NationalWheels

15 साल बाद भारत ने एडिलेड में आस्ट्रेलिया को धोया, 31 रन से जीता पहला टेस्ट मैच

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच एडिलेड में खेले गए पहले टेस्ट में टीम इंडिया ने इतिहास रचते हुए ऑस्ट्रेलिया को 31 रन से हरा दिया. भारतीय टीम द्वारा दिए गए 323 रन के लक्ष्य के जवाब में ऑस्ट्रेलिया की पूरी पारी 291 रन पर सिमट गई। पांचवे दिन ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने थोड़ा संघर्ष करने की कोशिश जरूर की लेकिन भारतीय गेंदबाजों से पार नहीं पा सके। 

कैसा रहा 5वें दिन का खेल
5वें दिन भारत को जीत के लिए 6 विकेट की दरकार थी तो ऑस्ट्रेलिया को 219 रन बनाने थे। भारत को पहली सफलता के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ा और इशांत शर्मा ने पहली पारी के हीरो ट्रेविस हेड को अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच आउट करवा दिया।

इसके बाद कप्तान टिम पेन और शॉन मार्श ने थोड़ा संघर्ष किया लेकिन उनकी ये कोशिश नाकाफी साबित हुई। जसप्रीत बुमराह ने भारत को दिन की सबसे बड़ी सफलता दिलाते हुए शॉन मार्श को विकेटकीपर रिषभ पंत के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद बुमराह ने ही ऑस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन को भी पवेलियन भेज दिया। फिर, मोहम्मद शमी ने मिचेल स्टार्क को आउट कर भारत को 8वीं सफलता और मैच पर पकड़ दिलाई। जसप्रीत बुमराह ने सेट बल्लेबाज पैट कमिंस को आउट कर ऑस्ट्रेलिया की उम्मीद धूमिल कर दी और आखिर में अश्लिन ने हेजलवुड को आउट कर ऑस्ट्रेलिया की पारी 291 पर ऑल आउट कर कर दी।
भारत ने ऐसे बनाए 307 रन
इससे पहले भारत ने सुबह तीन विकेट पर 151 रन से आगे खेलना शुरू किया। पुजारा और रहाणे ने चौथे विकेट के लिए 87 रन की साझेदारी करके ऑस्ट्रेलियाई आक्रमण को बैकफुट पर रखा। पहली पारी में शतक जड़ने वाले पुजारा ने दिन के शुरू में ही दो चौके लगाकर सकारात्मक अंदाज में शुरुआत की। रहाणे 74वें ओवर में डीआरएस के सहारे कैच आउट होने से बचे।
उस समय गेंद उनके बल्ले से नहीं लगी थी। पुजारा ने 140 गेंदों पर अपना 20वां अर्धशतक पूरा किया। ऑस्ट्रेलिया ने 80 ओवर के तुरंत बाद नई गेंद ली लेकिन स्टार्क का अपनी गेंदों पर पूरी तरह से नियंत्रण नहीं था।

एडिलेड में दुहराया इतिहास

यह वही एडीलेड का मैदान है जहां 2003 में राहुल द्रविड़ की साहसिक पारी से भारत ने ऐतिहासिक सफलता हासिल की थी. करीब 15 वर्ष बाद फिर एडिलेड के मैदान पर भारत ने जीत हासिल कर इतिहास हो दुहराया है. इस बार राहुल द्रविड़ का काम चेतेश्वर पुजारा ने किया. नंबर तीन पर खेलते हुए चेतेश्वर ने शतक जड़कर भारत को मजबूत स्थितिि में पहुंचा दिया. चेतेश्वर को प्लेयर अॉफ द मैच चुना गया है.

https://twitter.com/BCCI/status/1072001630688530433

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

NationalWheels will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.