National Wheels

यहां भी खुदा है … वहां कल खुदेगा…

यहां भी खुदा है … वहां कल खुदेगा…

प्रमोद शुक्ला

“यहां भी खुदा है, वहां भी खुदा है..
जहां नहीं खुदा है, वहां कल खुदेगा..”
नरेंद्र मोदी की यह बात तो आपने सुनी ही होगी। हो सकता है कि यह कहते हुए वायरल हुआ उनका वीडियो भी देखा होगा पिछले दिनों…। यह जो ताजी तस्वीर आप देख रहे हैं, ये जापान से आई है… इसमें आगे आगे मोदी के साथ स्वाभाविक रूप से मेजबान देश जापान के प्रधानमंत्री चल रहे हैं, और अमेरिका के राष्ट्रपति बिडेन सहित तमाम सारे राष्ट्राध्यक्ष पीछे पीछे चल रहे हैं। मोदी जी की यह फोटो कोई फोटोशॉप से नहीं बनाई हुई है, बल्कि यही आज का यथार्थ है… विरोधी दलों के नेता इसे पचा नहीं पा रहे हैं।

अफवाह फैला रहे हैं कि यह फोटोशॉप से तैयार की गई तस्वीरें हैं,, परंतु सत्य यही है कि यह फोटो बिल्कुल ओरिजिनल है,,, आज के ये जो हालात आप देख रहे हैं, तमाम सारे राष्ट्राध्यक्षों की बाडी लैंग्वेज देखिए और मोदी जी की बॉडी लैंग्वेज देखिए… आपको गर्व होगा भारत के इस प्रधानमंत्री पर…

मैंने तो बहुत पहले ही इनकी कुंडली का विश्लेषण करते हुए बताया था कि धैर्य रखिए थोड़ा सा,, सूर्य की अंतर्दशा आने दीजिए.. फिर देखिएगा मोदीजी का जलवा और उनका तेवर भी,,, पिछले दिनों उनका जो वीडियो आपने देखा वह उनका तेवर था,,, “यहां भी खुदा है, वहां भी खुदा है, (काशी में भी खुदा है, यूक्रेन में भी खुदा है) और जहां नहीं खुदा है वहां कल खुदेगा”… अंतरराष्ट्रीय मंचों पर उनके जलवे भी आप देख सकते हैं इन तस्वीरों में,,, ज्योतिष को यदि आप थोड़ा भी समझते हैं तो मोदी जी की कुंडली से भी इसके पीछे छिपे हुए रहस्यों को समझ सकते हैं।

इसके लिए आपको लग्न कुंडली के साथ-साथ नवमांश और चलित चार्ट पर भी गौर करना होगा। लग्नेश शुक्र नवमांश में भी सिंह राशि पर होकर वर्गोत्तमी हो गये हैं,, अर्थात बहुत ही मजबूत होकर लग्नेश शुक्र ने आय भाव में शनि के साथ प्रबल राजयोग बनाया है,, चलित कुंडली में सूर्य और बुध भी एकादश भाव में लग्नेश शुक्र का साथ देने आ गये हैं,, इससे स्थिति बहुत ही ज्यादा मजबूत हो गई है,, कुंडली की इसी मजबूती को प्रमाणित कर रही हैं जापान से आई यह तस्वीरें,,, ध्यान रहे कि गुरु महाराज पांचवें घर में बैठकर लग्न, लग्नेश और शनि, सूर्य व बुध पर भी अपनी शुभ दृष्टि डाल रहे हैं,, इससे कुंडली करीब-करीब अजेय हो गई है।

वर्तमान में चंद्रमा की महादशा है। चंद्रमा नीच का जरूर है परंतु साथ में उपस्थित मंगल ने उसका नीच भंग करते हुए प्रचंड राजयोग बना दिया है। एक और भी बहुत महत्वपूर्ण तथ्य कुंडली में छुपा है,, यह मंगल चलित कुंडली में लग्न में आ गया है। अर्थात केंद्र में होकर बहुत ही बलवान सेनापति हो गया है,, यह स्वगृही मंगल ही ऐसी विलक्षण नेतृत्व क्षमता दे रहा है जिसके कारण तमाम सारे राष्ट्राध्यक्षों के साथ ही अमेरिका जैसी महाशक्ति का राष्ट्राध्यक्ष भी मोदीजी के पीछे चलने के लिए विवश हो रहा है।

चंद्रमा की महादशा में सूर्य की अंतर्दशा के दौरान स्वाभाविक है कि मोदी जी का तेवर गर्म हुआ है,, वह तपन उनकी भाषा में भी महसूस की जा सकती है,, और वह गर्म तेवर इस पिक्चर में आप देख सकते हैं कि अमेरिका जैसी महाशक्ति का राष्ट्राध्यक्ष किस तरह से उनके पीछे पीछे चल रहा है,,,

इन्हीं राष्ट्राध्यक्षों में से कुछ लोग भारत के किसी प्रधानमंत्री को पहले कभी “देहाती औरत” कहा करते थे, वह प्रधानमंत्री कौन थे, आप सबको मालूम ही होगा, बताने की जरूरत नहीं है। आज बदले हुए भारत का यह प्रधानमंत्री दुनिया को नेतृत्व दे रहा है,,, तस्वीरों में राष्ट्रध्यक्षों की बॉडी लैंग्वेज इस बात को नकार नहीं सकती है।

(लेखक वरिष्ठ पत्रकार एवं ज्योतिषाचार्य हैं।)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.