National Wheels

लव रंजन के प्रोडक्शन हाउस पर लगा श्रद्धा-रणबीर स्टारर के बकाया पैसे न देने का आरोप


Lov Ranjan On Non-payment Dues: फिल्म निर्माता लव रंजन ने एक बयान जारी कर अपने प्रोडक्शन हाउस, लव फिल्म्स के खिलाफ श्रमिकों को बकाया भुगतान न करने के आरोपों का खंडन किया. ऐसी खबरें आ रही थी कि निर्देशक ने रणबीर कपूर और श्रद्धा कपूर अभिनीत आगामी लव रंजन फिल्म के सेट पर काम करने वाले श्रमिकों को पारिश्रमिक का भुगतान नहीं किया.

अब लव रंजन ने एक आधिकारिक बयान में कहा, “हम यह बताना चाहेंगे कि एफएसएसएएमयू ( FSSAMU) द्वारा जारी प्रेस बयान झूठा, मनगढ़ंत और अवैध है और यह कानून के अधिकार के बिना बनाया गया है. हम सच को रिकॉर्ड में रखना चाहते हैं. इस मामले को ध्यान में रखते हुए और बताते हैं कि हमने अपनी एक परियोजना के लिए संविदात्मक व्यवस्था के अनुसार, बिना किसी बकाया के पूरा भुगतान कर दिया है, जिसमें सेवा प्रदाता एक प्रोडक्शन डिजाइनर, श्री दीपांकर दासगुप्ता हैं, और यह वास्तव में श्रीमान थे. दीपांकर दासगुप्ता के साथ हाइपरलिंक ब्रांड सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड और श्री दीपांकर दासगुप्ता के सहयोगी, अर्थात्, श्री वी.जी. जयशंकर, श्री वी.जी. जयराम, श्री गौतम जुकर और श्री प्रशांत विचारेव, जो वास्तव में श्रमिकों को भुगतान करने में चूक करते थे उनके द्वारा किराए पर लिया गया था, न कि हमारे द्वारा, जो तथ्य हमारे द्वारा FSSAMU को विभिन्न संचारों के साथ-साथ दस्तावेजी साक्ष्य के साथ विधिवत रूप से सूचित किया गया था, जो उपरोक्त व्यक्तियों को डिफ़ॉल्ट बनाता है न कि हमें.”

Liger Box Office Collection: पहले ही वीकेंड पर विजय देवरकोंडा की फिल्म का हुआ बुरा हाल, किया इतना कलेक्शन

FSSAMU पर लगाए आरोप

बयान में आगे कहा गया, ”हम यह बताना चाहेंगे कि हमारे और श्री दीपांकर दासगुप्ता द्वारा/के माध्यम से किराए पर लिए गए व्यक्तियों/कर्मचारियों के बीच कोई नियोक्ता-कर्मचारी संबंध नहीं है और इस तरह उन्हें या एफएसएसएएमयू के पास हमारे साथ किसी भी मुद्दे या विवाद को उठाने का कोई अधिकार नहीं है. इस तथ्य से पूरी तरह अवगत है कि हमने उक्त व्यक्तियों के खिलाफ पुलिस शिकायत भी दर्ज की थी, एफएसएसएएमयू, तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर पेश कर रहा है, झूठ का प्रचार कर रहा है, हमें परेशान कर रहा है और हमें धमका रहा है और संदिग्ध उद्देश्यों के लिए जानबूझकर केवल हमें ही निशाना बना रहा है, श्रीमान को नहीं. दीपांकर दासगुप्ता और उनके उक्त सहयोगी, जो डिफ़ॉल्ट रूप से वास्तविक व्यक्ति हैं. मानहानिकारक सार्वजनिक बयान जारी करने, डराने-धमकाने, हमारे सदस्यों को हमारे साथ सहयोग न करने के लिए उकसाकर हमारी शूटिंग में बाधा डालने और देरी करने के FSSAMU के कृत्य, FSSAMU द्वारा अपनाए गए अनुकूल ‘मोडस ऑपरेंडी’ की तरह प्रतीत होते हैं. हमारे खिलाफ इस तरह के अनुचित, अनुचित और शत्रुतापूर्ण तरीके से कार्य करना एफएसएसएएमयू के लिए अनुचित है, और हमारे खिलाफ सार्वजनिक रूप से धमकी भी दे रहा है कि वे हमें उद्योग में काम करने से रोकेंगे और श्रमिकों को हमारे साथ काम करने से रोकेंगे, और इस तरह के कृत्यों FSSAMU के परिणामस्वरूप हमें अपूरणीय क्षति और क्षति हुई है, जिसमें मानसिक उत्पीड़न और पीड़ा, और हमारी छवि और सद्भावना को खराब करना शामिल है.”

बयान में कहा गया, “हम उद्योग में अच्छी प्रतिष्ठा के निर्माता हैं, कई फिल्मों का निर्माण किया है, जिन्होंने श्रमिकों और मजदूरों के लिए महत्वपूर्ण राजस्व उत्पन्न किया है और हमारे द्वारा किराए पर लिए गए व्यक्तियों के साथ हमारे व्यवहार में हमेशा निष्पक्ष हैं. उपर्युक्त के आलोक में, हम एफएसएसएएमयू और उसके पदाधिकारियों के खिलाफ उचित कानूनी (आपराधिक और नागरिक) कार्रवाई करने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं, हमारे खिलाफ आपराधिक मानहानि और धमकी भरे कृत्यों सहित, जो पूरी तरह से अनुचित और गैरजरूरी हैं, ऊपर बताए गए सभी कृत्यों को करने के लिए कोई तथ्यात्मक सटीकता नहीं है.”

IND VS PAK: कार्तिक आर्यन से अभिषेक बच्चन तक, बॉलीवुड सेलेब्स ने इस तरह मनाया भारत की जीत का जश्न



administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.