National Wheels

रेलवे सुपरवाईजर्स कैडर्स को मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, जानिए किसे क्या मिला ?

रेलवे सुपरवाईजर्स कैडर्स को मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, जानिए किसे क्या मिला ?

प्रयागराज  : भारतीय रेलवे के सुपरवाईजर्स कैडर को मोदी सरकार की तरफ से ऐतिहासिक तोहफा मिला है। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव के प्रयासों ने सुपरवाइजर्स को ग्रेड-4800 और ग्रेड पे-5400 में पदोन्नति का मार्ग खोल दिया है। सुपरवाईजर्स कैडर को दो चरणों इस पदोन्नति का लाभ मिलेगा। पहले चरण में 50:50 औसत से ग्रेड-पे 4600 और 4800 में रखा जाएगा। लेवल-8 में चार वर्ष की सेवा के बाद लेवल-9 यानि ग्रेड पे 5400 में पदोन्नति मिलेगी। इसके बाद सुपरवाईजर्स कैडर्स 50:25:25 के आधार पर कार्य करेगा। एक दिसंबर 2022 से नई व्यवस्था लागू की गई है। वित्त मंत्रालय ने रेल मंत्रालय के प्रस्ताव पर मुहर लगा दिया है। एआईआरएफ के महामंत्री ने गर्मजोशी दिखाते हुए इसके लिए पीएम और रेलमंत्री का आभार जताया है।

रेल बोर्ड की डिप्टी डायरेक्टर पे कमीशन-7 जया कुमार की तरफ से गुरुवार को पत्र जारी किया गया है। इसमें वित्तीय सुपरवाईजर्स कैडर्स के वित्तीय अपग्रेडेशन का विस्तृत विवरण दिया गया है।

इस आदेश के अनुसार रेलवे के विभिन्न विभागों 46 श्रेणियों में सुपरवाईजर्स कार्य कर रहे हैं। इसमें बड़ी संख्या सीनियर सेक्शन इंजीनियर्स की है, जो सिविल इंजिनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, एसएंडटी इंजीनियरिंग, स्टोर्स आदि में हैं। कामर्शियल विभाग में सीएमआई, चीफ कंट्रोलर, स्टेशन मैनेजर, चीफ यार्ड मास्टर, ट्रैफिक इंस्पेक्टर, सीआरएस, कामर्शियल सुपरिटेंडेंट, चीफ टिकट इंस्पेक्टर, चीफ बुकिंग सुपरवाईजर्स आदि पद हैं।

रेलवे ने कहा है कि पहले चरण में सुपरवाईजर्स के 50:50 फीसदी पद ग्रेडपे 4600 और 4800 में रखे जाएंगे। बाद में ग्रेडपे 4800 के 25% पद को ग्रेडपे 5400 में पदोन्नत कर दिया जाएगा।

रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव ने डीआरएम की वीडियो कांग्रेस में इस बड़े फैसले की जानकारी दी। साथ ही कहा कि अपने-अपने क्षेत्रों में पहुंचकर तत्काल सुपरवाईजर्स को विस्तृत जानकारी दें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.