पीएम मोदी ने नव-नियुक्त कर्मियों को संदेश देते हुए कहा, आज देश के 45 शहरों में 71 हजार से ज्यादा युवाओं को रोजगार पत्र दिए जा रहे हैं यानी आज एक साथ हजारों घरों में बेरोजगारों के लिए नया दौर शुरू हुआ है। । केवल इतना ही नहीं प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने भी कहा है कि यह रोजगार प्राप्ति देश के विकास और समृद्धि में अग्रणी भूमिका निभाएगा।

सरकारी नौकरी देने के लिए मिशन मोड में कर रहे काम

पीएम मोदी ने याद दिलाते हुए यह भी कहा कि पिछले महीने आज के ही दिन धनतेरस पर केंद्र सरकार की तरफ से 75 हजार नौजवानों को नियुक्ति पत्र दिया गया था। अब आज का यह रोजगार मेला दिखाता है कि सरकार किस तरह की सरकारी नौकरी देने के लिए मिशन मोड में काम कर रही है। पिछले महीने जब रोजगार मेले की शुरुआत हुई थी तो मैंने कहा था कि विभिन्न केंद्र कार्यालय प्रदेश, एनडीए और बीजेपी उम्मीदवार राज्य भी इसी तरह रोजगार मेले का आयोजन करेंगे।

पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें इस बात की खुशी है कि पिछले एक महीने में ही महाराष्ट्र और गुजरात में भी राज्यों की तरफ से बेरोजगार हुए हजारों युवाओं को नौकरी के लिए रोजगार पत्र मिल गए थे। उन्होंने यह जानकारी भी दी कि कुछ दिन पहले यूपी सरकार ने भी कई युवाओं को नियुक्ति पत्र दिया है। इसके अलावा उन्होंने यह भी बताया कि पिछले एक महीने में जम्मू-कश्मीर, मैसेज, अंडमान निकोबार द्वीप समूह, लक्षद्वीप, दादरा और नगर मेले, दमन और दीव और चंडीगढ़ में भी रोजगार मेले में हजारों युवाओं को नौकरी दी गई है। वहीं 24 नवंबर को गोवा सरकार भी इसी तरह के रोजगार मेले का आयोजन कर रही है। 28 नवंबर को त्रिपुरा सरकार भी ऐसे ही मेले का आयोजन कर रही है। ये डबल इंजन की सरकार का फ़ायदा है।

करोड़ों नौजवान इस देश की सबसे बड़ी ताकत

पीएम मोदी ने कहा कि देश के युवाओं को रोजगार मेले के मीडिया से नियुक्ति पत्र देने का यह अभियान ऐसे ही अनवरत जारी रहेगा। पीएम मोदी ने कहा, भारत जैसे देश में हमारे करोड़ों नौजवान इस देश की सबसे बड़ी ताकत हैं। अपने युवाओं की प्रतिभा और उनके ऊर्जा राष्ट्र निर्माण में अधिक से अधिक उपयोग में आए इसे केंद्र सरकार सर्वोच्च प्राथमिकता दे रही है।

देशवासियों ने मिलकर भारत को विकसित बनाने का लिया प्रण

पीएम मोदी नौकरी करने वाले युवाओं से कहा, आपकी यह नई जिम्मेदारी एक विशेष अवधि में मिल रही है। अमृत ​​काल में प्रवेश कर चुका है। हम देशवासियों ने मिलकर इस अमृत काल में भारत को विकसित बनाने का प्रण लिया है। इस प्रण की प्राप्ति में आप सभी देश के सारथी बन रहे हैं।

PM ने कर्मयोगी भारत प्लेटफॉर्म का लाभ लेने का किया आह्वान

युवाओं को देश की सबसे बड़ी शक्ति वाले पीएम मोदी ने कहा कि सरकार के युवाओं की प्रतिभा और ऊर्जा का उपयोग करने को सर्वोच्च प्राथमिकता दे रहे हैं। उन्होंने नव-नियुक्त कर्मियों से दक्षता बढ़ाने के लिए ज्ञान अन्या करने, कौशल विकास और क्षमता निर्माण पर ध्यान देने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि कर्मयोगी भारत मंच पर कई कोर्स विकल्प होंगे जिससे नव-कर्मचारियों की प्रगति में सहायता मिलेगी। पीएम मोदी ने कहा कि कर्मयोगी भारत टेक्नोलॉजी प्लेटफॉर्म लॉन्च किया गया है, इसमें कई तरह के कोर्स उपलब्ध हैं। कर्मयोगी भारत प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध ऑनलाइन कोर्सेज का निश्चित रूप से लाभ मिलेगा।

देश में विश्व का मैन्युफैक्चरिंग सेंटर बनने की क्षमता

आने वाले दशकों में देश को विकसित करने के भारत के प्रयासों के बारे में पीएम मोदी ने कहा कि वैश्विक के प्रगति पथ के बारे में आशावान हैं। उन्होंने कहा कि देश में विश्व का मैन्युफैक्चरिंग सेंटर बनने की क्षमता है। पीएम मोदी ने इस बात पर बल दिया कि कुशल श्रम शक्ति इस दिशा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार के प्रयासों के कारण सरकारी और निजी क्षेत्र में नए रोजगार के अवसर लगातार बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि उत्पादन से संबंधित प्रोत्साहन योजना, मेक इन इंडिया, लोक फोर ग्लोबल, ड्रोन और अंतरिक्ष क्षेत्रों में युवाओं को कई नए रोजगार देने के अवसर अर्जित करने की क्षमता है।

युवाओं को रोजगार देना सरकार की पहली प्राथमिकता

गौरतलब है कि पिछले महीने भी रोजगार मेले के माध्यम से करीब 75 हजार नए लोगों को नियुक्ति पत्र मिले हैं। आज जिन लोगों को नियुक्ति पत्र सौंपे गए हैं, उनका नियुक्ति शिक्षक, प्रवक्ता, नर्स, नर्सिग अधिकारी, डॉक्टर, वरीयता, रेडियोग्राफर आदि के रूप में हुई है। इन पदों को केंद्रीय गृह मंत्रालय और केंद्रीय सशस्त्र बल पुलिस बल के माध्यम से भरा गया है। उल्लेखनीय है कि पीएम मोदी हर मंच से यह कह रहे हैं कि युवाओं को रोजगार देना सरकार की पहली प्राथमिकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.