Nationalwheels

10% आरक्षणः हिन्दुओं ही नहीं, मुस्लिम सवर्ण गरीबों को मिलेगा इसका लाभ

10% आरक्षणः हिन्दुओं ही नहीं, मुस्लिम सवर्ण गरीबों को मिलेगा इसका लाभ
न्यूज डेस्क, नेशनलव्हील्स       
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सामान्य वर्ग में आने वाले आर्थिक रूप से कमजोर तबके को नौकरी और शिक्षा में 10 फीसदी आरक्षण देने का फैसला किया है. सोमवार को केंद्रीय कैबिनेट से हुए इस फैसले में धर्म की अड़चन नहीं रखी गई है. यानी सामान्य श्रेणी में आने वाले देश के हर गरीब नागरिक को इस व्यवस्ता का लाभ मिलेगा. इसमें हिन्दू से लेकर मुस्लिम और ईसाई तक सभी धर्मों के गरीब सवर्ण शामिल हैं.
सूत्रों के मुताबिक कैबिनेट में सोमवार को जो फैसला लिया गया है, उसमें आरक्षण की मौजूदा व्यवस्था का फायदा पाने वाले किसी भी जाति वर्ग को इसका लाभ नहीं मिलेगा. यानी ओबीसी या एससी-एसटी आरक्षण का जो लोग फायदा उठा रहे हैं, वे नई व्यवस्था में शामिल नहीं किए जाएंगे. सूत्रों के मुताबिक सरकार ने अपने फैसले को धर्म से परे रखते हुए हर संप्रदाय के सामान्य श्रेणी वाले गरीब को इस आरक्षण का लाभ पहुंचाने का फैसला लिया है.
इन तबकों को मिलेगा आरक्षण का लाभ
-अगर कोई मुस्लिम सामान्य श्रेणी में आता है और वह आर्थिक रूप से कमजोर है तो उसे 10 फीसदी आरक्षण का फायदा मिलेगा.
– इनके अलावा दूसरे धार्मिक अल्पसंख्यकों के सामान्य श्रेणी वाले गरीबों को भी आरक्षण दिया जाएगा.
– जिनकी सालाना आय 8 लाख से कम हो.
– जिनके पास 5 हेक्टेयर से कम की खेती की जमीन हो.
– जिनके पास 1000 स्क्वायर फीट से कम का घर हो.
– जिनके पास निगम की 109 गज से कम अधिसूचित जमीन हो.
– जिनके पास 209 गज से कम की निगम की गैर-अधिसूचित जमीन हो.
– जो अभी तक किसी भी तरह के आरक्षण के अंतर्गत नहीं आते थे.
मौजूदा आरक्षण व्यवस्था के तहत अनुसूचित जाति (SC) को 15 फीसदी, अनुसूचित जनजाति (ST) को 7.5 फीसदी और अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) को 27 फीसदी आरक्षण दिया जाता है. यानी कुल 49.5 फीसदी आरक्षण की व्यवस्था अभी लागू है. अब सरकार ने इससे अलग सामान्य श्रेणी वाले गरीबों को 10 फीसदी आरक्षण का निर्णय लिया है. इसके लिए सरकार संविधान में संशोधन करने जा रही है.

 

ये भी पढ़ें:  गरीब सवर्णों को भी 10 फीसद आरक्षण

 

Nationalwheels India News YouTube channel is now active. Please subscribe here

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *