National Wheels

बायकॉट ट्रेंड पर भड़कीं Swara Bhasker, सुशांत सिंह राजपूत की मौत को ठहराया जिम्मेदार


Swara Bhasker On Boycott Trends : लंबे अर्से बाद स्वरा भास्कर (Swara Bhasker) कमल पांडे की निर्देशित फिल्म ‘जहान चार यार’ से बड़े पर्दे पर वापसी कर रही हैं. स्वरा की ये फिल्म उस वक्त रिलीज हो रही है जब बॉलीवुड की फिल्में सोशल मीडिया पर चल रहे बायकॉट ट्रेड के कारण बॉक्स ऑफिस पर औंधे मुंह गिर रही हैं. ऐसे में जब स्वरा से इस बारे में पूछा गया तो एक्ट्रेस ने बड़ी बेबाकी से जवाब दिया. स्वरा ने कहा कि वो असफलता का जश्न मनाने में भरोसा नहीं रखतीं. इसके अलावा स्वरा ने दावा किया कि बॉलीवुड के खिलाफ नफरत सुशांत सिंह की आत्महत्या के बाद से बढ़ी है. सुशांत के सुसाइड के बाद से ही बॉलीवुड को ड्रग्स, सेक्स और शराब में लिप्त दिखाया जा रहा है. 

लोग भूल गए हैं कि बॉलीवुड रोजगार दे रहा है – स्वरा
इंडिया टुडे के इंटरव्यू के दौरान स्वरा ने बताया कि अगर फिल्में बॉक्स ऑफिस पर अच्छा कर रही हैं तो ये सबके लिए अच्छा है. किसी की असफलता का जश्न मनाना या किसी की सफलता से ईर्ष्या करना अच्छी बात नहीं. आप किसी एक एक्टर को नापसंद कर सकते हैं. नेपोटिज्म के बारे में बात कर सकते हैं लेकिन लोग भूल जाते हैं कि ये किसी एक फिल्म या एक्टर की बात नहीं है. फिल्म इंडस्ट्री वास्तव में नौकरियां पैदा करती हैं. यह लोगों को रोजगार दे रही हैं. 

बॉलीवुड को नीचा दिखाना चाहते हैं लोग 
बॉलीवुड बायकॉट पर स्वरा ने कहा कि जो लोग सोशल मीडिया पर ये ट्रेंड चला रहे हैं वे बॉलीवुड को नीचे गिराना चाहते हैं. मुझे यह बहुत घटिया लगता हैं. मुझे लगता है कि अंधी नफरत लोग यह भूल गए हैं कि बॉलीवुड कई लोगों को रोजी-रोटी देता है.

साउथ में भी फिल्में खराब प्रदर्शन कर रही हैं 
बॉलीवुड और साउथ फिल्मों की तुलना करने पर स्वरा ने कहा कि आप आरआरआर, पुष्पा और केजीएफ के बारे में सुनते हैं क्योंकि साउथ में ये तीन फिल्में हैं जिन्होंने अच्छा किया है, लेकिन वहां भी इतनी फिल्में भी रिलीज हो रही हैं जो अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रही हैं. ऐसा नहीं है कि साउथ में रिलीज हुई हर फिल्म हिट होती है. आप उन लोगों के बारे में सुन रहे हैं जो हिट हो रही हैं. यहां तक कि बॉलीवुड में भी भूल भुलैया 2 और गंगूबाई ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है. 

फिल्मों का दोष नहीं है महंगाई ज्यादा है 
स्वरा कहती हैं कि मैंनें हाल ही में अनुराग कश्यप का इंटरव्यू देखा. जिसमें उन्होंने बहुत सही कहा है कि देश एक आर्थिक मंदी के दौर से गुजर रहा है, और जब सारी चीजें महंगी हो तो कोई फिल्मों पर पैसा नहीं खर्च करना चाहता है. तो पहली बात तो ये कि कोई भी इसके बारे में बात नहीं कर रहा है हर कोई बॉलीवुड को दोष दे रहा है, जैसे कि बॉलीवुड लोगों के थिएटर में नहीं आने के लिए जिम्मेदार है.

सुशांत की आत्महत्या और बॉलीवुड से नफरत 
उन्होंने आगे कहा, दूसरी बात ये कि कोविड के बाद लोग अपने घरों से बाहर नहीं जाना चाहते हैं. तीसरा कारण यह है कि ओटीटी आ गया है और लोग वहीं सबकुछ देख रहे हैं. चौथा कारण सुशांत की दुर्भाग्यपूर्ण और दुखद आत्महत्या के बाद है. बॉलीवुड को लेकर नफरत बढ़ी है. दुर्भाग्य से जिन लोगों को बॉलीवुड पसंद नहीं है वो बॉलीवुड को बदनाम कर रहे हैं. 

ये भी पढ़े-

Sonali Phogat Last Post: सोनाली फोगाट का अंतिम वीडियो आया सामने, कल रात शेयर किया था पोस्ट

Farhan Akhtar के प्रोडक्शन हाउस पर लगा Mirzapur 3 के वर्कर्स को पेमेंट न करने का आरोप, 20-25 लाख रुपए है बकाया

 

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.