National Wheels

13 महीने से अटका है धन्नीपुर वाली मस्जिद का नक्शा

13 महीने से अटका है धन्नीपुर वाली मस्जिद का नक्शा

अयोध्या मस्जिद ट्रस्ट की परियोजना को मंजूरी देने की प्रक्रिया तेज कर रहे है-विशाल सिंह उपाध्यक्ष

आईआईसीएफ के अध्यक्ष जफर फारूकी ने एक प्रतिनिधिमंडल के साथ की एडीए उपाध्यक्ष से भेंट

अयोध्या। श्रीराम मंदिर का निर्माण युद्धस्तर पर जारी है तो धन्नीपुर में बनने वाली मस्जिद का नक्शा 13 महीने से अटका पड़ा है। इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ने 25 मई 2021 को 11 सेट में नक्शा अयोध्या विकास प्राधिकरण यानी एडीए में जमा किया था। इसी सिलसिले में सुन्नी वक्फ बोर्ड के चेयरमैन और इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन के अध्यक्ष जफर फारूकी ने एक प्रतिनिधिमंडल के साथ एडीए उपाध्यक्ष विशाल सिंह से मुलाकात की। इसमें इसे मंजूरी देने की संभावनाओं पर बात की।

मुलाकात की दौरान प्राधिकरण उपाध्यक्ष विशाल सिंह ने कहा, “हम अयोध्या मस्जिद ट्रस्ट की परियोजना को मंजूरी देने की प्रक्रिया तेज कर रहे हैं। मस्जिद की परियोजना राम मंदिर की परियोजना जितनी ही महत्वपूर्ण है। उम्मीद है कि जल्द ही मस्जिद परियोजना का काम शुरू हो जाएगा।” सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर प्रदेश सरकार ने अयोध्या मस्जिद के लिए सोहावल के पास धन्नीपुर में 5 एकड़ जमीन दी है।

बता दे कि धन्नीपुर में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर दी गई 5 एकड़ भूमि पर एक मस्जिद और अन्य सुविधाएं विकसित की जानी हैं। इसमें 300 बेड का सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल, एक सामुदायिक रसोई का निर्माण किया जाना है।

इसके अलावा, स्वतंत्रता सेनानी शहीद मौलवी अहमदुल्ला शाह के नाम पर एक शोध केंद्र और एक मस्जिद का निर्माण किया जाना है। इसकी कैपेसिटी दो हजार नमाजियों की होगी। इस नक्शे को पास कराने की प्रोसेसिंग फीस 5 लाख जमा किए जा चुके हैं।

इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन के सचिव अतहर हुसैन ने कहा, “हमने एडीए उपाध्यक्ष के साथ बैठक की। हमें उम्मीद है कि जल्द ही मस्जिद परियोजना शुरू करने के लिए प्राधिकरण से मंजूरी मिल जाएगी।” उन्होंने आगे कहा, “हमने ड्राइंग यानी नक्शा से संबंधित मुद्दों पर उपाध्यक्ष और टाउन प्लानर गोर्की से चर्चा की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.