National Wheels

रेल यात्रा वृत्तांत लिखकर आप भी जीत सकते हैं ₹10000 का ईनाम

रेल यात्रा वृत्तांत लिखकर आप भी जीत सकते हैं ₹10000 का ईनाम

अखिल भारतीय स्तर की रेल यात्रा वृत्तांत पुरस्कार प्रतियोगिता हो रही आयोजित। योजना में रेलकर्मी सहित कोई भी भारतीय हिस्सा लेकर पुरस्कार जीत सकते हैं।

जबलपुर। भारत का हर नागरिक अपने जीवनकाल में अनेकों बार रेल से सफर करता है और रेल यात्राओं की सुखद अनुभूतियाॅं उनके जेहन में रची बसी रहती हैं। रेल यात्रा की इन्हीं मधुर स्मृतियों को अब आप लिखकर पुरस्कार भी जीत सकते हैं। रेल मंत्रालय (रेलवे बोर्ड) द्वारा रेलकर्मियों सहित सभी भारतीयों के लिए अखिल रेलवे स्तर पर रेल यात्रा वृत्तांत पुरस्कार योजना प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है। इसका उद्देश्य रेल सुविधाओं को बेहतर बनाने तथा हिंदी के प्रयोग प्रसार को बढ़ावा देना भी है। इस योजना के विजेताओं को नकद राशि एवं प्रशस्ति-पत्र प्रदान किए जाएंगे। इसके अन्तर्गत एक प्रथम पुरस्कार रूपये 10,000/-, एक द्वितीय पुरस्कार रूपये 8000/-, के अलावा एक तृतीय पुरस्कार रूपये 6000/- प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा पाॅंच प्रेरणा पुरस्कार जिसमें प्रत्येक को 4000/- रूपए प्रदान किये जाएंगे।

पश्चिम मध्य रेलवे के जनसम्पर्क विभाग द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया कि पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर, भोपाल एवं कोटा मण्डलों में कार्यरत रेल अधिकारी/कर्मचारी आगामी 01 अगस्त 2022 तक संबंधित मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय, के राजभाषा विभाग में किसी भी कार्य दिवस में अपनी प्रविष्टियाॅं जमा कर सकते हैं। इसके अलावा कोई भी भारतीय अपनी प्रवष्टि दो प्रतियों में 31 अगस्त 2022 तक सहायक निदेशक, हिंदी (प्रशिक्षण) कमरा नं. 536-डी, रेल मंत्रालय (रेलवे बोर्ड), रायसीना रोड, नई दिल्ली-110001 को निरपवाद रूप से सीधे भेज सकते हैं ।

प्रतिभागियों के लिए ध्यान देने योग्य कुछ प्रमुख बिन्दु

 रेल यात्रा वृत्तांत हिंदी भाषा में एवं मौलिक होना चाहिए।
 न्यूनतम 3000 शब्द तथा अधिकतम 3500 शब्दों तक होना चाहिए।
 रेल यात्रा वृत्तांत डबल स्पेस में टाइप किया तथा जिसके चारों तरफ एक इंच का हाशिया होना चाहिए।
 पृष्ठ क्रमानुसार अंकित होने चाहिए।
 वृत्ताँत के प्रारंभ में कागज की एक पूरी शीट पर बड़े अक्षरों में नाम, पदनाम, आयु, कार्यालय/निवास का पता, मातृभाषा, मोबाईल नं., ई-मेल, वृत्तांत के शब्दों की कुल संख्या आदि उल्लेखित होना चाहिए।
इस योजना में भाग लेने के इच्छुक केंद्रीय अथवा राज्य सरकार की सेवा में कार्यरत अधिकारियों/कर्मचारियों को इस आशय का घोषणा पत्र देना होगा कि उनके विरुद्ध किसी भी प्रकार का सतर्कता/अनुशासन एवं अपील नियम से संबधित मामला लंबित या विचाराधीन नहीं है। जो आवेदक सरकारी सेवा में नहीं हैं इन्हे इस आशय का घोषणा पत्र देना होगा कि उनके खिलाफ न तो किसी भी प्रकार का आपराधिक मामला चल रहा है और न ही ये किसी प्रकार की सजा भुगत रहे हैं। इसके अतिरिक्त सभी प्रतिभागियों को घोषणा पत्र में यह भी उल्लेख करना होगा कि — ‘‘सम्बंधित रेल यात्रा वृत्तांत मेरी मौलिक रचना है, इसे किसी अन्य पुरस्कार योजना के अंतर्गत पुरस्कृत नहीं किया गया है।”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.