National Wheels

शुभमन के दोहरे शतक से हार गया न्यूजीलैंड, ब्रेकवेल ने बढ़ा दी थी भारतीयों की धुकधुकी

शुभमन के दोहरे शतक से हार गया न्यूजीलैंड, ब्रेकवेल ने बढ़ा दी थी भारतीयों की धुकधुकी

भारत ने न्यूजीलैंड को एकदिवसीय मैच में 12 रनों से अंतिम ओवर में पराजित कर दिया। हैदराबाद में खेले गए पहले एक दिनी मुकाबले में भारत ने न्यूजीलैंड के सामने 350 रनों का लक्ष्य निर्धारित किया था। मध्यक्रम के पुछल्ले बल्लेबाज के रूप में आए ब्रेकवेल ने 10 छक्कों और 12 चौकों की मदद से 78 गेंदों में 140 रन बनाकर अंतिम क्षणों में भारतीयों की धुकधुकी बढ़ा थी। भारत की तरफ से ओपनर शुभमन गिल ने 208 रन बनाए। शुभमन ने 149 गेंदों में 9 छक्कों और 19 चौकों की मदद से दोहरा शतक लगाकर सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, रोहित शर्मा, ईशान किशन के क्लब में नाम दर्ज करा लिया। भारतीय टीम से अन्य कोई बल्लेबाज अर्धशतक भी नहीं बना सका। भारत की ओर से 4 विकेट लेकर सिराज सबसे सफल गेंदबाज साबित हुए हैं।

भारत की ओर से पारी की शुरुआत कप्तान रोहित शर्मा ने की। रोहित ने 2 छक्का और चार चौके लगाकर 34 रन बनाया। सूर्य कुमार यादव ने चार चौका से 31 रन, हार्दिक पांड्या ने तीन चौके से 28 रन और वाशिंग्टन सुंदर ने 12 रन बनाए। अन्य कोई बल्लेबाज दहाई की संख्या नहीं छू सका। पिछले मैच के शतकवीर विराट कोहली 8 रन, किशन 5 रन, ठाकुर तीन, कुलदीप पांच और शमी ने दो रन बनाए थे। 13 रन अतिरिक्त बने।

न्यूजीलैंड की तरफ से मिचेल और शिप्ले ने दो-दो विकेट, फर्ग्यूसन, टिकनेर और सेन्टनर ने एक-एक विकेट लिए।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की शुरुआत ही ठीक नहीं रही। एलन (40 रन) के साथ पारी की शुरुआत करने उतरे कन्वे 10 रन बनाकर मोहम्मद सिराज की गेंद पर कुलदीप यादव को कैच थमा बैठे। निकोलस 18, मिचेल 9, कप्तान लाथेन 24 और जी फिलिप्स 11 रन बनाकर पैवेलियन लौट चुके थे। 28.4 ओवर में 131 रन पर छह विकेट गंवाकर न्यूजीलैंड हार के मुहाने पर खड़ी थी। इसके बाद क्रीज पर आए एम. ब्रेकवेल और एम. सेन्टनर ने पूरा परिदृश्य बदल दिया। सेन्टनर ने 45 गेंदों मे सात चौका और एक छक्का लगाकर 57 रन बनाया।

सभी जतन कर निराश दिख रहे रोहित ने 45वें ओवर में सिराज को गेंद थमाई। ओवर की तीसरी गेंद पर सेन्टनर सूर्य कुमार को कैच थमा बैठे। अगली गेंद पर शिप्ले बोल्ड हो गए। इससे भारत फिर मजबूत दिखनेशलगा लेकिन एक छोर पर डटे ब्रेकवेल लगातार छक्कों से भारतीय समर्थकों को भयभीत करते रहे। एल फर्ग्यूसन ने आठ रन बनाए। अंतिम ओवर में 19 रन बनाने थे। शार्दूल ठाकुर की पहली ही गेंद पर ब्रेकवेल ने छक्का जड़ दिया। पांच गेंदों में 13 रन और सामने फर्ग्यूसन का बल्ला ! भारतीय समर्थक नजरे गड़ाए एकटक पिच को निहार रहे थे कि दो छक्के यदि और लगे तो मैच हाथ से गया। शार्दूल ने हिम्मत नहीं हारी। अंतिम ओवर की दूसरी गेंद बिल्कुल सीधी डाली और ब्रेकवेल एलबीडब्ल्यू हो गए। साथ ही भारतीय खिलाड़ी और समर्थक झूम उठे।

 

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.