National Wheels

सीकर पुलिस ने नकली नोट बनाने वाले दो शातिर पटियाला से किए गिरफ्तार


Rajasthan Fake Currency: राजस्थान के सीकर (Sikar) में पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल करते हुए नकली नोट (Fake Currency) बनाने वाले गिरोह के सरगना और असिस्टेंट को पंजाब (Punjab) से गिरफ्तार किया है. पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि नकली नोट बनाने वाले गैंग के सरगना संदीप मेहरा सरदार और उसके एक सहयोगी जसप्रीत उर्फ जससा को पंजाब के पटियाला से रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है. आरोपियों को जांच अधिकारी व रानोली थानाधिकारी व उनकी टीम ने दबोचा.

पुलिस पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया कि उन्होंने यूट्यूब देखकर नकली नोट बनाना सीखा था. वे सिर्फ 12वीं तक ही पढ़े हुए हैं. दोनों आरोपी यूपी, दिल्ली, बिहार राजस्थान, पंजाब और हरियाणा समेत कई राज्यों में करोड़ो रुपये के नकली नोट सप्लाई कर चुके हैं. पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 1.77 लाख रुपये के नकली नोट के साथ नकली नोट बनाने वाला प्रिंटर, स्याही और नोट पर लगाने वाली सिक्योरिटी थ्रेड, कटर मशीन, लैपटॉप व अन्य सामान भी जब्त किए हैं.

यूट्यूब से नकली नोट बनाना सीखा था
पुलिस ने ये भी बताया कि नकली नोट बनाने वाले गिरोह का मुखिया संदीप मेहरा सदार नाला संगरुय में एक फैक्ट्री में काम करता था. उसने यूट्यूब से नकली नोट बनाना सीखकर सैंचरु कॉलोनी में एक कमरा किराये पर लिया और फिर अपने एक दोस्त जसप्रीत को भी इस गोरखधंधे में शामिल कर लिया. जसप्रीत वेटेनरी कंपाउंडर का काम करता है. संदीप मेहरा सरदार और जसप्रीत की जोड़ी पिछले 6 से 7 महीने से नकली नोट बनाकर तमाम राज्यों में सप्लाई कर रही थे.

रात में भी नकली नोट छापकर कर लेते थे तैयार
पुलिस ने आगे बताया कि दोनों आरोपियों ऑर्डर मिलते ही रात में ही नकली नोट छापकर तैयार कर लेते थे. अगर ज्यादा ऑर्डर मिलते थे तो ये दो दिन के भीतर अपना काम पूरा कर लेते थे। पुलिस ने बताया कि रानोली थाना पुलिस ने नकली नोट देने वाले राजगढ़ के एक निवासी संदीप शर्मा की कॉल डिटेल्स खंगाली थी. इसके बाद पुलिस उसे पटियाला लेकर गई और वहां से गिरोह के सरगना और उसके साथी को गिरफ्तार कर लिया. फिलहाल पुलिस आगे की कानूनी कार्रवाई में जुट गई है.

ये भी पढ़ें

KK Shailaja: केरल की पूर्व स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने ठुकराया रेमन मैग्सेसे पुरस्कार, ये है बड़ी वजह

बिजली बिल का आया फर्जी मैसेज, लिंक पर क्लिक करते ही कटे 1 लाख 68 हजार रुपये

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.