National Wheels

भ्रष्टाचार पर चोट : देवरिया के दो और कौशांबी के एक बीईओ सस्पेंड

भ्रष्टाचार पर चोट : देवरिया के दो और कौशांबी के एक बीईओ सस्पेंड

लखनऊ : भ्रष्टाचार के आरोपों में देवरिया के दो और कौशांबी के एक खंड शिक्षा अधिकारी को स्कूल शिक्षा महानिदेशक ने सस्पेंड कर दिया है। इन सभी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी शुरू कर दी गई है। बीईओ कार्यालय में संबद्ध अनुदेशक पर भी कड़ी कार्रवाई की जा रही है।

इसके साथ ही यह संदेश भी दे दिया है कि स्कूलों में ही नहीं, खंड शिक्षा अधिकारियों के दफ्तरों में भी होने वाली व्यापक गड़बड़ियों पर कार्रवाई की जाएगी।

बेसिक शिक्षा विभाग ने पिछले दिनों विभिन्न स्तरों से शिकायतें मिलने पर महानिदेशक स्कूल शिक्षा कार्यालय ने समूह ‘ख’ अधिकारियों को देवरिया जिले में बीईओ कार्यालय के कामकाज का औचक निरीक्षण करने भेजा।

महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद ने बताया कि जांच रिपोर्ट मिलने पर देवरिया जिले के बरहज के खंड शिक्षा अधिकारी श्रीसुदामा, तारकुलवा के अजीतपाल और कौशांबी जिले के मूरतगंज के बीईओ मुकेश नारायण मिश्र को निलंबित करके अनुशासनिक कार्रवाई करने के आदेश अपर शिक्षा निदेशक बेसिक प्रयागराज को दिए हैं। बरहज कार्यालय में तैनात अनुदेशक पर भी कड़ी कार्रवाई होगी।

आरोप है कि जिलों में खंड शिक्षा अधिकारियों के अधिकतर कार्यालय भ्रष्टाचार का अड्डा बने हैं। शिक्षकों से साठगांठ करके खंड शिक्षा अधिकारियों (बीईओ) ने आफलाइन अवकाश देने में जमकर मनमानी की है। आरोप है कि ऐसे मामलों में 5-10 हजार रुपये तक वसूले जाते हैं।

स्कूलों का निरीक्षण, मानव संपदा पोर्टल पर स्पष्टीकरण, वेतन का एरियर भुगतान करने के नाम पर शिक्षकों का शोषण करने की शिकायतें जांच में सही मिली हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.